एक को जानो, एक को मानो, एक हो जाओ – निरंकारी मिशन

परोपकार ही पूण्य हैं:-नवल नववर्ष पर गड़हनी में सत्संग का आयोजन गड़हनी. गडहनी में बुधवार को नव वर्ष के मौके पर रामदहिन मिश्र उच्च विद्यालय का साफ-सफाई के साथ-साथ जिलास्तरीय निरंकारी संत समागम का आयोजन किया गया था. सत्संग की अध्यक्षता पटना क्षेत्र के क्षेत्रीय संचालक नवल किशोर सिंह व संचालन चरपोखरी शाखा के मुखी महात्मा शिवकुमार शर्मा ने की. निरंकारी संत समागम में पीरो, चरपोखरी,जितौरा,भकुरा, आरा,सहित आसपास के जिला के विभिन्न संत महात्माओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया. गडहनी में निरंकारी मिशन का एक अलग ही पहचान है. गडहनी के साथ-साथ पूरे विश्व में भी निरंकारी मिशन विख्यात है. अध्यक्षता कर रहे नवल किशोर ने बताया कि संत निरंकारी मिशन आपसी भाईचारा एवं शांति का संदेश देता है. मिशन का उद्देश्य है कि मानव का कद्र दिल से करें ताकि मानवता जो है वह खिल उठे साथी ही परमात्मा को सतगुरु के द्वारा जाना जा सकता हैं. साथ ही परोपकार ही पुण्य का रास्ता हैं. यह शरीर नश्वर है और इसे मिट्टी में ही मिल जाना है. बैठा पंडित पढ़े पुराण, बिन देखे का करे बखान, तू कहे कागज़ की लेखी, मैं कहू आँखन की देखी ‘ कि मतलब जो ये पढ़ने-लिखने का ही सिलसिला है, जो वो सिर्फ वही तक सीमित है, एक जिसने ये ज्ञान की नज़र नही प्राप्त करी, उसके लिये तो सिर्फ वो अक्षर सिर्फ अक्षर तक ही रह जाते है,पर जिस तरह की वो कह रहे है, तू कहे कागज़ की लेखी- कि कागज़ में जो लिखा है तू तो वो ही बता रहा

Read more

मुख्यमंत्री ने भेड़री में बाँटा 26 करोड़ 52 लाख का चेक

आरा,28 दिसम्बर. जल-जीवन-हरियाली कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को गड़हनी के भेड़री गांव में लाव लश्कर के साथ पहुँचे सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. जहाँ उन्होंने कृषि के लिए प्राकृतिक तरीको के साथ जीर्णोद्धार किये गए तालाबों का भी अवलोकन किया. इस दौरान स्थल पर ही जीविका द्वारा विभिन्न स्टॉलों के माध्यम से ग्रामीण बाजार व ग्राहक सेवा केंद्र, सतत जीविकोपार्जन योजना, सोलर लैंप एवं कृषि योजना की प्रदर्शनी प्रदर्शित की गई. हालांकि इस दौरान मुख्यमंत्री से मिलने के सपने लेकर आये ग्रामीणों के साथ दिव्यांग लड़की को भी मायूस होकर लौटना पड़ा. लेकिन मुख्यमंत्री ने जीरो बजट कृषि क्रियाकलापों के इस प्रदर्शनी का खुद से अवलोकन किया और 975 सहायता समूहों में 25 करोड़ राशि का चेक बांटा. वही 445 सतत जीविकोपार्जन के लाभार्थियों को एक करोड़ 52 लाख रुपए का चेक वितरण किया. जीविका और कृषि विभाग के समन्वय के साथ चार संकुल स्तरीय संघो को कृषि बैंक यंत्र दिए गये. इस दौरान ग्रामीण विकास विभाग के प्रधान सचिव एवं अन्य विभाग के सचिवों ने भी स्टॉल का भ्रमण किया. प्रधान सचिव अरविंद कुमार चौधरी ने जीविका दीदी एवं जिला परियोजना प्रबंधक संजय पासवान ने ग्रामीण योजना एवं सतत जीविकोपार्जन योजना के बारे में जानकारी ली और जीविका द्वारा किये जा रहे कार्यो की सराहना की. आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट

