कन्हैया और जिग्नेश मेवानी अब कांग्रेस का थामेंगे हाथ

बिहार के लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा था कन्हैया को

कन्हैया कुमार और जिग्नेश की फाइल फोटो

नई दिल्ली : जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार 28 सितंबर को कांग्रेस पार्टी में शामिल होंगे। नई दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय में उनके और गुजरात से विधायक जिग्नेश मेवानी को पार्टी की सदस्यता दिलाई जाएगी। इस खबर के मीडिया में आने के बाद सबसे ज्यादा असर सीपीआई पर पड़ेगा क्योंकि कन्हैया कुमार पर भरोसा कर पार्टी ने उन्हें बिहार से लोक सभा का टिकट दिया था और अब कन्हैया कुमार ने अपना घर ही बदल लिया। कांग्रेस ने प्रशांत किशोर की अगुआई में कुछ बड़ा करने की कोशिश कर रही है जिसके कारण युवा चेहरों पर ज्यादा भरोसा दिखाया जा रहा है ।कन्हैया कुमार को लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा था उसके बाद भी कांग्रेस ने उनपर दांव खेलने जा रही है। कन्हैया कुमार भूमिहार जाति से आते है और वे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के खिलाफ बेगुसराय से खड़े हुए थे।जातिगत गठबंधन को लेकर कांग्रेस ने विधानसभा और 2024 के लोक सभा चुनाव को देखते हुए कन्हैया कुमार और जिग्नेश पर भरोसा किया है ।ये दोनों 28 सितम्बर को कांग्रेस में शामिल होंगे। कांग्रेस पार्टी अब बदलाव के मूड में है और चुनाव में जीत की दहलीज तक पहुंचने के लिए पार्टी जातीय समीकरणों के साथ युवाओं पर दांव लगाने जा रही। ताकि, 2024 के चुनाव में जीत हासिल की जा सके।




Pnc desk