किसानों के लिए गुड न्यूज, अगस्त में अच्छी बारिश के संकेत

मुख्यमंत्री ने बाढ़ और सुखाड़ को लेकर की समीक्षा बैठक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज 1 अणे मार्ग स्थित ‘नेक संवाद’ में बाढ़-सुखाड़ के सन्दर्भ में समीक्षा बैठक की. बैठक में मुख्य सचिव, विकास आयुक्त के साथ ही संबंधित विभागों के प्रधान सचिव/सचिव के अतिरिक्त वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी प्रमंडलीय आयुक्त एवं जिलाधिकारी जुड़े थे. समीक्षा बैठक में मौसम विभाग के अधिकारी ने माॅनसून-2018 की वर्तमान एवं संभावित स्थिति के संबंध में प्रेजेंटेशन दिया, जिसमें अगस्त माह में बिहार में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई गयी है. जल संसाधन विभाग के प्रधान सचिव ने मुख्यमंत्री के समक्ष बाढ़ एवं सुखाड़ की स्थिति से निपटने के लिए बनायी गयी विभागीय योजनाओं और तैयारी के संबंध में प्रस्तुतीकरण दिया. प्रेजेंटेशन में सोन नहर प्रणाली, गंडक नहर प्रणाली, कोशी नहर प्रणाली के साथ ही अन्य सिंचाई परियोजनाओं के जरिये किसानों के खेतों तक पानी उपलब्ध कराने, प्रमुख जलाशयों में वर्तमान जल संचयन की स्थिति, योजनावार खरीफ सिंचाई योजना के लक्ष्य एवं उपलब्धि, नहरों से जलापूर्ति की अवधि, बाढ़-2018 की तैयारी के निमित लिए गए एहतियाती फैसले, खरीफ सिंचाई-2018 हेतु नहर प्रणालियों के जलस्राव के अलावा गंगा, गंडक एवं कोशी के जलस्तर के सन्दर्भ में विस्तृत प्रतिवेदन मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत किया गया. कृषि विभाग के प्रधान सचिव ने बाढ़ एवं सूखे की स्थिति से निपटने के लिए तैयार की गयी विभागीय योजनाओं एवं लिए गये फैसलों का प्रतिवेदन मुख्यमंत्री के समक्ष प्रजेंटेशन के माध्यम से जिलावार प्रस्तुत किया. प्रेजेंटेशन में विगत चार वर्षों का वर्षापात, पूरे बिहार में वर्तमान वर्षापात की सामान्य

Read more

‘नीतीश ने सामाजिक न्याय की राजनीति को अन्याय की राजनीति में बदल दिया’

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) । राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी का कहना है – बहुत कुछ गवाँ कर नीतीश कुमार को शराबबंदी के तालिबानी क़ानून में संशोधन का ख़याल आया. पहले तो बिहार की गली-गली में नीतीश सरकार ने शराब की दुकान खुलवाई. शराब का लत लगाकर लोगों को शराबी बनाया. इतनी बदतर हालत हो गई थी कि शराबियों के उत्पात से गाँव-देहात में महिलाओं का घरों से बाहर निकलना कठिन हो गया था. जगह-जगह महिलाओं ने नीतीश कुमार की सभाओं में शराब की इस प्रकार की खुली और व्यापक बिक्री का विरोध करना शुरू किया. लेकिन नीतीश कुमार से जवाब मिलता था कि अगर शराब की बिक्री बंद हो जाएगी तो लड़कियों को जो सायकिल और पोशाक का पैसा मिल रहा है वह कहाँ से आएगा ! लेकिन अचानक नीतीश जी को शराबबंदी के सहारे चेहरा चमकाने का ख़याल आया. समाज में बग़ैर शराबबंदी के पक्ष में जागरूकता फैलाए आनन-फ़ानन में तानाशाही मंडन में तालिबानी क़ानून बना कर लागू कर दिया. हमारे समाज में ग़रीबों और दलितों के शोषण का एक ज़रिया शराब भी रहा है. शराब के नशे में मदहोश कर उनसे अमानवीय काम करवाना तो हमारे यहाँ की आम रवायत रही है. आज भी है. कई दलित, आदिवासी और पिछड़ी जातियों में नशा तो उनके जीवन का अंग बन गया था. शराब पीना भी अपराध हो सकता है यह उनके सपना में भी नहीं आया होगा. इसलिए बग़ैर जागरूकता फैलाए सत्ता के झोंक में लिए गए नीतीश सरकार के शराबबंदी क़ानून के क़हर का सबसे ज़्यादा शिकार यही

