लिट्रा वैली स्कूल में इन्वेस्टिचर सेरेमनी का आयोजन

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) । भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है.लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं के तहत चुने गये लोग जनता का प्रतिनिधित्व करते हैं. लोकतंत्र की इस खूबसूरती को और विस्तारित स्वरूप दिया पटना के लिट्रा वैली स्कूल ने. बच्चों में लोकतांत्रिक व्यवस्था और चुनावी प्रक्रियाओं की बेहतर समझ विकसित करने को लेकर इस स्कूल ने अनूठी पहल की है.

हाल ही में स्कूल में इन्वेस्टिचर सेरेमनी का आयोजन किया गया. जिसमें हेड ब्वाय, हेड गर्ल, वाइस हेड ब्वाय और वाइस हेड गर्ल चुने गये जो स्कूल का प्रतिनिधित्व करेंगे और छात्रों और स्कूल प्रशासन के बीच एक कड़ी होंगे. चुनाव प्रचार, बहस और वोटिंग सहित तमाम चुनावी प्रक्रियाओं का अनुसरण कर छात्र-छात्राओं ने अपने बीच से अपना नेता चुना और स्कूल प्रशासन ने बेहतर नेतृत्व क्षमता वाले छात्र-छात्राओं को नेतृत्व सौंपा. इस अवसर पर स्कूल के निदेशक अमित प्रकाश ने कहा कि एक लोकतांत्रिक प्रक्रिया के तहत छात्रों में से हेड ब्याय, हेड गर्ल, वाइस हेड ब्याय, वाइस हेड गर्ल, हाउस कैप्टन के अलावा काउंसिल मेम्बर्स का चुनाव किया गया है. हेड ब्वाय के रूप में शुभम प्रकाश, हेड गर्ल अभिज्ञा रंजन, वाइस हेड ब्वाय अजितेश, वाइस हेड गर्ल स्वेच्छा का चयन हुआ है. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. विकास कुमार सिंह ने कहा कि छात्रों के बीच से एक चुनावी प्रक्रिया के तहत चुनकर कुछ नये चेहरों को स्कूल की बागडोर संभालने के लिए नियुक्त किया गया है. जिन्हें नियुक्त किया गया है वे स्कूल के प्रतिनिधि के तौर पर काम करेंगे और छात्रों और स्कूल प्रशासन के बीच में कड़ी का काम करेंगे. बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए यह आयोजन किया गया था. वहीं स्कूल के प्रिंसिपल शरत कुमार सिंह ने कहा कि लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं के तहत छात्र-छात्राओं के बीच से उनका नेता चुना गया है. बच्चों में खुशी है कि अपने बीच से उन्होंने अपना नेता चुना है और स्कूल प्रशासन इसलिए खुश है क्योंकि हमने देश के भावी नेताओं का चुनाव किया है. इस अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. विकास कुमार सिंह , स्कूल के निदेशक अमित प्रकाश, स्कूल के प्राचार्य शरत कुमार सिंह के अलावा स्कूल की एकेडमिक हेड शबनम भौमिक, अंग्रेजी की शिक्षिका अंजू चौधरी, भौतिकी की शिक्षिका अनुपम कौशल, परीक्षा पदाधिकारी सह कम्प्यूटर शिक्षक रोहित रंजन और छात्र-छात्राओं के अभिभावक सहित कई लोग मौजूद थे.