8वीं तक की कक्षाओं का संचालन समय बदला, डीएम का आदेश

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | पटना के सभी स्कूलों, प्राइवेट एवम सरकारी के संचालन समय में 26 अप्रैल से परिवर्तन किया गया है. भीषण गर्मी से बच्चों पर पड़ने वाले प्रभाव को देखते हुए डीएम कुमार रवि ने ये आदेश जारी किया. 8वीं तक की कक्षायें 26 अप्रैल से प्रातः 6.45 से 11.45 तक ही संचालित होंगे.

Read more

हनुमान जन्मोत्सव पर करें ये उपाय

उज्जैन (पं अजय दूबे) | शास्त्र अनुसार चैत्र शुक्ल पक्ष पूर्णिमा को हनुमान जन्मोत्सव मनाया जाता है जो इस बार 19 अप्रैल 2019 शुक्रवार के दिन मनाया जाएगा. इस दिन हनुमान जी से जो भी कामना की जाए निश्चित रूप से पूर्ण होती है कुछ आसान और घरेलू उपाय जिसे हनुमान जन्मोत्सव के दिन करके कष्टों से मुक्ति पाई जा सकती है.यह दिन हनुमान जी की पूजा का सबसे बड़ा दिन माना जाता है. इस दिन अगर कोई भी व्‍यक्‍ति सच्‍चे मन से हुनमान जी की अराधना करे तो उसे काफी लाभ पहुंचता है. मान्‍यता है कि इस दिन किये गए खास उपाय व्‍यक्‍ति को विशेष फल प्रदान करते हैं. इस दिन अगर आप हनुमान जी के मंदिर में लाल रंग का चोला चढ़ाते हैं तो उसका भी खास लाभ होता है. श्री हनुमान को सिंदूर अत्यंत प्रिय है. उनकी पूजा से पहले आप उन्‍हें सिंदूरी का लेप लगा सकते हैं. इससे जीवन में सकारात्‍मकता आती है. हनुमान जी को सिंदूर का चोला चढ़ाने से एवं मूर्ति का स्पर्श करने से सकारात्मक ऊर्जा मिलती है. आइये जानते हैं हनुमान जन्मोत्सव के दिन किन उपायों को करने से भक्‍त का जीवन बदल सकता है. 5 देसी घी के रोटी का भोग हनुमान जन्मोत्सव पर लगाने से दुश्मनों से मुक्ति मिलती है. कारोबार में वृद्धि के लिए हनुमान जन्मोत्सव पर सिंदूरी रंग का लंगोट हनुमानजी को पहनाइए. हनुमान जी के मंदिर जाएं, उन्हें केसरी रंग का चोला चढ़ाएं और बूंदी के लड्डू का भोग लगाएं. सिर से 8 बार नारियल वारकर हनुमान

Read more

64वीं पीटी का रिवाइज्ड रिजल्ट के लिये जबरदस्त धरना प्रदर्शन

पटना (राजेश तिवारी) | बिहार लोक सेवा आयोग में वर्ष 2018 की पीटी में आए प्रश्नों के गलत आंसर और परीक्षा परिणाम में दूसरी विसंगतियों से नाराज बिहार और उत्तर प्रदेश के डेढ़ सौ से अधिक अभ्यर्थियों ने पटना बीपीएससी कार्यालय के सामने हंगामा किया. परीक्षा 16 दिसंबर 2018 को हुई थी. इसमें दो लाख 95 हजार 4 सौ 44 परीक्षार्थी शामिल हुए थे. 19 हजार 109 सफल हुए हैं. मुख्य परीक्षा जुलाई में होगी. इसमें सामान्य के 9320, एससी के 2689, एसटी 131, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के 3357, पिछड़ा वर्ग के 2138, पिछड़ा महिला 573, विकलांग 570 और स्वतंत्रता सेनानी के 280 रिश्तेदार सफल घोषित किए गए हैं. सामान्य वर्ग पुरुष का कटऑफ 97, महिला का 86, एससी पुरुष का 85, एससी महिला का 69, एसटी पुरुष का 89 व महिला 80, अत्यंत पिछड़ा वर्ग पुरुष का 90, महिला का 76, पिछड़ा वर्ग पुरुष का 93 व महिला में 82 रहा. पूरे राज्य में 808 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे. कुल रिक्तियां 1465 हैं.वहीं, प्रदर्शन कर रहे छात्रों का कहना था कि  अगर सरकार उनके मांगों को नहीं मानती तो वे लोग हो रहे लोकसभा के चुनावों में नोटा का इस्तेमाल करेंगे, साथ ही घर घर जाकर पक्ष और विपक्ष का विरोध भी करेगे.