Read more

जनता के नहीं, अफसरों के मुख्यमंत्री हैं नीतीश कुमार

लोगो मे मायूसी, मुख्यमंत्री से नही मिल पाए ग्रामीण प्रशासन ने CM तक आम जनता को पहुँचने ही नही दिया गड़हनी. अपने सुशासन के लिए जनता के बीच चर्चित मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जब जनता की आवाज ही नही सुन पाए तो इसे क्या माना जाए? क्या जनता के बीच खुद नही गए या किसी ने गुमराह किया? जनता के लिए दरबार लगाने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जनता के बीच कैसे चूक गए कि मुख्यमंत्री को तीन बार से सत्ता में लाकर अपनी आँखों पर बसाने वाले मुख्यमंत्री को जनता ने यह कह किया कि नीतीश कुमार अब जनता के नही अफसरों के मुख्यमंत्री हो गये हैं. क्योंकि अफसरशाही इस कदर है कि क्या कहा जाए. जनता अपने कामों के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट परेशान है और सरकारी अफसरों और बाबुओं का ये हाल है कि न तो पेंशन की राशि का कोई भुगतान कर रहा है और न ही आवास और अन्य योजनाओं की कोई सुध लेने को तैयार है. दरअसल हम बात कर रहे है भोजपुर दौरे पर आए मुख्यमंत्री की. मुख्यमंत्री कार्यक्रम को ले जहाँ भेडरी वासियो समेत आसपास के सभी लोगो के मन मे उत्सुकता थी कि मुख्यमंत्री से अपनी बात रखूंगा या मिल कर अफसरशाही के शिकायत करूँगा. वही इस उत्सुकता पर जिला प्रसाशन ने पानी फेर डाला. मुख्यमंत्री के हेलीकॉप्टर उड़ जाने के बाद आम लोगो को आने की अनुमति दी गई. मुख्यमंत्री से मिलने आई भेडरी निवासी नीलम कुँवर,लखपतो कुँवर,सिमा देवी,मिना देवी बताती हैं कि पेंशन के लिए रोजाना प्रखण्ड कर्यालय व

Read more

CM ने भी नहीं सुनी लाचार बिटिया की शिकायत, 8 किमी दूर से आयी थी दिव्यांग

पेंशन की शिकायत लेकर बड़े बैनर के साथ पहुंची विकलांग बच्ची की CM ने नही सुनी शिकायत DM ने कहा फ़ोन से सूचना दिया जयेगा फिर आना गड़हनी. मुख्यमंत्री आगमन को सुन कई वर्षों से पेंशन की ताक में आस लगाई बच्ची कल भेडरी के मैदान में पहुंच गईं हालांकि मुख्यमंत्री की नजर उस बच्ची पर गई तो उन्होंने कहा कि डीएम साहब समझ लेंगे. बता दें कि गड़हनी शांति नगर निवासी अक्षय लाल साह के 12 वर्षीय पुत्री अन्नी कुमारी के पिता बचपन से प्रयासरत हैं कि बच्ची को विकलांगता का पेंशन मिले लेकिन जब बच्ची 4 वर्ष की हुई तो उसे विकलांगता का सर्टिफिकेट मिला. सारी प्रक्रिया से गुजरने पर वर्ष 2016-17 में पेंशन की भी स्वीकृति मिल गई लेकिन आज तक उसे कोई सरकारी लाभ नसीब नही हुआ. पिता ने सोचा कि महज 6-7 किलोमीटर की दूरी पर मुख्यमंत्री आ रहे हैं ये मौका अच्छा हैं अफ़सरशाही का शिकायत करने का. उन्होंने बड़े बैनर दो-चार नारे के साथ बनवाया और कार्यक्रम स्थल पर पहुंच गए. वहां पहुंचते ही लोगो की हुजूम देखने के लिए उमड़ पड़ा. लोगो मे चर्चा का विषय बन गया,वही मुख्यमंत्री के जाने के बाद पिता अक्षयलाल डीएम रौशन कुशवाहा से मिल इसकी शिकायत की तो डीएम ने बोला कि कल आपको फोन कर बुलाया जाएगा और जो उचित लाभ होगा दिलवाया जाएगा. गड़हनी से मुरली मनोहर जोशी की रिपोर्ट