Read more

नीतीश से मिलेंगे अमित शाह, नाश्ते और डिनर पर भी होंगे एक साथ

File pic 12 जुलाई को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पटना आ रहे हैं. पर इससे ज्यादा महत्वपूर्ण ये कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार उन्हें भोज दे रहे हैं. जी हां, बीजेपी ने अमित शाह का जो कार्यक्रम जारी किया है उसके मुताबिक बीजेपी अध्यक्ष सीएम नीतीश से दो बार मुलाकात करेंगे. एक तो सुबह के नाश्ते पर और दूसरा डिनर पर. अमित शाह 12 जुलाई को सुबह 10.00 बजे पटना के लोकनायक जयप्रकाश नारायण अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचेंगे जहाँ बिहार भाजपा के नेतागण उनकी आगवानी एवं स्वागत करेंगे. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पटना पहुँचने के बाद राजकीय अतिथिशाला जायेंगे, जहाँ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं वरिष्ठ नेताओं के साथ सुबह का जलपान करेंगे. दिन भर की गतिविधियों के बाद अमित शाह मुख्यमंत्री आवास पर नीतीश के साथ रात्रि भोजन करेंगे.  भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का बिहार दौरा बहुत ही ऐतिहासिक एवं भव्य होगा. हमारे माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष  के नेतृत्व में भाजपा देश ही नहीं दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक संगठन बनी है जो हम सभी पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए बड़े ही गर्व और हर्ष का विषय है। स्वाभाविक तौर पर हम उनके स्वागत में कोई कोर कसर नहीं रहने देना चाहते हैं- नित्यानंद राय, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष   अमित शाह का शेड्यूल 12 जुलाई- बापू सभागार में 11.30 बजे से 12.30 बजे तक आयोजित सोशल मीडिया की बैठक में भाग लेंगे ज्ञान भवन में 12.45 बजे से 1.45 बजे दोपहर तक विस्तारकों की बैठक में भाग लेंगे ज्ञान भवन परिसर में ही दोपहर का भोजन करेंगे दोपहर 2.30 बजे से 3.30 बजे तक शक्ति केंद्र प्रभारियों की बैठक बापू

Read more

NDA में आपको कोई दिक्कत दिख रही है क्या!

NDA को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहली बार बयान दिया है. पिछले कई दिनों से लगातार सीट शेयरिंग और टूट को लेकर एनडीए में बिखराव की खबर आ रही है. विपक्ष भी लगातार एनडीए में टूट का दावा कर रहा है. इन सबपर विराम लगाने की कोशिश करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि एनडीए पूरी तरह साथ है. मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए सीएम ने कहा कि जब चुनाव का वक्त आएगा तो सीट शेयरिंग पर चर्चा होगी. फिलहाल आपको कोई दिक्कत दिख रही है क्या. उन्होंने कहा कि कौन पार्टी क्या दावा कर रही है ये जानने में मेरी कोई दिलचस्पी नहीं है. नीतीश कुमार ने कहा कि आज एनडीए के सभी घटक दल मिलकर काम कर रहे हैं. इसलिए मैं बेकार की बातों पर ध्यान नहीं देता. दरअसल पिछले दिनों पहले एनडीए की पहली बैठक में उपेन्द्र कुशवाहा की अनुपस्थिति और फिर इफ्तार पार्टी में भी रालोसपा से अन्य दलों की दूरी देखने को मिली. हालांकि बीजेपी ने हरसंभव कोशिश की है रालोसपा संग नजदीकी की. लेकिन जदयू और लोजपा की रालोसपा से दूरी बीजेपी के लिए एनडीए में एकजुटता बनाने की कोशिश को मुश्किल बना सकती है.