Read more

बिहार बोर्ड का एक और रिकॉर्ड, 29 दिन में ही जारी कर दिया मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट, 80.73% हुए पास

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | मैट्रिक वार्षिक परीक्षा, 2019 का परीक्षाफल भी समिति द्वारा रिकार्ड 29 दिन में जारी किया जा रहा है. विदित हो कि मैट्रिक वार्षिक परीक्षा, 2019 की उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य दिनांक 8 मार्च, 2019 से प्रारम्भ हुआ था. मैट्रिक परीक्षा 2019 में इस बार परीक्षार्थियों की कॉपियों की जांच के लिए एक सॉफ्टवेयर तैयार किया गया था. नई तकनीक के अंतर्गत जिस दिन कॉपियों की जांच हो रही थी, उसी दिन उनकी एंट्री सॉफ्टवेयर पर कर दी गई. इससे पहले इसके लिए लंबी प्रक्रिया से गुजरना होता था, जो कि अब नहीं है और इसी कारण रिजल्ट जल्दी जारी कर दिए गए. इसके लिए हर मूल्यांकन केंद्र पर कंप्यूटर की व्यवस्था की गई थी. इसके साथ ही इस बार बार-कोड वाली कॉपियों का इस्तेमाल किया गया था, जिसकी वजह से परीक्षार्थियों के डेटा को लेकर ज्यादा दिक्कत नहीं हुई. इससे टाइम काफी बचा और रिजल्ट भी जल्दी जारी करने में मदद मिली. इससे कॉपियों के डेटा को एकत्रित करने में दिक्कत नहीं हुई और कम समय में सभी के डेटा का एक स्थान पर कर लिया गया.वार्षिक माध्यमिक परीक्षा, 2019 का परीक्षाफल निम्नलिखित वेबसाइट पर देखा जा सकता है – ◆http://www.bsebresult.online ◆http://www.bsebonline.org

Read more

मगध महिला और पटना वीमेंस कॉलेज की छात्राओं के लिए स्पेशल बस

परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला, परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल  और राज्य परिवहन आयुक्त मती श्रीमति सीमा त्रिपाठी ने दिखाई हरी झंडी कॉलेज प्रशासन और छात्राओं की मांग पर बिहार राज्य पथ परिवहन निगम ने शुरू किया है स्पेशल बस स्पेशल बस शुरू किए जाने पर छात्राओं में खुशी की लहर छात्राओं ने कहा अब कॉलेज से घर जाने में भीड़ का नहीं करना पड़ेगा सामना, सुकून से बस में होगी यात्रा परिवहन सचिव  संजय कुमार अग्रवाल ने कहा- छुट्टी के समय मगध महिला कॉलेज और पटना वीमेंस कॉलेज के पास खड़ी रहेगी बस सोमवार से मगध महिला और पटना वीमेंस से पटना सिटी के लिए खुलेगी 2 स्पेशल बस समय और पैसे की बचत के साथ छात्राएं बस में कर सकेंगी सुरक्षित यात्रा मगध महिला कॉलेज और पटना वीमेंस कॉलेज से हर दिन खुलेगी 1-1 स्पेशल बस यह बस पूरी तरह छात्राओं के लिए रहेगी बसों में लगाये गए हैं रोड सेफ्टी संबंधित जागरुकता के स्टीकर सड़क सुरक्षा नियमों के प्रति जागरूक करने के लिए बस के चारों तरफ लगाए गए हैं विशेष स्टीकर परिवहन सचिव ने कहा बसों में छात्राओं के लिए शुरू की जायेगी इलेक्ट्रॉनिक मंथली पास पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | मगध महिला कॉलेज और पटना वीमेंस कॉलेज से अब हर दिन छुट्टी के समय स्पेशल बस खुलेगी. छात्राओं को भीड़-भाड़ में होकर बसों से यात्रा नहीं करनी पड़ेगी. कॉलेज कैंपस से ही छात्राएं स्पेशल बस में सवार होकर घर जा सकती हैं. छात्राओं के लिए 2 स्पेशल की सेवा परिवहन विभाग द्वारा शुरू की गई है.

