सना आयी बोरवेल से बाहर, रेस्क्यू टीम को बधाई

मुंगेर में 100 फ़ीट गहरे बोरवेल में फंसी सना को सेना की मदद से सकुशल बाहर निकाल लिया गया है. सना के लिए सेना जहां कल शाम से ही उसे निकालने के लिए NDRF और SDRF की टीम के साथ मुस्तैद थी वही दुआओं के लिए बिहार ही नही बल्कि देश भर से प्रार्थना का दौर भी जारी था. लगभग 20 घण्टे के बाद सना को बाहर निकलने म रेस्क्यू टीम को सफलता मिली. इस दौरान स्थानीय लोग इस घटना के प्रत्यक्ष गवाह बने और सना के बाहर निकलते ही लोगों ने खुशी से सेना की इस रेस्क्यू की सफलता पर तालियां बजाकर अपना अभिवादन किया.

सना आखिरकार बोरवेल से बाहर आ गयी.
उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मुंगेर की 3 वर्षीय बच्ची सन्नो की सफल व सुरक्षित रेस्क्यू SDRF, NDRF और सेना की टीम को बधाई दी है. मोदी ने कहा है कि सन्नो की पूरी मुस्तैदी से इलाज का प्रशासन को निर्देश दिया गया है,अगर जरूरत पड़ी तो बच्ची को बेहतर इलाज के लिए पटना भी लाया जाएगा.





मुख्यमंत्री सहित पूरी सरकार रेस्क्यू की पल-पल की खबर ले रही थी. मुख्यमंत्री की त्वरित पहल से NDRF की टीम को हेलीकॉप्टर से बिहटा लाकर बिना देरी किये मुंगेर पहुंचाया गया. स्थानीय प्रशासन भी पूरी तरह तत्पर रहा, नतीजतन बच्ची की सकुशल रेस्क्यू संभव हो पाई है. पूरी रेस्क्यू टीम बधाई का पात्र है.

भविष्य में ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी जो बोरवेल खोद कर खुला छोड़ देते है