तो क्या उपयोग है चुनाव कार्यशाला का?


स्वच्छ,निष्पक्ष एवं पारदर्शिता के लिए जरूरी है चुनाव कार्यशाला
स्कूल और कॉलेज के छात्रों तक पहुँचने के लिए जिलाधिकारी ने दिया निर्देश

आरा. पैक्स चुनाव 2019 के स्वच्छ,निष्पक्ष एवं पारदर्शी संपादन सुनिश्चित कराने हेतु जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा ने प्रत्येक प्रखंडों में भावी प्रत्याशियों के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया.




इस क्रम में 24 नवंबर रविवार को प्रखंड स्तर पर पैक्स चुनाव के भावी प्रत्याशियों के लिए कार्यशाला का आयोजन कर उन्हें नामांकन की प्रक्रिया,स्क्रूटनी की प्रक्रिया, मतगणना की प्रक्रिया तथा निर्वाचन प्राधिकार के अन्य प्रावधानों एवं नियमों आदि के बारे में बिंदुवार एवं सूक्ष्म तरीके से जानकारी दी जाएगी ताकि अभ्यर्थी गण भी फॉर्म भरने तथा वांछित कागजात लाने एवं अन्य आवश्यक पहलुओं से अवगत हो सकें. ऐसा पाया जाता है कि अभ्यर्थियों के चुनाव संबंधी आवश्यक जानकारी के अभाव में उनके द्वारा समुचित रूप से फॉर्म नहीं भरे जाते हैं अथवा आवश्यक कागजात प्रस्तुत नहीं किए जाते हैं जिसके कारण उनका नामांकन रद्द होने की स्थिति बन जाती है. फलत: जिलाधिकारी ने निष्पक्ष एवं पारदर्शी चुनाव संपन्न कराने हेतु भावी प्रत्याशियों के लिए भी स्थानीय स्तर पर प्रखंडों में प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने एवं उन्हें चुनाव संबंधी प्रावधानों एवं नियमों से अवगत कराने का निर्देश सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया है. इससे अभ्यर्थियों को नामांकन करने तथा उससे संबंधित फॉर्म भरने, वांछित कागजात उपलब्ध कराने ,स्क्रूटनी की प्रक्रिया से अवगत होने तथा अन्य आवश्यक प्रावधानों एवं नियमों की जानकारी प्राप्त करने में सहूलियत मिलेगी. इससे एक ओर स्वच्छ ,निष्पक्ष एवं पारदर्शी चुनाव संपन्न होंगे तो दूसरी ओर भावी प्रत्याशियों को चुनाव संबंधी कार्यों में आत्मविश्वास के साथ सहभागिता सुनिश्चित होगी.

लोकतंत्र का महापर्व -चुनाव में अधिकाधिक मतदाताओं की सहभागिता सुनिश्चित करने तथा देश के युवा मतदाता एवं भावी मतदाता की अधिकाधिक सहभागिता सुनिश्चित कराने एवं उन्हें जागरूक एवं प्रेरित करने हेतु निर्वाचक साक्षरता क्लब के तहत जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा की अध्यक्षता में कार्यशाला का आयोजन कृषि भवन सभागार में संपन्न हुआ. इस कार्यशाला में 18 विद्यालयों के प्रिंसिपल एवं नोडल पदाधिकारी उपस्थित हुए जिन्हें चुनाव की संपूर्ण प्रक्रिया से अवगत कराया गया.

विदित हो कि निर्वाचक साक्षरता क्लब का गठन स्कूलों और कॉलेजों में होना है जिसमें छात्र छात्राओं को चुनावी प्रक्रिया के तहत मताधिकार का महत्व, निबंधन, मतदान केंद्र, मतदाता, मतगणना, सहित चुनाव की सभी प्रक्रियाओं से सरल एवं सहज रूप में अवगत कराना है ताकि समाज के युवा मतदाता एवं भावी मतदाता को जागरूक एवं प्रेरित कर लोकतन्त्र को मजबूती प्रदान किया जा सके. इस अवसर पर जिलाधिकारी ने लोकतंत्र की मजबूती हेतु युवाओं से चुनाव की प्रक्रिया से अवगत होने तथा समाज के अधिकाधिक लोगों को जागरूक एवं प्रेरित करने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि प्रत्येक स्कूल और कॉलेजों में आधिकाधिक छात्र और छात्राओं को चुनाव की प्रक्रिया से अवगत कराने, स्कूल और कॉलेजों में निर्वाचन साक्षरता क्लब का गठन करने तथा सदस्यों को सक्रिय एवं तत्पर कर लोगों को जागरूक एवं प्रेरित करने की सलाह दी. कार्यशाला में पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार उप विकास आयुक्त अंशुल अग्रवाल अपर समाहर्ता कुमार मंगलम जिला भू अर्जन पदाधिकारी मोहम्मद शब्बीर आलम, भूमि सुधार उप समाहर्ता सदर मुकेश कुमार उप निर्वाचन पदाधिकारी निवेदिता सिन्हा सहित कई विद्यालयों के प्रिंसिपल एवं नोडल पदाधिकारी उपस्थित थे.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट