सोशल मीडिया पर दी जान से मारने की धमकी

परशुराम जयंती पर चंदा नही मिलने से क्रोधित युवक का कारनामा
धमकी देने वाला पहले भी जा चुका है जेल

चँदवा पेट्रोल पंप पर भी मारपीट का मामला है दर्ज




आरा, 29 अप्रैल. मौसम चाहे कोई हो गर्म तो हमेशा बस दो ही चीज रहता है- ‘सियासी पारा और सोशल मीडिया.’
उसपर भी जब गर्मी का दिन हो तो यह पारा कुछ ज्यादा ही बढ़ जाता है. सोशल मीडिया पर गाली-गलौज कुछ मुद्दों को लेकर आपने जरूर सुना होगा लेकिन आपने किसी आयोजन के लिए चंदा न मिलने पर किसी को गाली देते सुना है? नही! कोई बात नही चलिए हम आपको बता देते हैं कि ये घटना कहाँ और कैसे घटी..


दरअसल परशुराम जयंती का आयोजन 18 अप्रैल को हर वर्ष विभिन्न जगहों पर लोग करते हैं. आरा में भी यह आयोजन हुआ और उसके लिए आरा निवासी  अखिलेश चौबे नामक युवक ने पूर्व पार्षद और सामाजिक कार्यकर्ता अमरेन्द्र चौबे से 11000/- रुपये का चंदा परशुराम जयंती के लिए माँगा. अमरेन्द्र चौबे ने 5000/- रुपये का सहयोग देने के लिए हामी भर दी और सामाजिक कार्यक्रमो में व्यस्तता की वजह से उक्त युवक को चेक नही दे पाए. चंदा नही मिलने से बौखलाया युवक आप से बाहर हो गया और परशुराम की तरह ही तीखे क्रोध में आश्वासन देकर नही सहयोग करने वाले को जान से मारने की धमकी तक दे दी. कार्यक्रम खत्म हो जाने के बात चंदा मांगने वाले युवक अखिलेश चौबे ने अमरेन्द्र द्वारा बनाये गए एक वाट्सअप ग्रुप में माँ की भद्दी-भद्दी गालियां देनी शुरू कर दी. “एक मत एक विचार और एक साथ” नामक वाट्सअप ग्रुप में यह भद्दी गालियां दी गयी. इस ग्रुप में अमरेन्द्र ने ही उस युवक को जोड़ा था. इतना ही नही हद्द तो तब हो गयी जब उक्त युवक ने अमरेन्द्र को जान से गोली मारने की धमकी दे दी. हालांकि युवक ने गाली या जान से मारने की धमकी में किसी का नाम नही लिखा है लेकिन ये जरूर बताया है कि वो जिसके बारे में लिख रहा है उसको ये बात समझ मे आ गई होगी कि किसके लिए धमकी और गालियां लिखी जा रही है.

अमरेन्द्र चौबे जो एक व्यवसायी भी हैं, उन्होंने मामला समझते ही पूरे प्रकरण को ले नवादा थाना से लेकर DG तक इसकी शिकायत की है. गोली मारने की घमकी और गाली देने वाला युवक इसके पूर्व जेल भी जा चुका है. कुछ माह पूर्व चँदवा स्थित पेट्रोल पंप पर भी युवक ने शराब पीकर अपने दोस्तों के साथ वहाँ दबंगई दिखाई थी. पहले गाड़ी में पेट्रोल भरवाया और फिर पैसे नही दिए साथ ही दबंगई दिखाते हुए पेट्रोल पम्प पर ही सिगरेट जलाने लगा जिसे मना करने पर मारपीट भी किया. अमरेन्द्र चौबे ने उक्त समय मामले को सुलझाने के लिए आरोपी युवक की पैरबी भी मुहल्ले के नाते की थी लेकिन पटना नाउ से बात करते हुए उन्होंने कहा कि जाति वाले का सहयोग कर वो तो भगवान शिव की तरह फंस गए हैं और जिस युवक के लिए वो मदद का हाथ बढ़ा खड़े रहे अब वो उनके लिए ही भष्मासुर बन गया है.

उक्त मामले में पटना नाउ ने ने जब अखिलेश चौबे से भी सम्पर्क किया तो उसने कहा कि बीती रात एक पार्टी में दोस्तो के साथ था और उन्ही में से किसी ने ये शरारत की है. सुबह होने पर जब ग्रुप में उक्त बातों पर हंगामा देखा तो दंग रह गया और फिर अमरेन्द्र चौबे को फ़ोन भी कई दफा माफी मांगने के लिए किया लेकिन उन्होंने फ़ोन नही उठाया.

DG कंट्रोल ने मामले की शिकायत ऑनलाईन रजिस्टर्ड कर शिकायत का टोकन नम्बर 201804290019 दिया है.

देखना यह दिलचस्प होगा कि पुलिस इस मामले में ऑनलाइन उपलब्ध स्क्रीनशॉट के प्रूफ पर कितना त्वरित कर्रवाई करती है या फिर इस मामले में भी शांत हो सोशल मीडिया की इस गर्म पारा को यूं ही बरकरार रखती है.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट