किसके सम्मान से प्रफुल्लित है भोजपुर ?

बधाईयों और सम्मान का लगा ताँता

आरा, 5 जनवरी. कहते हैं कि शोहरत और बुलन्दी जब आपके पैरों में गिर जाए तो फिर दुनिया आपकी हो जाती है. कुछ ऐसी ही भोजपुर के एक ऐसे शख्स ने अपनी शख़्सियत बनाई जिसके बाद लंदन को भी लोहा मनना पड़ा और उन्हें एक विशिष्ट सम्मान से सम्मानित कर दिया. इसके बाद तो जैसे भोजपुर का डंका पूरी दुनिया मे बज गया. हम बात कर रहे हैं शिक्षाविद डॉ कुमार द्विजेन्द्र की, जिन्हें पिछले दिनों दिल्ली के हैबिटेट सेंटर में बॉल्स ब्रिज यूनिवर्सिटी, लंदन द्वारा आयोजित डॉक्टरेट सम्मेलन में शिक्षा, संस्कृति और समाज सेवा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित किया गया. डॉ कुमार द्विजेन्द्र को किसी पहचान की जरूरत नही वे “संभावना आवसीय उच्च विद्यालय, आरा” के निदेशक है.




इस सम्मान के बाद बधाई देने और उन्हें सम्मानित करने वालों का तांता लगा हुआ है. कई लोग व्यक्तिगत तो कई संस्थाए उन्हें अपने कार्यक्रमो के बुला सम्मानित कर रही हैं. बताते चलें कि आरा वापस आने के बाद स्कूल में एक कार्यक्रम रखा गया था जिसमे स्कूली बच्चों ने उन्हें सम्मानित किया. इस कार्यक्रम में जिले के कई प्रतिष्ठित व्यक्तियों ने शिरकत किया और उन्होंने भी कुमार द्विजेन्द्र के इस उपलब्धि पर उन्हें सम्मानित और बधाई देकर गर्वान्वित महसूस किया. जो लोग उस समारोह के दौरान नही उपस्थित थे वे अब स्कूल पहुंच बधाई दे रहे हैं.

पिछले दिनों इसी क्रम में जदयू नेता भाई जितेंद्र पाण्डेय और छात्र राजद के बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक रंजन ने मुलाकात कर फूल-गुलदस्ता दे बधाई दी है. जदयू नेता भाई जितेंद्र पाण्डेय ने कहा कि यह पूरे भोजपुर जिले के लिए गौरव की बात है. वहीं छात्र राजद के बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक रंजन ने कहा कि वो खुद संभावना स्कूल के छात्र रहे हैं और यह संभावना परिवार के साथ-साथ तमाम शिक्षाविदों के लिए हर्ष की बात है.

बताते चलें कि दिसम्बर 2018 में प्रसिद्ध रँगसंस्था भूमिका ने भी कुमार द्विजेन्द्र के इस उपलब्धि पर नागरी प्रचारिणी सभागार में अपने नाटक राग-दरबारी की प्रस्तुति के दौरान उन्हें शॉल और स्मार-पत्र देकर सम्मानित किया था. रंगकर्मियों में खुशी की विशेष लहर थी क्योंकि कुमार द्विजेन्द्र भी एक रंगकर्मी रह चुके है.

यह सम्मान उनके लिए भी भावुकता पलों में से एक था क्योंकि जिनलोगों के साथ कभी काम किया वही आज उन्हें सम्मानित कर रहे हो तो विशेष हो जाता है.

वही भोजपुर शतरंज संघ ने भी उनके इस उपलब्धि पर उन्हें सम्मानित किया. शतरंज संघ ने उनके लिए विशेष अभिनन्दन समारोह का आयोजन किया. बताते चलें कि खेलों के आयोजन में भी कुमार द्विजेन्द्र की अग्रणी भूमिका रही है और शतरंज के खेल से लेकर साइकिल पोलो जैसे खेलों तक को उन्होंने जिले में लाकर यहाँ की प्रतिभा को राष्ट्रीय स्तर तक पहुंचने का मौका दिया है. पटना नाउ टीम की ओर से भी उनके इस उपलब्धि पर बहुत बधाई.💐 बधाई के यह सिलसिला यूं ही चलता रहे ताकि हर बार एक नई उपलब्धि से जिले का नाम अनन्त तक ऊर्जान्वित होकर फैले.

आरा से अपूर्वा की रिपोर्ट