मुंगेर हंगामा मामले में बड़ा अपडेट

मुंगेर में मूर्ति विसर्जन के दौरान हुए हंगामे के बाद एक तरफ जहां सरकार की जमकर किरकिरी हुई है दूसरी तरफ वहां पुलिस और प्रशासन के खिलाफ लोगों की जबरदस्त नाराजगी को देखते हुए चुनाव आयोग ने बड़ी कार्रवाई की है. मुंगेर में 26 अक्टूबर को दशहरा के दिन मूर्ति विसर्जन के दौरान भगदड़ मच गई थी. इस दौरान पुलिस पर लाठीचार्ज करने और फायरिंग में एक युवक की मौत का मामला सामने आया. इस पूरे मामले का एक वीडियो वायरल होने के बाद लोगों में जबरदस्त नाराजगी देखने को मिली. 28 अक्टूबर को मुंगेर में सबसे कम वोटिंग दर्ज हुई और 29 अक्टूबर की सुबह से ही लोग सड़क पर उतर गए और वहां से एसपी और डीएम को हटाने की मांग करने लगे.

भारी हंगामे के बाद चुनाव आयोग ने तुरंत प्रभाव से मुंगेर की एसपी और वहां के डीएम को हटाने का आदेश दिया है और आज ही नए डीएम और एसपी की नियुक्ति का निर्देश भी जारी कर दिया है.




साथ ही चुनाव आयोग ने पूरे मामले की जांच मुंगेर के डिविजनल कमिश्नर से कराने का आदेश देते हुए 7 दिन में इसकी रिपोर्ट मांगी है.

pncb