नोटबंदी के बाद थी इसकी आस, लेकिन RBI ने किया निराश

RBI की नई क्रेडिट पॉलिसी की घोषणा

ब्याज दरों में कोई कटौती नहीं हुई




फिलहाल EMI कम होने की संभावना खत्म

pnc-rbi

नोटबंदी के बाद RBI से उम्मीद लगाए लोगों को जबरदस्त निराशा हाथ लगी है. RBI ने अपनी नई क्रेडिट पॉलिसी में सभी पुरानी दरों को बरकरार रखा है. यानि दरों में कटौती की उम्मीद लगाए लोगों को झटका लगा है. आरबीआई ने साल 2016 की आखिरी क्रेडिट पॉलिसी में दरों में किसी भी किस्म की कटौती नहीं करने का फैसला किया है. इससे EMI कम होने के आस लगाए लोगों को निराश हाथ लगी है.

RBI ने रेपो रेट 6.25 फीसदी पर बरकरार रखा है. RBI ने विकास दर के अनुमान को घटाया है. नोटबंदी से पहले 7.6 फीसदी विकास दर का अनुमान था जिसे घटाकर अब 7.1 फीसदी कर दिया गया है.