शर्मनाक: पैसे के लिए मरीज को बनाया बंधक

राजधानी पटना में एक बार फिर निजी नर्सिंग होम के फर्जी बाड़ा और मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है. जहाँ पटना सिटी के अगम कुआं थाना क्षेत्र के धनकी मोड़ स्थित माँ शीतला एमरजेंसी हॉस्पिटल में पूरे रूपये न मिलने पर मधेपुरा के भर्ती मरीज ललिता देवी को बंधक बना लिया गया. बंधक बनी मरीज का पुत्र कुंदन ,अपनी माँ को छुड़ाने के लिए मधेपुरा इलाके में भीख मांगने का काम कर रहा है. मामला उजागर होने के बाद मधेपुरा सांसद पप्पू यादव माँ शीतला एमरजेंसी हॉस्पिटल पहुंचे , जहाँ महिला मरीज ललिता देवी को आजाद कराया गया.




सांसद पप्पू यादव का कहना था कि राजधानी में स्वास्थ्य माफिया और एजुकेशन माफिया का बोल बाला है. इन माफिया पर ना ही केंद्र सरकार और ना ही राज्य सरकार कार्रवाई कर रही है. 12 दिन से मधेपुरा की रहने वाली डिलीवरी मरीज ललिता को पूरा पैसा न मिलने पर बंधक बना कर रखा गया है . जिसे छुड़ाने के लिए इसका पुत्र मधेपुरा में भीख मांगने का काम कर रहा है जबकि इस अस्पताल में बिना डिग्री वाले नर्स और दाई के सहारे मरीज का इलाज किया जा रहा है. ऐसे में इन निजी अस्पतालों और चिकित्सकों पर कारर्वाई होना चाहिए.

मधेपुरा सांसद पप्पू यादव ने घोषणा की है कि सूबे में जितने भी फर्जी क्लिनिक और चिकित्सक हैं इन सभी के खिलाफ़ वे हल्ला बोल आंदोलन करेंगे.

 

पटना से अरुण