Read more

चुस्त-दुरुस्त सुरक्षा के बीच भेडरी पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

गड़हनी. सूबे के मुखिया नीतीश कुमार अपने जल जीवन हरियाली कार्यक्रम के यात्रा के तहत भोजपुर जिला के गड़हनी प्रखंड स्थित इचरी पंचायत के भेड़री गांव में योजनाओं का जायजा लेने पहुंचे थे. नीतीश कुमार आज- कल बिहार के हर जिले में जल-जीवन-हरियाली योजनाओं का जायजा लेने पंचायत-पंचायत घूम रहे हैं. इसी कड़ी में शुक्रवार को भोजपुर जिले के गड़हनी प्रखंड के इचरी पंचायत के भेड़री गांव में अपने महत्वाकांक्षी योजनाओं का जायजा लेने पहुंचे थे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भेड़री गांव में लगे पॉली हाउस के अंदर लगे जरबेरा फूल की संरक्षित खेती को देखा. उसके बाद मुख्यमंत्री ने क्रॉप विधि से लगाए गए बगीचों का जायजा लिया जिसमे तरह-तरह के फलों की खेती की गई है,और इस गांव में 5 जीर्णोद्धार किए तालाबों का जायजा लिया. मुख्यमंत्री के आगमन को ले जिला प्रशासन कल अहले सुबह से ही कमर कसकर तैयार दिखा. कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मुख्यमंत्री के कार्यक्रम स्थल की तैयारी की गई थी. भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती और जगह-जगह मजिस्ट्रेट की तैनाती जिला प्रशासन की चुस्ती का सबूत पेश कर रही थी. इस कार्यक्रम में जिला कृषि विभाग और परिवहन विभाग के द्वारा एक मेले का भी आयोजन किया गया जिसमें वर्मी कंपोस्ट और कई तरह के खेती के गुरों को भी बताया गया. परिवहन विभाग के द्वारा लगाए गये स्टाल पर लोगों को सड़क सुरक्षा के नियमों से अवगत करवाया गया. पॉली हाउस में जरबेरा की खेती करने वाली 45 वर्षीय महिला कृषक कांति किरण ने बताया कि बेंगलुरु में रहने

Read more

Online हुआ है प्यार अब क्या बतलायें…!

