पटना के इंजीनियरिंग कॉलेज के पीछे से डॉक्टर के पुत्र की बॉडी बरामद

रूपसपुर थाना क्षेत्र के इंजीनियरिंग कॉलेज के पीछे से डॉक्टर के पुत्र की बॉडी बरामद
चाकू मार की गई हत्त्या
फुलवारी शरीफ (ब्यूरो रिपोर्ट) । रूपसपुर के होम्योपैथ डॉक्टर शशिभूषण के 15 साल के अपहृत बेटे की हत्या कर अपहरण कर्ताओं ने आरपीएस इंजीनियरिंग कॉलेज के पीछे बधार में फेंक दिया. डॉक्टर पुत्र की लाश बरामद होने की खबर से परिजनों में चीत्कार मच गया. पुलिस मुख्यालय में भी हडकम्प मचा है. एसएसपी मनु महाराज की मॉनिटरिंग में पुलिस अपहरण की खबर के बाद से लगातार कई इलाके में छापेमारी में जुटी थी. कोथवां में भी छापेमारी के बाद कई बदमाशो को पुलिस ने गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही थी. इस पूछताछ के बाद ही रूपसपुर थाना क्षेत्र के इंजीनियरिंग कॉलेज के पीछे से डॉक्टर के पुत्र की बॉडी बरामद कर ली गयी. डेड बॉडी देखने से लगता है कि अपहरण के बाद ही उसकी चाकुओं से गोद गोद कर हत्त्या कर दी. अपहरण कर्ताओं ने डॉक्टर परिवार से फिरौती में 50 लाख की रकम की डिमांड कर रहे थे. पुलिस का दावा है कि इस वारदात में शामिल दो अपराधियो को गिरफ्तार कर लिया गया है और एक अपराधी जो फरार चल रहा है उसे भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.
इस हत्त्या में प्रेम प्रसंग की चर्चा की भी जांच हो रही है.
गौरलतब है कि डॉक्टर शशिभूषण के पुत्र शिवम का अपहरण बृहस्पतिवार को उस समय कर लिया गया था जब वह बीबीगंज दानापुर में कोचिंग के लिए गया था. उसी कोचिंग में कोथवां के भी लड़के पढ़ते है. पुलिस को डॉक्टर पुत्र के अपहरण और फिरौती की मांग बता दी गयी थी, बावजूद इसके उसकी हत्या कर दी गयी और पुलिस हाथ मलती रह गई.