आप अपने बच्चे को स्कूल कब से भेजेंगे…

कोरोना काल में लोग वर्ष 2020 का हर दिन ईश्वर का नाम लेकर गुजार रहे हैं. सबको बस इस बात की चिंता है कि वह और उसका परिवार संक्रमण का शिकार ना हो. बुजुर्गों का खास ख्याल रखा जा रहा है. वहीं बच्चों को भी घर से बाहर निकलने पर रोक है. बच्चों की पढ़ाई ऑनलाइन हो रही है. लेकिन स्कूल वाले परेशान हैं. परेशानी बच्चों को भी हो रही है क्योंकि क्लासरुम की पढ़ाई की बजाय ऑनलाइन पढ़ाई से वे खुश नहीं हैं. सरकार ने अनलॉक2 के बाद की तैयारी के तहत अब एक बार फिर अभिभावकों का मन टटोलने की कोशिश की है. देखिए ये लेटर जो 17 जुलाई को सभी राज्यों के शिक्षा विभाग के सचिवों को भेजा गया है.

इसके जरिए सरकार आपसे जानना चाहती है कि स्कूल कब खुलने चाहिए. जी हां, एक तरफ अभिभावक अपने बच्चे को लेकर चिंतित हैं और वे कोई रिस्क नहीं लेना चाहते. दूसरी तरफ 31 जुलाई के बाद क्या करना है इसे लेकर केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सभी राज्यों से 20 जुलाई तक जवाब मांगा है.




आपको बता दें कि पिछली बार अभिभावकों ने खुलकर कहा था कि जबतक हालात सामान्य नहीं हो जाते, वे अपने बच्चे को स्कूल नहीं भेजेंगे. अब हालात पहले से ज्यादा खराब हैं. बिहार में तो फिर से 16 दिनों का लॉकडाउन लगाना पड़ा है. ऐसे में अभिभावकों से सभी स्कूल फिर से सलाह मांगेंगे कि उनकी क्या राय है. सवाल तीन प्रमुख प्वायंट्स पर होंगे-

# स्कूल कब खुलने चाहिए- अगस्त में, सितंबर या अक्टूबर में

# जब स्कूल खुलें तो पैरेंट्स स्कूल प्रबंधन से क्या और कैसी तैयारी की उम्मीद करते हैं.

# कोई अन्य कमेंट/फीडबैक.

अब देखना है बिहार सरकार की तरफ से क्या जवाब दिया जाता है क्योंकि बिहार में तो कम से कम फिलहाल हालात सामान्य नहीं नजर आ रहे.

PNCB