बहुचर्चित रिमझिम हत्याकांड का खुलासा, मुख्य सरगना समेत 7 अपराधी गिरफ्तार

File pic

पटना,अजीत।। नौबतपुर में डॉक्टर की पत्नी रिमझिम हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया. शनिवार को देर शाम में एसएसपी उपेन्द्र शर्मा ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए कहा कि काला जादू के छुटकारा पाने को लेकर रिमझिम की हत्या करवाई गयी. हत्याकांड का मुख्य आरोपी रोहित समेत कुल 7 अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों के पास से 2 लाख 25 हजार कैश, एक देसी पिस्टल, 2 मैगजीन और 3 जिंदा कारतूस समेत एक वाहन और 6 मोबाइल बरामद किया गया है.
एसएसपी ने बताया कि रोहित रिमझिम के काले जादू से तंग आ गया था. बहन की शादी के लिए उसने काफी कर्ज ले रखे थे. कर्ज देने वाले लोग पैसे की उगाही के लिए प्रेशर बना रहे थे. इसको लेकर रोहित डिप्रेश हो चुका था. इसी दौरान उसे रिमझिम से संपर्क हो गया. रिमझिम ने काला जादू कर उसकी समस्या का निजात दिलाने का आश्वासन दिया. जिसके झांसे में वो आ गया. लेकिन जब उसे लगा कि रिमझिम उसका यूज कर रही है तो वो उससे दूर जाने लगा.

रोहित को दूर जाता देख रिमझिम उसे काला जादू का डर दिखाकर अपने पास लाने का प्रेशर बनाने लगी. ऐसे में रोहित ने उससे से 15 प्रतिशत ब्याज पर 4 लाख रूपए कर्ज लेकर शूटर हायर किया. इसके बाद शूटरों ने रिमझिम की हत्या कर नौबतपुर के खेत में फेंक दिया. एसएसपी ने कहा कि ये सारी बातें रोहित ने पुलिस के सामने कन्फेश किया है. उनकी निशानदेही पर ही सभी शूटरों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुछताछ के बाद सभी अपराधियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। सभी अपराधियों का अपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है.




गौरतलब है कि 24 नवंबर को नौबतपुर थाना के पुनपुन सुरक्षा बांध के पास सड़क किनारे खेत से डेंटिस्ट विश्वजीत चतुर्वेदी की पत्नी रिमझिम चतुर्वेदी की लाश मिली थी. बताया जाता है कि रिमझिम पटना के एसके पुरी थाने के कृष्ण कुंज अपार्टमेंट में रहती थी. पुलिस ने मौके से एक जिंदा गोली और महिला का कुछ सामान बरामद किया था. पति डॉ. विश्वजीत चतुर्वेदी की बहन श्वेता पाठक ने रिमझिम की पहचान की. श्वेता पाठक ने इस मामले की जानकारी अपने परिजनों को दी. इसके बाद डॉ. विश्वजीत चतुर्वेदी के परिजन नौबतपुर थाने पहुंचे थे.