Read more

हर रात आठ घंटे चलेंगी विदेशी मशीनें, काम होगा पटना की सफाई का

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | पटना दुनिया के सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में से एक है और इसके प्रदूषण का मुख्य कारण धूलकण है. शहर की सफाई के लिए इटली एवं तुर्की से मंगाई गई स्वीपिंग मशीनें शुक्रवार रात से सड़कों पर उतरेंगी. हर रात 10:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक यह मशीनें काम करेंगी. तीन बड़ी मशीनें प्रतिदिन 150 किलोमीटर और चार छोटी मशीनें प्रतिदिन 140 किलोमीटर सफाई करेंगी. धूल-गंदगी की सफाई और कचरा उठाने के अलावा इन मशीनों से नियमित रुप से सड़कों की धुलाई भी की जाएगी.शहर के सभी प्रमुख सड़कों पर इन गाड़ीनुमा सफाई मशीनों से साफ-सफाई का काम किया जाएगा. हर अंचल से इस संबंध में प्रस्ताव मांगा गया था जिसके आधार पर रोस्टर तैयार किया गया है. हर अंचल में एक बड़ी मशीन उपलब्ध कराई जाएगी. वहीं चार छोटी मशीनों का आवश्यकतानुसार प्रयोग किया जाएगा. गंगा किनारे बने रिवर फ्रंट की सफाई के लिए एक छोटी स्वीपिंग मशीन को रिजर्व में रखा गया है. इटली और तुर्की से आयातित इन मशीनों के संचालन एवं रखरखाव का जिम्मा हैदराबाद की एजेंसी श्री राज राजेश्वरी इंटरप्राइजेज को सौंपा गया है. एजेंसी के साथ पटना नगर निगम ने एक साल का एग्रीमेंट किया है जिसकी अवधि 2 साल तक बढ़ाई जा सकती है. इस एकरारनामा के अंतर्गत एजेंसी को गाड़ियों के परिचालन एवं मेंटेनेंस का कार्य करना है. पटना नगर निगम का उद्देश्य है, संपूर्ण पटना शहर को धूल मुक्त किया जाए.

Read more

क्योंकि… बीएसएनएल सेवा बंद नहीं हो रही

पटना (डेस्क रिपोर्ट) | अभी कुछ ही दिन पहले मीडिया में एक सन्देश प्रचारित हुआ जिसके अनुसार यह कहा गया कि भारत सरकार का उपक्रम बीएसएनएल लाभकारी यानी प्रॉफिटेबल नहीं रही, इसलिए इसे जल्द बंद किया जा सकता है. कहा गया कि सरकार ने कथित तौर पर कंपनी को बंद करने सहित सभी विकल्पों का पता लगाने के लिए कहा है. यह भी कहा गया कि बीएसएनएल पिछले तीन साल से लगातार घाटे में चल रही है. वर्ष 2016-17 में BSNL को 4793 करोड़ का नुकसान हुआ था. यहां तक लिखा गया कि इसी कारण बीएसएनएल ने वर्ष 2017-18 के वित्तीय परिणामों की घोषणा नहीं की. समाचार आई कि डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक एंटरप्राइसेज द्वारा दी गई गाइडलाइन्स के मुताबिक, BSNL को Incipient Sick बताया गया है. इसी समाचार को लेकर बीएसएनएल ने शुक्रवार को पूरे भारत में प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया. पटना में भी आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के जरिये बीएसएनएल, बिहार सर्किल के मुख्य महाप्रबंधक जी०सी०श्रीवास्तव ने बीएसएनएल उपभोक्ताओं को ऐसे अफवाहों से सचेत रहने का आग्रह किया. मुख्य महाप्रबंधक ने बताया कि मार्केट में बीएसएनल को बंद करने की अफवाह चल रही है. मीडिया पर इस तरह का प्रचार हो रहा है मगर बीएसएनल बंद नहीं हो रहा है. बीएसएनल की छवि को धूमिल करने के लिए इस तरह की अफवाहें फैला जा रही है. उन्होंने कहा कि बीएसएनल प्रदेश में उपभोक्ताओं को बेहतर संचार सुविधाएं उपलब्ध करवा रहा है. खासतौर पर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में बीएसएनएल संचार का मुख्य साधन है. अन्य टेलीकॉम कंपनियों को टक्कर

Read more

2 लाख करोड़ का बिहार बजट 2019-20 : प्रमुख योजनाएं

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए बिहार के उप मुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी द्वारा मंगलवार को 2 लाख करोड़ का बजट विधानसभा में पेश किया गया. 2019 में लोकसभा चुनाव होने के कारण विधानमंडल का यह सत्र अल्प अवधि का है. 15 फरवरी को लेखानुदान संबंधी प्रस्ताव पर वाद-विवाद के बाद मतदान होगा और इस संबंध में चार माह के खर्च के लिए विनियोग विधेयक पारित कराया जायेगा.आइये जानते हैं मोदी के 2019-20 के बजट में कौन कौन सी योजनाओं का प्रावधान हैं – कृषि विभाग • अनियमित मॉनसून तथा कम वर्षा होने के कारण राज्य के 24 FCजिलों के 280 प्रखण्डों को सूखाग्रस्त घोषित करते हुए वहाँ के किसानों को सिचिंत क्षेत्र के लिए 13,500 रू० प्रति हेक्टेयर तथा असिचिंत क्षेत्र के लिए 6,800 रू० प्रति हेक्टेयर की दर से कृषि इनपुट अनुदान की राशि का ऑनलाइन भुगतान किया गया. इसके तहत 16 लाख किसानों से प्राप्त आवेदनों के विरूद्ध 13.40 लाख किसानों के बैंक खाते में कुल आवंटित राशि 1430 करोड़ रू० के विरूद्ध 901 करोड़ रू० अंतरित किया गया. • वर्ष 2018-19 में सिंचाई के लिए 350 रू० प्रति एकड़ प्रति सिंचाई डीजल अनुदान को बढ़ाकर 500 रू० प्रति एकड़ प्रति सिंचाई कर दी गई है. इस वर्ष धान फसल के लिए 3 सिंचाई के बदले 5 सिंचाई तथा रबी मौसम में गेहूँ के लिए 3 के स्थान पर 4 एवं मक्का के लिए 2 के स्थान पर 3 सिंचाई के लिए डीजल अनुदान की स्वीकृति दी गयी. • वर्ष 2018-19

