चौथी औद्योगिक क्रांति से प्राप्त अवसरों व चुनौतियों का रखना होगा ध्यान – पोद्दार

चौथी औद्योगिक क्रांति से प्राप्त अवसरों व चुनौतियों का रखना होगा ध्यान : महेश पोद्दार
पोद्दार ने चौथी आद्योगिक क्रांति विषयक समूह चर्चा का विषय प्रवेश कराया
ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग में भाजपा के प्रतिनिधि हैं पोद्दार
रांची (ब्यूरो रिपोर्ट) |  झारखण्ड से राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने कहा है कि चौथी आद्योगिक क्रान्ति का समुचित लाभ लेने के लिए सरकारों को यथासंभव भविष्य की समझ विकसित करने की आवश्यकता है. उन्हें पता होना चाहिए कि यह महत्वपूर्ण तकनीकी परिवर्तन उन्हें कौन से अवसर उपलब्ध करा रहा है और इसकी चुनौतियां क्या है. पोद्दार दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में आयोजित ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज डायलॉग के तहत ग्रुप डिस्कसन कार्यक्रम में चौथी औद्योगिक क्रांति पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे. पोद्दार दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में आयोजित ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग में भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधि के रूप में शामिल हैं.
ग्रुप डिस्कसन का विषय प्रवेश कराते हुए पोद्दार ने कहा कि चौथी औद्योगिक क्रांति की वजह से होनेवाले तकनीकी परिवर्तन का लाभ उठाने के लिए सभी देशों को मजबूत बुनियादी ढांचे की आवश्यकता है. उन्हें भविष्य में सरकार की भूमिका, नागरिकों,कंपनियों और अन्य संगठनों के बीच संबंधों के परिवर्तन के संभावित प्रभाव की समझ विकसित करनी होगी. सरकारों को श्रम बाजार में अस्थिरता और धन वितरण में असमानता का ध्यान भी रखना होगा तथा सामाजिक एकजुटता बनाए रखने की आवश्यकता है. यह ध्यान भी रखना होगा कि प्रौद्योगिकी हमारे जीवन को कैसे प्रभावित कर रही है. साथ ही, आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक वातावरण के बारे में एक व्यापक और वैश्विक रूप से साझा दृष्टिकोण विकसित करने की जरुरत पर भी उन्होंने बल दिया.
ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग में शामिल सभी सदस्य देशों के प्रतिनिधियों ने दक्षिण अफ्रीका के महत्वपूर्ण ऐतिहासिक स्थलों का भ्रमण किया. आज की समूह चर्चा के लिए बहुपक्षीय संबंध व हित, समावेशी आर्थिक विकास, चौथी औद्योगिक क्रांति तथा शांति एवं स्थिरता सहित कुल चार विषय निर्धारित थे. पोद्दार ने चौथी आद्योगिक क्रांति विषयक समूह चर्चा का विषय प्रवेश कराया व नेतृत्व किया.