JDU पर किसका राज, फैसला होगा आज

JDU आखिर किसके हाथ में है. असल जेडीयू का मतलब शरद या नीतीश. ये फैसला आज होना है. एक तरफ नीतीश कुमार 1 अणे मार्ग में पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल(SKM) हॉल में वरिष्ठ नेता शरद यादव ने बैठक बुलाई है.




एक तरफ जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी का दावा है कि जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को 20 राज्यों के प्रदेश अध्यक्षों का समर्थन हासिल है वहीं शरद गुट के अऱुण श्रीवास्तव का कहना है कि केसी त्यागी का दावा गलत है.

शरद गुट का दावा है कि बिहार में महागठबंधन अभी भी जारी है . एक तरह से इसे जदयू के दो गुटों का शक्ति प्रदर्शन माना जा रहा है और इसके बाद पार्टी में दो फाड़ होना भी तय है.

इन सबके बीच जदयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने स्पष्ट किया है कि पार्टी फिलहाल शरद यादव पर कोई कार्रवाई के मूड में नहीं है. लेकिन अगर वे 27 अगस्त को होने वाली राजद की रैली में शामिल हुए तो उनपर बड़ा फैसला लिया जा सकता है.

NDA में शामिल होने पर लगेगी मुहर

वहीं, आज नीतीश की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में JDU के NDA में शामिल होने पर फैसला हो सकता है. बता दें कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने नीतीश कुमार को NDA में शामिल होने का निमंत्रण दिया है. सूत्रों के मुताबिक NDA में शामिल होने के बाद नीतीश कुमार को NDA का संयोजक बनाया जा सकता है और इसके साथ ही जेडीयू के दो सांसद केन्द्रीय मंत्रिपरिषद् में शामिल हो सकते हैं. इसके लिए आरसीपी सिंह और हरिवंश का नाम तय माना जा रहा है.