गौरैया की कलाकृति कर रही है इंतजार

पटना:कंकड़बाग टेम्पो स्टैंड गोलंबर में कबाड़ से तैयार कर बनाई गई कलाकृति ‘गौरैया’ को बचाने का दे सन्देश देती है । स्थानीय लोग इस गौरैया को बनाने वाले पटना आर्ट कॉलेज और नगर निगम की अच्छी पहल बताते हैं लेकिन इस बात पर लोगों में नाराजगी है कि राजकीय पक्षी की आकृति को कबाड़ से बनाकर उसे रंग रोगन किये बगैर ऐसे ही छोड़ दिया है। अब धीरे-धीरे वो बेरंग दिखने लगा है। स्थानीय लोगों का मानना है कि निगम को इसे पेंट करा देने मात्र से ही इसकी खूबसूरती बढ़ जाएगी । गोलंबर के पार्क भी बदहाल अवस्था में है। जबकि इस कलाकृति को नगरनिगम के अधिकारी रोज देखते हैं लेकिन किसी का ध्यान इस ओर नहीं जाता।


पटना आर्ट कॉलेज के 3 पूर्ववर्ती छात्रों ने 2 हफ्ते में इस कलाकृति को बेकार टंकी, पाइप, डस्टबिन के इस्तेमाल से बनाया था। सौंदर्यीकरण और वेस्ट मैनेजमेंट के लिए ऐसे स्थानों का चयन नगर निगम ने किया था लेकिन उसकी देख रेख नहीं होने से अब इस कलाकृति पर संकट आ गए हैं ।