फिर चलेगा अभियान, इस बार होगी ज्यादा सख्ती

पटना में एक बार फिर अतिक्रमणकारियों की शामत आने वाली है. पटना शहरी क्षेत्र में अतिक्रमण हटाने और ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए 24 सितंबर से 4 अक्टूबर तक मल्टी एजेंसी अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जाएगा. ये जानकारी पटना डीएम कुमार रवि ने दी है.




 

डीएम ने बताया कि पटना शहरी क्षेत्र में अतिक्रमण एवं यातायात की सघनता की दृष्टि से चिन्हित अतिमहत्वपूर्ण क्षेत्र (High Priority Zone) निम्नवत् हैः-

  1. बोरिंग कैनाल रोड (राजापुर पुल से हड़ताली मोड़ तक)
  2. बोरिंग रोड (बोरिंग रोड चैराहा से पाटलीपुत्रा गोलम्बर तक)
  3. बेली रोड (हड़ताली मोड़ से जगदेव पथ तक)
  4. स्टेशन रोड (सीडीए बिल्डिंग से जीपीओ गोलम्बर तक)
  5. अशोक राजपथ (बीएन कॉलेज से साइंस कॉलेज तक)
  6. कदमकुआँ रोड
  7. कंकड़बाग
  8. पटना बाइपास रोड

पटना डीएम के आदेश के मुताबिक कार्यपालक पदाधिकारी, नूतन राजधानी अंचल पटना नगर निगम, बांकीपुर अंचल पटना नगर निगम, कंकड़ बाग़ अंचल पटना नगर निगम एवं पटना सिटी अंचल पटना नगर निगम इस विशेष अभियान के पूर्व एवं समय-समय पर दिये गये निर्देशों का शत् प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करेंगे. नगर आयुक्त, पटना नगर निगम के मार्ग निदेश में संबंधित कार्यपालक पदाधिकारी पटना नगर निगम, पटना द्वारा विशेष अभियान के पूर्व वेंडिंग जोन/नो वेंडिंग जोन का निर्धारण कर संबंधित वेंडरों को शीघ्रताशीघ पहचान पत्र उपलब्ध करायेंगे.

विशेष अभियान के पूर्व एवं तत्पश्चात समय-समय पर माइक द्वारा उद्घोषणा कराया जाएगा कि सभी अतिक्रमणकारी स्वयं अतिक्रमण हटा ले वहाँ पुनः अतिक्रमण नहीं करें. यदि वे स्वयं निर्धारित अवधि में अतिक्रमण नहीं हटायेंगे तो प्रशासन द्वारा उनके सामग्रियों को जब्त कर लिया जायेगा एवं सुसंगत धाराओं के तहत उनसे अर्थ दंड की वसूली की जायेगी तथा उनके विरूद्ध प्राथमिकी भी दर्ज की जाएगी. डीएम ने बताया कि कतिपय निर्माणधीन अपार्टमेंट एवं भवनों के मालिकों द्वारा सड़क के किनारे खुले में निर्माण सामग्री यथा-गिट्टी, बालू, सीमेंट, छड़ आदि रखने एवं निर्माण कार्य खुले में करने से यातायात बाधित होता है. उन्होंने कहा कि यदि सड़कों पर निर्माण सामग्री पायी गई तो निर्माण सामग्री को नियमानुसार जब्त करते हुए नगर निगम द्वारा नियमानुसार मकान के नक्शा को रद्द करने की कार्रवाई की जा सकती है.

डीएम कुमार रवि ने ने बताया कि ट्रैफिक एसपी को भी दिशानिर्देश दिए हैं निर्देश के मुताबिक ट्रैफिक एसपी यातायात सुदृढ़ीकरण के तहत पटना शहर में सड़कों को निन्हित कर वन-वे/नो इन्ट्री/प्रतिबंधित क्षेत्र को चयन कर उसका अनुपालन करायेंगे. नो पार्किंग क्षेत्र में अवैध रूप से पार्किंग किये गये वाहनों से नियमानुसार जुर्माना वसूली सुनिश्चित करेंगे.शहर में ऐसे स्थलों को चिन्ह्ति करेंगे, जहाँ अत्यधिक संख्या में गाड़ियाँ लगती है उन स्थलों पर यातायात नियमन सुनिश्चित करेंगे.पटना शहर में Single Lane टेम्पु परिचालन सुनिश्चित करेंगे. जिला परिवहन पदाधिकारी, पटना से समन्वय स्थापित कर पटना-अनीसाबाद बाईपास एवं उसके सर्विस लेन में स्थित गैराजों के सामने लगे वाहनों को हटवाना एवं जब्त वाहनों की उचित स्थान पर रखवाना सुनिश्चित करेंगे.विशेष अभियान हेतु क्रेन, लॉकर, रोड ट्रॉली आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे.

आपको बता दें कि पटना शहरी क्षेत्र में अतिक्रमण हटाने के लिए आयुक्त, पटना प्रमंडल और पुलिस महानिरीक्षक, पटना प्रक्षेत्र के निर्देश के आलोक में पटना शहरी क्षेत्र अतिक्रमण में हटाने एवं यातायात व्यवस्था को दुरूस्त करने तथा अवैध होर्डिंग आदि को हटाने के उद्देश्य से 16.08.2018 से 10.09.2018 तक विविध तिथियों को सफलतापूर्वक मल्टी एजेंसियों के द्वारा विशेष अभियान चलाया गया था.