“झोला”…जो बचाएगा पर्यावरण

नेशनल साइंटिफिक रिसर्च ट्रस्ट ने वृक्षारोपण के साथ लिया पॉलिथीन बहिष्कार का निर्णय
ट्रस्ट के जुड़े सदस्य झोले का करेंगे उपयोग

आरा, नेशनल साइंटिफिक रिसर्च एवं एनालिसिस ट्रस्ट में आज विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर वृक्षारोपण कर पर्यावरण दिवस को मनाया. ट्रस्ट से जुड़े लोगों ने कई पौधे मठिया स्थिति अपने कार्यालय के कैंपस में लगाएं. इस मौके पर ट्रस्ट के द्वारा एक संगोष्ठी का भी आयोजन किया गया जिसमें पर्यावरण बचाव के दिशा में में सार्थक बातें की गई गई. ट्रस्ट के संचालक एवं अध्यक्ष श्याम कुमार ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर सिर्फ पेड़ लगा देने से पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कोई खास पहल नहीं किया जा सकता. सबसे जरूरत है पेड़ लगाने के बाद उन पेड़ों की देखभाल करने की. अधिकांशतया देखा जाता है कि पर्यावरण संरक्षण के लिए लोग पेड़ तो लगा देते हैं लेकिन उसके बाद उसकी सुध लेने वाला कोई लेने वाला कोई नहीं बचता नतीजतन अच्छे खासे पेड़, अच्छी संख्या में लगने के बाद भी सूख जाते हैं.




इन पेड़ों के सूख जाने से जहां एक ओर पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कमी हो जाती है वही पेड़ों में व्यय राशि और श्रम दोनों बेकार चला जाता है. उन्होंने कहा पेड़ लगाने के साथ-साथ हमें पर्यावरण को दूषित करने वाली पॉलिथीन पर रोक लगाना जरूरी है क्योंकि पेड़ लगाने दौरान अधिकांश जगहों पर जब मिट्टी की खुदाई की जाती है तो भारी मात्रा में पॉलिथीन मिलते हैं. यह पॉलिथीन मिट्टी की उर्वरता को कम करने के साथ ही मिट्टी में नमी और पौधों की वृद्धि में बहुत बड़े बाधक होते हैं. इस मौके पर उन्होंने ट्रस्ट के सभी सदस्यों से आग्रह किया कि पर्यावरण को बचाने के लिए पॉलीथिन का उपयोग बंद करें अपने साथ जुट या कपड़े के बने बैग को उपयोग में लाएं. ऐसा करने से हम पॉलिथीन मुक्त पर्यावरण बना सकते हैं, जो पर्यावरण की दिशा में एक मजबूत और सार्थक पहल होगा. इस मौके पर मनोज कुमार, शालिनी श्रीवास्तव और संजय पाल ने भी अपने विचार रखें और उन्होंने बैग को अपनी दिनचर्या में शामिल कर पर्यावरण संरक्षण के लिए काम करने का संकल्प लिया. सदस्यों ने कहा कि वे खुद के साथ लोगों को भी इस अभियान के लिए प्रेरित करेंगे.

वृक्षारोपण सह पर्यावरण संरक्षण पर संगोष्ठी में संजय नाथ पाल, मनोज सिंह, मोहम्मद शाहिद, शालिनी श्रीवास्तव, विभूति कुमारी, तरु, श्रीवास्तव राजा बसंत बाहर राजा बसंत बहार, सूरज कांत पांडे, अनु, ट्रस्ट कोषाध्यक्ष वीणा कुमारी स्वस्थ संचालक सह अध्यक्ष श्याम कुमार व अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट