बदलाव की आंधी में बह गए कई पुराने चेहरे


पीरो में 22 पंचायतों में सिर्फ 7 पुराने चेहरे पर ही जनता ने जताया भरोसा


आरा,02अक्टूबर. पंचायत चुनाव 2021 में भोजपुर के पीरो प्रखंड के 22 पंचायत में हुए चुनाव के नतीजे के बाद प्रत्याशियों के जीत के दावे कितने सही थे ये जनता ने गुप्त मतदान कर स्पष्ट कर दिया है. पीरो ब्लॉक के 22 पंचायतों में से सिर्फ 07 ही मुखिया प्रत्याशियों के पुराने चेहरे ऐसे रहे जिसपर जनता ने भरोसा किया. बाकि के 15 चेहरे बदलाव की आंधी में उड़न छू हो गए. इन 15 में से कईयों ने तो तीन से चार बार तक मुखिया की पारी अपने क्षेत्रों में खेली लेकिन जनता को जब विकास नहीं दिखा तो इस बार के चुनाव में उन्होंने न जात की सुनी और न ही किसी धर्म की बल्कि अपने मन की बात को सुनते हुए बदलाव की ठानी और नए चेहरे को विकास के लिए चुन लिया जिसकी झलक चुनाव में आए नतीजे के बाद साफ दिखा.




जिलाधिकारी और अन्य अधिकारी आपस में बात करते

बिहार में भले ही यह दूसरे चरण का मतदान है लेकिन भोजपुर में पहला चरण होने की वजह से सिस्टम समझने में कर्मियों को थोड़ी परेशानी हुई जिसकी वजह से मतगणना कुछ देर से शुरू हुई.दोपहर 1 बजे तक छः पंचायतों के मुखिया की जीत हो चुकी थी पर उसकी घोषणा शाम में की गई. मतगणना केंद्र पर मीडिया कर्मियों को सूचना के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी. कोई कर्मी सूचना देना नही चाहता था जिसकी सूचना जब जिलाधिकारी को लगी तो उन्होंने मीडिया कर्मियों के बैठने के लिए व्यवस्था की और सूचना को संग्रहित करने के लिए अधिकारी को न्युक्त किया.

सूचना बोर्ड पर बढ़त रुझाम और रिजल्ट

कड़ी थी सुरक्षा व्यवस्थामतों की गणना के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही साथ पूरे कैंपस को सीसीटीवी की निगरानी में रखा गया था. यहां तक कि ईवीएम या मत पेटियों के खुलने तक की लाइव रिकॉर्डिंग सीसीटीवी के माध्यम से की जा रही थी. मतलब माइक्रो आब्जर्वर के साथ मतगणना अधिकारी के लिए 16 टेबुल बनाए गए थे और फिर उनके साथ RO न्युक्त किए गए थे. मुखिया, सरपंच, पंच, वार्ड सदस्य, पंचायत सचिव और जिला परिषद पदों के लिए अलग – अलग कमरों में पंचायत वार गिनती देर रात तक चलती रही. जीत का जश्न बाहर सड़को पर  मुखिया समेत अन्य पदों के जीते हुए प्रत्याशियों पर रंग लगाकर तो समर्थको के बीच गुलाल उड़ाकर नारों के साथ देर रात तक चला. हालांकि चुनाव नतीजों को आज देर शाम तक ऑनलाइन अपडेट कर दिया जाएगा. हित नारायण क्षत्रिय स्कूल में पंचायत चुनाव के मतों की गिनती को लेकर देर रात तक रही गहमा-गहमी का माहौल रहा. 