Read more

चाचा नेहरू को श्रद्धांजलि

प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू जी को श्रद्धांजलि आज देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल की पुण्यतिथि है. इस अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पंडित जवाहर लाल नेहरु की आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी. पटना जंक्शन गोलम्बर स्थित पंडित जवाहर लाल नेहरु की प्रतिमा स्थल पर पुण्यतिथि के मौके पर राजकीय समारोह का आयोजन किया गया, जहाँ मुख्यमंत्री ने शोक सलामी लेने के बाद एक मिनट का मौन धारण किया. इस अवसर पर शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, जिलाधिकारी कुमार रवि, वरीय पुलिस अधीक्षक मनु महाराज सहित अन्य कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे. सूचना एवं जन-सम्पर्क विभाग के कलाकारों के द्वारा भजन एवं देशभक्ति गीतों का गायन किया गया.

Read more

मुलाकात हुई, क्या बात हुई…

जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं, बिहार में भी सियासी सरगर्मी तेज हो गई है. खासकर मुलाकातों का दौर कुछ ऐसा चल पड़ा है कि राजनीतिक पार्टियां एक-दूसरे के साथ भविष्य के लिए राजनीतिक बिसात बिछाने लगी हैं. एक ऐसी ही मुलाकात बिहार में चर्चा में है. पिछले कुछ महीनों के भीतर रालोसपा अध्यक्ष और केन्द्रीय मानव संसाधन राज्यमंत्री उपेन्द्र कुशवाहा दूसरी बार सीएम नीतीश कुमार से मिलने पहुंचे. एक  अन्ने मार्ग पर हुई इस मुलाकात को आधिकारिक तौर पर शिष्टाचार मुलाकात बताया गया है. लेकिन इसे लेकर राजनीतिक चर्चा जोरों पर है. बताया जा रहा है कि मुलाकात के दौरान बिहार में शिक्षा की स्थिति को बेहतर बनाने पर दोनों नेताओं के बीच चर्चा हुई. लेकिन सूत्रों की मानें तो दोनों नेताओं के बीच राजनीतिक मुद्दे पर खास बातें हुई हैं. राजेश तिवारी

Read more

‘राजनीतिक वजूद बचाने के लिए नीतीश फिर उठा रहे विशेष राज्य की मांग’

राजद के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला है. शिवानंद ने कहा कि जदयू को अब अहसास हो रहा है कि बिहार के साथ अन्याय हो रहा है. अब तक हुए अन्याय और शोषण के प्रतिकार के रूप में ही बिहार के लिए विशेष श्रेणी के राज्य की माँग है. हमें याद है कि जब मनमोहन सिंह जी की सरकार थी तब विशेष राज्य के एवज़ में नीतीश कुमार उनको समर्थन देने के लिए तैयार थे. राजद नेता ने पूछा है कि इस बार जब महागठबंधन छोड़कर वे पुन: जब नीतीश कुमार भाजपा के साथ गए तो उसी समय नरेंद्र मोदी से विशेष श्रेणी के राज्य का क़रार उन्होने क्यों नहीं करवा लिया था. महागठबंधन छोड़कर जाने के बाद नीतीश मौन थे. इधर अचानक सामाजिक सदभाव और विशेष श्रेणी के राज्य की चिंता उनको सताने लगी है. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी से नीतीश कुमार को जो अपेक्षा थी वह पूरी नहीं हो रही है. राजनीतिक वजूद का संकट है. उपचुनावों का नतीजा बता रहा है कि वोट का जो भी उनका आधार था वह खिसक चुका है. राजनीतिक वजूद बचाने के लिए यह सब दिखावा हो रहा है. लेकिन अब नीतीश जी चाहे जो भी क़वायद कर लें इसका कोई नतीजा नहीं निकलने वाला है.   राजेश तिवारी

