विपक्षी दलों को एकजुट करने की मुहिम की शुरुआत तेलंगाना से, पटना में नीतीश से मिलेंगे केसीआर

पटना।। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव पटना आ रहे हैं. केसीआर 31 अगस्त को पटना में अपने एक दिवसीय कार्यक्रम के दौरान कुछ पीड़ित परिवारों को मुआवजा वितरित करेंगे. इस दौरान वे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी मिलेंगे. इस मुलाकात के दौरान प्रमुख तौर पर बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव भी मौजूद रहेंगे. पिछले दिनों हैदराबाद के एक फैक्ट्री में आग लगने से बिहार के 11 मजदूरों की मौत हुई थी. मुख्यमंत्री सचिवालय संवाद में एक कार्यक्रम में केसीआर भाग लेंगे जहां वे मुआवजा की राशि उन पीड़ित परिवारों के परिजनों के बीच वितरित करेंगे. केसीआर गलवान घाटी में शहीद हुए सैनिकों के परिजनों के लिए मुआवजा राशि भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सौंपेंगे.

ये है असल मकसद: दरअसल दौरे का मुख्य मकसद वर्ष 2024 के चुनाव के लिए रणनीति तैयार करना है जिसके तहत देश के समस्त विपक्षी दलों को एकजुट करने की कोशिश चल रही है. चर्चा इस बात की भी जोरों पर है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 2024 में विपक्ष के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार हो सकते हैं और इसे लेकर राष्ट्रीय दल की तरफ से विशेष प्रयास किया जा रहा है.




File Pic

कुछ महीने पहले तेजस्वी यादव हैदराबाद गए थे जहां उन्होंने तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर से मुलाकात की थी. लालू यादव और केसीआर के बीच काफी अच्छे संबंध है. यही वजह है कि राष्ट्रीय जनता दल की तरफ से तमाम विपक्षी दलों को अगले लोकसभा चुनाव के लिए एकजुट करने की तैयारी अभी से तेज हो गई है. RJD प्रवक्ता एजाज अहमद ने कहा कि वर्ष 2024 के लिए सभी लाइक माइंडेड पार्टियों से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव मुलाकात करेंगे और उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर एकजुट करने का प्रयास करेंगे. एजाज अहमद ने कहा कि इस बारे में कांग्रेस आलाकमान सोनिया गांधी से पहले ही बातचीत हो चुकी है. विपक्ष के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के सवाल पर एजाज अहमद ने कहा कि इस पर बाद में चर्चा होगी, अभी तो सभी पार्टियों को एकजुट करने की कोशिश हो रही है ताकि 2024 में भाजपा से एक मजबूत विपक्ष एकजुट रूप से चुनाव में मुकाबला कर सके.

pncb