चुनाव परिणाम के लिए कतार


पंचायत वार यूं जीते मुखिया प्रत्याशी 
1. एयार पंचायत :  द्रवी देवी 666 मत से विजयी (कुल मत : 1584)
2. तार पंचायत : पचरतनी देवी 20 मत से विजयी (कुल मत : 1176)
3.छवरही जंगल महाल पंचायत : फूल कुमारी 742 मत से विजयी (कुल मत : 2365)
4. अकरुआं पंचायत : विद्या देवी 116 मत से विजयी हुई (कुल मत : 1420)
5. कोथुआं पंचायत : सतेंद्र नारायण सिंह 430 मत से विजयी (कुल मत :1445)
6.जमुआंव पंचायत : आमोद कुमार राय 541 मत से विजयी (कुल मत :1780)
7.जितौरा जंगल महाल पंचायत – अर्पणा सिन्हा 226 मत से विजयी (कुल मत : 1190)
8.बरांव पंचायत : श्रीराम सिंह 51 मत से विजयी (कुल मत : 1276)
9.तिलाठ पंचायत : गुप्तेश्वर राय 123 मतों से विजयी (कुल मत : 1000)
10.खननी कला पंचायत : रीमा देवी 954 मत से विजयी (कुल मत : 2029)
11.राजेयां पंचायत : प्रियंका कुमारी 265 मत से विजयी  (कुल मत :1620)
12.अमेहता पंचायत : श्रीमन नारायण तिवारी 426 मतों से विजयी (कुल मत : 1434)
13.कटरियां पंचायत: लखमिना देवी 277 मत से विजयी (कुल मत :1769)
14.लहठान पंचायत : संतोष कुमार राम 70 मत से विजयी (कुल मत : 1232)
15.अगिआंव पंचायत : सुनीता देवी 202 मतों से विजयी (कुल मत :1242)
16.अमई पंचायत : चांदनी देवी 1019 मतों से विजयी (कुल मत : 2118)
17.सुखरौली पंचायत : हेमंत कुमार सिंह 306 मतों से विजयी (कुल मत :1686)
18.बचरी पंचायत : विवेक कमल 528 मतों से विजयी (कुल मत : 1897)
19.भड़सर पंचायत : बेबी देवी 165 मत से विजयी (कुल मत : 889)
20.नोनार पंचायत : गौरी शंकर प्रसाद 532 मतों से विजयी (कुल मत :2374)
21. कातर पंचायत : संगीत कुमारी 733 मतों से विजयी हुई (कुल मत : 2615)
22. नारायणपुर पंचायत : सरीफा राम 222 मत से विजयी  (कुल मत :1422 

मुखिया प्रत्याशियों की तरह ही जिला परिषद में भी नए चेहरों ने ही जीत हासिल किया जिसने साफ कर दिया कि जनता का मूड इसबार बदलाव की ओर था.  पीरो के तीन जिला परिषद क्षेत्र संख्या-11, 12 और 13 से तीनों में पुराने चेहरे को हटाकर मतदाताओं ने कुमारी जिप्सा आनंद, सुमन देवी और आशा देवी को विजय का ताज पहनाया. कुमारी जिप्सा आनंद पिछले चुनाव के पहले एक बार जिला परिषद सदस्य रह चुकी हैं. जिला परिषद सदस्य के चुनाव में सबसे अधिक वोट जिप क्षेत्र-12 से सुमन देवी ने 6804 से जीत दर्ज की. जबकि क्षेत्र 13 से आशा देवी 1629 वोट के अंतर से जीत दर्ज की. मुखिया में तार पंचायत की पचरतनी देवी सबसे कम अंतर 20 मत से जीत दर्ज की.

मीडिया को सूचना नहीं देने पर बात करते अधिकारी

जिला परिषद के विजयी प्रत्याशी: 
क्षेत्र संख्या 11 से कुमारी जिप्सा आनंद ने 2709 मतों से जीत हासिल की (कुल मत : 9837)
क्षेत्र संख्या 12 से सुमन देवी ने 6804 मतों से जीत हासिल की (कुल मत :11486)
क्षेत्र संख्या 13 से आशा देवी ने 1629 मतों से जीत हासिल की (कुल मत : 10269) 

पीरो पंचायत से इस बार 522 पदों के लिए 1971 उम्मीदवारों ने आजमाये थे भाग्य जिसमें 522 पद के लिए ही मतदान हुआ. पंच के 9 पद पर नामांकन नहीं होने से खाली रह गए. जिसके कारण 522 पदों के लिए मतदान हुआ. 
बता दें कि पीरो में कुल 637 पद हैं. जिसमें 105 पंच और 1 वार्ड सदस्य निर्विरोध हो गए थे. जिसके लिए 1971 प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे थे.

12 मुखिया हारे

नोनार अवधेश प्रसाद

एयार सलमा खातून

छ्वरहीं पूजा देवी

जमुआंव बैजनाथ सिंह

जितौरा रेणु देवी

अमेहता प्रमोद तिवारी

रजेया सुचित्रा देवी

बचरी सुनिल सिंह

अमई उषा देवी

कातर सुशीला देवी

खननी एकमी कुंवर

लहठान दिनेश्वर राम

भड़सर ऋतु कुमारी (नहीं लड़ीं

अगिआंव देवंती देवी (निधन)

नारायणपुर माधव राम (नहीं लड़े)

ओ पी पांडेय