Read more

नीतीश, राबड़ी समेत 11 सदस्यों का कार्यकाल हो रहा पूरा, ‘रिन्यूवल’ 26 को

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी समेत 11 सदस्यों का विधान परिषद् में 6 वर्षीय कार्यकाल अप्रैल में पूरा हो रहा है. इस महीने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, डिप्टी सीएम सुशील मोदी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे, पूर्व सीएम राबड़ी देवी, लाल बाबू प्रसाद, संजय सिंह, नरेन्द्र सिंह, सत्येन्द्र कुशवाहा, उपेन्द्र कुशवाहा और राजकिशोर कुशवाहा और चंदेश्वर प्रसाद का कार्यकाल पूरा हो रहा है. इन 11 सीटों पर चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने शेड्यूल जारी कर दिया है. शेड्यूल के मुताबिक चुनाव 26 अप्रैल को होगा और उसी दिन देर शाम तक नतीजे भी आ जाएंगे. चुनाव की अधिसूचना 9 अप्रैल को जारी होगी. अधिसूचना के साथ ही नामांकन का काम शुरू हो जाएगा, जो 16 अप्रैल तक चलेगा. 17 अप्रैल को नामांकन पत्रों की जांच होगी. 19 अप्रैल तक कैंडिडेट नाम वापस ले सकेंगे. मतदान 26 अप्रैल को होगा. मतदान का समय सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक होगा. ब्यूरो रिपोर्ट

Read more

लालू के ट्वीट पर सीएम नीतीश का वार

ट्विटर पर एक बार फिर लालू और नीतीश के बीच जंग तेज हो गई है. एनडीए सरकार पर भ्रष्टाचार को लेकर लालू ने ट्वीट किया था, जिसके बाद सीएम नीतीश कुमार ने उनपर कटाक्ष किया है. जान की चिंता, माल-मॉल की चिंता,सबसे बड़ी देशभक्ति है ! — Nitish Kumar (@NitishKumar) November 29, 2017 देखिए क्या ट्वीट किया था लालू ने- लालू तथाकथित भ्रष्टाचारी है इसलिए महागठबंधन की 18 महीनों की सरकार में एक भी घोटाला नहीं हुआ। नीतीश और BJP ईमानदार है इसलिए मात्र चार महीनों में हज़ारों करोड़ के दसियों घोटाले हुए है। बताओ, हुए है कि नहीं? pic.twitter.com/9J8tL4QbYL — Lalu Prasad Yadav (@laluprasadrjd) November 28, 2017

Read more

‘जेल में बनेगी लालू की समाधि’

बिहार की सियासय में फोटो और समाधि को लेकर जैसे होड़ मच गई है. पहले वायरल फोटो को लेकर राजद और जदयू आपस में भिड़ गए और अब रविवार को लालू के एक बयान को लेकर एक बार फिर दोनों दलों के नेताओं में जुबानी जंग तेज हो गई. इसके साथ ही  बीच में बीजेपी भी कूद पड़ी और डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने लालू यादव को मानसिक रुप से बीमार बता दिया. सुमो ने कहा कि लालू यादव का दिमाग खराब हो गया है. आजकल वो CBI, ED, IT के चक्कर लगा रहे हैं, इसलिए उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. बता दें कि सीएम नीतीश एक  दिन के दौरे पर रविवार को नालंदा गए हैं. इसको लेकर लालू ने विवादास्पद बयान दे दिया. लालू यादव ने सीएम नीतीश कुमार के राजगीर दौरे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि नीतीश की समाधि राजगीर में ही बनेगी. इसपर भड़के जदयू नेता संजय सिंह ने कहा कि लालू की समाधि जेल में बनेगी. संजय सिंह ने ये भी कहा कि नीतीश कुमार की समाधि बनेगी तो लोग उन्हें याद करेंगे. लेकिन लालू की समाधि तो जेल में ही बनेगी और उन्हें कौन याद करेगा.

Read more