क्या आपने भी किया है ऐसा ऑनलाइन love ? पटना,25 दिसम्बर. Love यानि कि प्रेम ऐसा शब्द है जिसे सुनने के बाद सबके मन में सबसे पहले हिरोइज्म जग जाता है. अब ये बात अलग है कि प्रेम माँ-बाप,भाई-बहन,दोस्त के साथ कभी-कभी जानवरों या उन परिचितों से भी होता है जो अनायास हमारे आदतों में शुमार हो जाते हैं. लेकिन प्रेम यानि कि Love की चर्चा सबके ज्यादा प्रचलित प्रेमी-युगलों की होती है. जी हाँ हसीना और उसके आशिक की…..जो दुनिया की हर दीवार को तोड़, एक होना चाहते हैं. Love का एक ऐसा ही दिलचस्प प्रसंग सामने आया है. दिलचस्प इसलिए कि इस Love की शुरुआत नायक या नायिका को सामने से देखकर नही बल्कि online हुई है. सुनने के बाद आपके भी कान खड़े जरूर हो गए होंगे पर अब ये Love का नया तरीका क्या गुल खिलाया है आइए जानते हैं. इस Love की शिकार हुई है एक पुलिसवाले की पत्नी, जो अपने आशिक के साथ फरार हो गयी है. Love का यह ममला झारखण्ड का है और पुलिसवाले की पत्नी जिस लड़के को दिल दे बैठी वह बेतिया के नगर थाना इलाके के बंगाली कॉलनी में रहने वाला 25 साल का युवक है जिसका नाम पार्थ सरकार है. सोशल मीडिया पर दिल दे बैठी पुलिसवाले की पत्नी दो बच्चों की माँ है. शादीशुदा दो बच्चों की मां को वर्चुअल दुनिया के इंस्टाग्राम पर पार्थ से प्यार हो गया और अपना दिल दे बैठी. फिर क्या Love का यह सिलसिला इस कदर परवान चढ़ा कि वह प्रेमी

Read more

जल जीवन हरियाली के लिए बच्चों ने बनाई कुछ ऐसी श्रृंखला

गड़हनी. जल संचय के लिए लोगों को जागरूक करने का बड़े पैमाने पर काम चल रहा है लेकिन प्रखंड के बच्चों ने इसके लिए कुछ ऐसी मानव श्रृंखला बनाई कि देखने वाले एक बार जरूर जल संग्रह और पर्यावरण के बारे में सोचेंगे. प्रखण्ड के प्राथमिक विद्यालय मन्दूरी में बिहार सरकार की महत्वकांक्षी योजना जल जीवन हरियाली, सदा खुशहाली का संकल्प विद्यालय के  बच्चों ने लिया. चेतना सत्र के दौरान विद्यालय के प्रधानाध्यापक ओम प्रकाश राय ने जल संचय एवं बदलते वातावरण के संदर्भ में हरियाली की महत्ता को बताते हुए कहा कि जितना ज्यादा से ज्यादा हो सके हमें पेड़ लगाना चाहिये एवं साफ पानी की बर्बादी पर रोक लगाना चाहिए. जल जीवन हरियाली के संदेश को प्रा0वि0मंदुरी के बच्चों ने श्रृंखलाबद्ध होकर चित्रात्मक प्रस्तुती का प्रदर्शन किया. इस अवसर पर बच्चों ने यह संकल्प लिया कि हम अपने माता-पिता एवं ग्रामीणों को स्वच्छ जल को जरूरत मुताबिक प्रयोग करने हेतु प्रेरित करेंगे. इसे लोगो ने खूब सराहा. गड़हनी से मुरली मनोहर जोशी की रिपोर्ट

Read more

पेट्रोल पम्प से हजारों की लूट

आरा (ब्युरो रिपोर्ट) | भोजपुर जिले के शिव नारायण लाल एंड सन्स गीधा पेट्रोल पम्प पर गुरुवार शाम अपराधियों ने लूट की घटना को अंजाम दिया. बाइक सवार अपराधी 4 की संख्या में थे और पेट्रोल पंप से लाखों रुपये लूटकर फरार हो गए. सूचना मिलते ही भोजपुर एसपी (प्रभार) सुधीर कुमार पोरिका अपनी टीम के साथ मामले की जांच करने घटनास्थल पहुंचे. यह घटना जिले के कोइलवर थाना क्षेत्र की है जहां गुरुवार शाम को शिव नारायण लाल एंड सन्स गीधा पेट्रोल पम्प पर बाइक सवार 4 अपराधियों ने 92 हजार 4 सौ 56 रुपये लूट लिये और फरार हो गए. पेट्रोल पंप कर्मी दीनानाथ ने बताया कि अपराधी पहले उनको एक तरफ हो जाने को कहा और फिर पैसे लूटने लगे. सारा पैसा लूटने के बाद अपराधी अपनी बाइक से भाग गए. गीधा पेट्रोल पंप पर हुई लूट के घटना की सूचना पुलिस को दी गई. उसके बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई. पुलिस सबूत जुटाने के लिये पेट्रोल पंप के सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है. जानकारी के अनुसार मामले की जांच करने एएसपी अम्बरीष राहुल के साथ सुधीर कुमार पोरिका, एसपी (प्रभार) भोजपुर भी घटना स्थल पर पहुंचे.