Read more

“सबको स्वास्थ्य चिकित्सा” के सपने को पूरा करेगी सरकार – मंगल पांडेय

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि इंदिरा गांधी विज्ञान संस्थान में क्यू लेसिक मशीन लगाने की प्रक्रिया शुरु होगी. संबंध में उन्होंने संस्थान के निदेशक आर एन विश्वास और प्रशासन को इस संबंध में प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार कर देने को कहा है. सरकार इसके लिए जो भी खर्च होगा उसको वहन करने को तैयार है. पांडेय ने आज पटना स्थित वेदांता नेत्र विज्ञान केंद्र में अत्याधुनिक क्यू लेसिक मशीन के अनावरण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर अपने संबोधन में यह बात कही. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने आगे कहा कि “चिकित्सा क्षेत्र में विकास से मुझे बहुत खुशी होती है चाहे सरकारी क्षेत्र में हो या निजी क्षेत्र में. आंख की समस्या बिहार के 12 करोड जनसंख्या के 80 प्रतिशत लोगों को है जिसमें बच्चे,बूढ़े और महिलाएं सभी शामिल है. क्यू लेसिक मशीन चश्मा और कॉन्टैक्ट लेंस उतारने की दिशा में विकसित देशों में मील का पत्थर साबित हो रही है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का सपना है कि देश विदेश की सबसे अत्याधुनिक तकनिक हम बिहार में लाए और लोगों की सेवा करें. इसलिए आज मैंने इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान स्थान के प्रशासन से इस संबंध में शीघ्र पहल करने को रहा है. सभी को बसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए पांडेय ने कार्यक्रम में उपस्थित चिकित्सकों से कहा कि वह इलाज करते समय दिमाग के साथ दिल की आवाज भी सुनें और कुछ गरीब लोगों का निशुल्क इलाज करने पर हमेशा ध्यान दें.”पांडेय आज वेदांता नेत्र चिकित्सक केंद्र में अत्याधुनिक

Read more

गंभीर है WHO की ये रिपोर्ट

नई दिल्ली (ब्यूरो रिपोर्ट) | हम सभी जानते हैं कि दूध का पीना सेहत के लिए बहुत ही अच्छा होता है. हमारे देश में दूध को सेहत का पर्याय माना जाता है. लेकिन आज बाजार में उपलब्ध दूध मिलावट से भरपूर है जो इसे पीने वालों को कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों का शिकार बना सकता है. इस बात की जानकारी हाल ही में विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) की तरफ से जारी एडवाइजरी में दी गई. इस एडवाइजरी में WHO ने कहा है कि भारत में मिलने वाले दूध में मिलावट है, जिससे कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी का ख़तरा हो सकती है.87 प्रतिशत भारतीयों को हो जाएगा कैंसर साल 2025 तकविश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने दूध में मिलावट के खिलाफ हाल में भारत सरकार के लिए एडवायजरी जारी कर चेतावनी दी है कि अगर मिलावट पर तत्काल रोक नहीं लगाया गया तो गंभीर परिणाम भुगतने होंगे. WHO ने कहा कि अगर दूध और दूध से बने प्रोडक्ट में मिलावट पर लगाम नहीं लगाई गई तो देश की करीब 87 % आबादी 2025 तक कैंसर जैसी खतरनाक और जानलेवा बीमारी का शिकार हो सकती है. दूध में डिटर्जेंट की मिलावट बहुत गंभीरदूध में डिटर्जेंट की सीधे तौर पर मिलावट पाई गई है. यह मिलावट सीधे तौर पर लोगों की सेहत के लिए खतरा है. इसके चलते उपभोक्ताओं के शारीरिक अंग काम करना बंद कर सकते हैं और कैंसर, लीवर खराब होना जैसी कई गंभीर बीमारी को जन्म देती है.FSSAI की तय मानकों से मेल नहींएनीमल वेलफेयर बोर्ड के सदस्य मोहन सिंह अहलूवालिया

Read more