किसकी हुई विदाई जिसमे शामिल हुए 1000 NCC कैडेट !

2 सालों में बेहतरीन सेवा देने वाले कर्नल जोशी का
तमिलनाडु स्थानांतरण

आरा,17 जुलाई. 5 बिहार बटालियन NCC के कमान अधिकारी कर्नल विनोद जोशी का स्थानांतरण अब भारत के दक्षिण इलाके में हो गया है. कर्नल जोशी एक तेज-तर्रार और ईमानदार व्यक्तित्व वाले व्यक्ति हैं, जिन्होंने अपने दो वर्षों के कार्यकाल में 5 बिहार बटालियन NCC को एक नया मुकाम दिया है. जहाँ एक ओर देश सेवा की भावना से ओतप्रोत कर्नल में जहां बच्चों को देश के प्रति मोटिवेट करने की अद्भुत कला है वहीं दूसरी ओर अनुशासन और मेहनत के बल पर दुनिया जीत लेने की पाठ पढ़ाने का गुण. उन्होंने 2 सालों में कई कैम्प के जरिये NCC कैडेटों की बेहतरीन फौज खड़ी की है. अब वे दक्षिण भारत के मद्रास रेजिमेंट सेंटर वेलिंगटन तमिलनाडु में कमान अधिकारी का पदभार संभालेंगे. उनके स्थानांतरण की खबर सुनने के बात जिले भर के उनके चाहने वालो में मायूसी है लेकिन यह खुशी भी है कि वे भारत के दूसरे हिस्से में भी 5 बिहार बटालियन की तरह ही कैडेट खड़े करेंगे जो देश के लिए जियेंगे.




सोमवार को कमान अधिकारी कर्नल विनोद जोशी के स्थानांतरण पर जैन कॉलेज परिसर में विदाई सह सम्मान समारोह का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में कॉलेज और स्कूलों के NCC अफसर एवं एक हजार से अधिक NCC कैडेट्स शामिल हुए.

कार्यक्रम की शुरुआत पुष्प वर्षा, विदाई गार्ड ऑफ ऑनर और स्वागत गीत से हुई. कैडेटों द्वारा देशभक्ति गीत व नृत्य का आकर्षक मंचन किया गया. जाते-जाते अपने मेहनत से तैयार किये गए कैडेटों के लिए भाव-विभोर कर्नल विनोद जोशी ने अपने भाषण में कहा कि 23 माह के अंतराल के बाद 5 बिहार NCC बटालियन ने नई ऊंचाइयों को छुआ है. जो ट्रेनिंग टीम आगे भी जारी रखेगी. अपने जाने के बाद भी ट्रेनिंग जारी रखने की जिस दृढ़ता से उन्होंने बात की उससे साफ झलका कि उनके द्वारा दिये गए ट्रेंनिग में तैयार बच्चे उनके सोच को दिशा देंगे जो देशहित के लिए होगा.

उन्होंने वीर बाँकुड़ा बाबू कुंवर सिंह की धरती पर बटालियन के कुछ यादगार कार्यों को याद करते हुए बताया कि भोजपुर के NCC कैडेटों ने कुछ यादगार काम अपने जिले के लिए किया हैं, जिसमे विश्वविख्यात विश्व शांति यज्ञ, बाबू कुंवर सिंह का 160 वां विजयोत्सव, दिव्यांग मेला, गणतंत्र दिवस व स्वतंत्रता दिवस में प्रशासन के साथ भागीदारी, राज में कुप्रथा पर रैली, भाषण विभिन्न राष्ट्रीय समस्याओं पर सजगता भागीदारी पर रैलियां कुछ विशेष महत्वपूर्ण है.

बताते चलें कि कैडेटों का परीक्षाफल पिछले 2 वर्षों से पूरे राज्य में अव्वल रहा हैं. कर्नल जोशी ने बताया कि ईमानदारी और दृढ निश्चय में अथाह ताकत है. विभिन्न कैंपों में कैडेटो के सर्वांगीण विकास के लिए विभिन्न विषयों पर रात-दिन बेहतरीन कार्य करने वाले कर्नल जोशी ने कहा कि सैन्य ट्रेनिग और बेहतरीन खाना कैडेटो को दशको तक याद रखेगा. बटालियन की ट्रेनिंग टीम और सिविल स्टाफ की टीम भावना याद रहेगी.

उन्होंने आशा ब्यक्त किया कि आगे भी बटालियन राष्ट्र की भावी पीढ़ी के उज्जवल भविष्य के लिए कार्य करती रहेगी. जो राष्ट्र और बिहार को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा. अंत में उन्होंने सभी भोजपुर वासियों से मिले स्नेह के लिये सबका आभार व धन्यवाद ब्यक्त किया.

आरा से अपूर्वा की रिपोर्ट