Read more

पैक्स चुनाव में भी मतदाताओं ने किया वोट बहिष्कार का निर्णय

देवचन्दा के मतदाता नही करेंगे पैक्स चुनाव में वोट Patna now Special आरा. चुनाव के वक्त वोट बहिष्कार तो आपने अक्सर सुना होगा क्योंकि राजनेता विकास का वादा करने के बाद उस क्षेत्र में झांकी मारने तक नही जाते है. तब जनता चुनाव के वक्त उनको अपनी औकात दिखाती है. लेकिन क्या आपने कभी पैक्स चुनाव में भी वोट बहिष्कार के बारे में सुना है?नही! तो आइए बताते हैं कि तिलाठ पंचायत के देवचन्दा गाँव के सभी पैक्स मतदाताओ ने एक स्वर में पैक्स चुनाव का बहिष्कार किया है. देवचन्दा भोजपुर जिले के पीरो प्रखंड में पड़ता है. पीरो प्रखंड में BDO मनेंद्र कुमार की दबंगो से ऐसी सांठगांठ है कि अधिकांश जगह उनके दबंग लोग ही चुनाव में खड़े है. BDO साहब किसी बात पर बात ही नही करते और दबंगई के साथ सवाल पूछने पर कहते हैं कि आपको हम नही बतलायेंगे. वोट बहिष्कार क्यों ? पैक्स चुनाव का बहिष्कार कर रहे मतदाताओ का आरोप है कि देवचन्दा गांव मे पहले पैक्स चुनाव के लिये मतदान होता था. जो 2001 के नए परिसीमन के बाद बिना किसी नोटिफिकेशन के ही देवचन्दा गांव से पैक्स के बूथ को हटा कर तिलाठ गांव में कर दिया गया. तब से वहां के दबंग लोग अपनी दबंगई दिखा वोटरों को वोट देने से वंचित करते आ रहे है. ग्रामीणों ने बताया कि सरकार एक तरफ मताधिकार के लिए जागरूक करने में लाखों-करोड़ों रुपये खर्च कर रही है, वही दूसरी तरफ जिला प्रशासन की लापरवाही और कुछ सफेदपोशों के सह पर उनके गाँव

Read more

कौन है सबसे युवा पैक्स अध्यक्ष ?

आरा,14 दिसम्बर. बिहार के पहले चरण के पैक्स चुनाव का रिजल्ट आ चुका है जिसमें जगदीशपुर के हेतमपुर पैक्स अध्यक्ष पद पर अखिलेश चौबे ने जीत हासिल कर प्रखंड के सबसे युवा पैक्स अध्यक्ष के रूप में इतिहास रचा है. कुल 721 वोट में अखिलेश चौबे को 339 और उनके प्रतिद्वंद्वी नि-वर्तमान पैक्स अध्यक्ष नंद कुमार साह को 152 वोट मिले. अखिलेश छात्र नेता के रूप में कॉलेज के छात्रों के लिए पूर्व में संघर्षरत रहे हैं वही वर्तमान में सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में भी काफी सक्रिय हैं. विभिन्न संगठनों से भी समय-समय पर इनका सम्बन्ध रहा है. ग्रामीणों को ऊर्जावान अखिलेश पर पूरा भरोसा है कि किसानों के हित में भी ये सबसे कम उम्र के पैक्स अध्यक्ष के खिताब के बाद अपने काम का भी खिताब रचेंगे. आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट

Read more