न्यायाधीश संजय करोल | पटना हाइकोर्ट के नए मुख्य न्यायाधीश

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | पटना हाइकोर्ट आने वाले नए मुख्य न्यायाधीश संजय करोल मूलतः हिमाचल प्रदेश के हैं. जस्टिस संजय करोल का जन्म 23 अगस्त 1961 में शिमला में हुआ था. उन्होंने सेंट एडवर्ड स्कूल, शिमला से पास किया और गवर्नमेंट कॉलेज, संजौली से इतिहास ऑनर्स में स्नातक किया. करोल ने हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय से कानून की डिग्री प्राप्त की. 1983 में एक वकील के रूप में एनरोल होने के बाद उन्होंने कई न्यायालयों में प्रैक्टिस किया. उन्होंने संवैधानिक, कराधान, कॉर्पोरेट, आपराधिक और नागरिक मामलों में भारत के माननीय सर्वोच्च न्यायालय में भी प्रैक्टिस किया. वे सुप्रीम कोर्ट में अंतर-राज्य जल विवाद (बीबीएमबी परियोजना) में परामर्शदाता के रूप में भी उपस्थित हुए थे. करोल 1998 से 2003 तक हिमाचल प्रदेश के एडवोकेट जनरल के रूप में संवैधानिक कर्तव्यों का निर्वहन किया है. वर्ष 1999 में उन्हें वरिष्ठ अधिवक्ता के रूप में नामित किया गया था. वे सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार के लिए वरिष्ठ पैनल पर बने रहे. उन्हें 8 मार्च, 2007 को हिमाचल प्रदेश के उच्च न्यायालय के अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया. 25 अप्रैल 2017 से उच्च न्यायालय के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के रूप में भी कार्य किया. न्यायमूर्ति करोल 14 नवंबर 2018 को त्रिपुरा उच्च न्यायालय के चौथे मुख्य न्यायाधीश बने.

ये भी पढ़ें – पटना हाइकोर्ट के चीफ जस्टिस CJ एपी शाही का तबादला, उनकी जगह लेंगे संजय करोल




275 सहायक बंदोबस्त अधिकारी की बहाली का रिजल्ट | पटना हाईकोर्ट ने किया रद्द