जय श्री राम बोलने पर मचा बवाल

जय श्री राम क्या बोले मंत्री खुर्शीद अहमद, कोहराम मच गया. 28 जुलाई को विधानसभा में बहुमत हासिलस करने के बाद विधानसभा के बाहर खुर्शीद अहमद ने जय श्री राम के नारे लगाए थे. खुर्शीद अहमद ने कहा था कि अगर बिहार के विकास के लिए जरुरी हो तो वे सुबह-शाम ये नारा लगाएंगे.




उनके इस बयान के बाद जैसे भूचाल आ गया. उनके खिलाफ फतवा जारी किया गया. राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी और इलियास हुसैन ने खुर्शीद अहमद पर जमकर निशाना साधा. सिद्दीकी ने कहा कि खुर्शीद ऐसे खुश हो रहे हैं जैसे उन्हें सिंहासन मिल गया हो.

रविवार को अल्पसंख्यक कल्याण की बैठक के दौरान मुसलमानों ने खुर्शीद अहमद का जमकर विरोध किया. इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी वहां मौजूद थे. सीएम नीतीश कुमार ने खुर्शीद अहमद को अपने बयान पर माफी मांगने की सलाह दी. इसके बाद मंत्री खुर्शीद अहमद ने कहा कि अगर उनके बयान से किसी को ठेस पहुंची है तो वे माफी मांगते हैं. इसके बाद वहां मौजूद लोगों ने तालियां बजाई और अब मामला शांत होता दिख रहा है.