डॉक्टर अब देख पाएंगे अस्पतालों में अधिक मरीज, बढ़ेगी सुविधा

राज्य स्वास्थ्य मंत्री ने की राज्यस्तरीय मासिक समीक्षात्मक बैठक




पटना, 24 मई. राज्य स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण संस्थान, पटना के सभागार में मंगलवार को राज्य स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय की अध्यक्षता में राज्यस्तरीय मासिक समीक्षात्मक बैठक का आयोजन किया गया. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अंतर्गत विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों की भौतिक एवं वित्तीय प्रगति एवं अद्यतन स्थिति की समीक्षा हेतु सभी क्षेत्रीय अपर निदेशक, स्वास्थ्य सेवाएं, सिविल सर्जन, क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक एवं जिला कार्यक्रम प्रबंधक की राज्यस्तरीय मासिक समीक्षात्मक बैठक में शामिल हुए.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने उक्त अवसर पर कहा कि राज्य में स्वास्थ्य संबंधी जो कार्यक्रम चल रहे हैं, उसकी समीक्षा की गयी है. आने वाले समय में चिकित्सकों को अस्पतालों में मरीज देखने में अधिक सुविधा हो ताकि वह अधिक मरीज को देख सकें. दवाईयों की व्यवस्था और बेहतर हो. जो दवाईयां हमारे स्टॉक में उपलब्ध हैं, वो अधिक से अधिक अस्पतालों तक पहुंच सकें. जांच संबंधी सुविधाओं में यदि कठिनाई हो रही हो, तो उसमें और सुधार की जाए. उसके अलावे ऐसे मानक जिनके कारण स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा की जाती है, उस पर भी चर्चा की गयी. मातृ मृत्यु दर, शिशु मृत्यु दर, नवजात शिशु मृत्यु दर, टीबी नियंत्रण, मलेरिया नियंत्रण, कालाजार समेत अन्य कार्यक्रमों सबंधी समीक्षा भी की गयी.

उन्होंने आगे कहा कि तीन वर्षों में स्वास्थ्य क्षेत्र में योदगान देने वाले चिकित्सक एवं अन्य स्वास्थ्यकर्मियों की लगभग 29 हजार बहाली हुई है. मानवबल की कमियों को दूर किया जा रहा है. तीन जिले जो बेहतर कार्य करेंगे उनको सम्मानित किया जाएगा. जहां भी कमियां हैं उसे दूर किया जा रहा है.

बैठक में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों की अद्यतन स्थिति (एईएस/जेई सहित), स्वास्थ्य कार्यक्रमों हेतु निर्धारित सूचकांकों की प्रगति, कार्यक्रमवार आवंटित राशि की व्यय की अद्यतन स्थिति एवं समय-समय पर मुख्यालय स्तर से निर्गत दिशा-निर्देशों के अनुपालन की भी समीक्षा की गई.

बैठक में कार्यपालक निदेशक, राज्य स्वास्थ्य समिति संजय कुमार सिंह, केशवेंद्र कुमार, अपर-कार्यपालक निदेशक, राज्य स्वास्थ्य समिति, शशांक शेखर सिन्हा, माननीय स्वास्थ्य मंत्री के आप्त सचिव, कमल नयन, प्रशासी पदाधिकारी, राज्य स्वास्थ्य समिति, राजेश कुमार उप सचिव, राज्य स्वास्थ्य समिति,अविनाश कुमार पाण्डेय, राज्य कार्यक्रम प्रबंधक, राज्य स्वास्थ्य समिति समेत अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित थे.

PNCB