शराबबंदी वाले राज्य में ट्रक ड्राइवर ने जमकर पी शराब और ले ली 12 लोगों की जान

वैशाली में जान गंवाने वाले 12 लोगों की मौत के पीछे वह कड़वा सच है जिसे सरकार शायद ही स्वीकार करे. बिहार में कहने को शराबबंदी है लेकिन शराब हर जगह उपलब्ध है. इस बात की पुष्टि एक बार फिर हुई जब वैशाली में सड़क हादसे में घायल ट्रक ड्राइवर के खून के नमूने की जांच हुई. जांच से यह खुलासा हुआ है कि ट्रक ड्राइवर ने जमकर शराब पी थी. उसके ब्लड सैंपल में 45% से ज्यादा अल्कोहल मिला है. शराब के नशे का ही प्रभाव था कि उसने सड़क किनारे पूजा कर रहे लोगों पर ही ट्रक चढ़ा दिया. प्रशासन ने ही ड्राइवर के शराब के नशे में टल्ली होकर ट्रक चलाने की पुष्टि की है. ड्राइवर फिलहाल खुद गंभीर रूप से घायल है और उसका इलाज चल रहा है. इस बीच 12 लोगों की मौत हो चुकी है और कई और लोग घायल हैं. यह दुर्घटना या हादसा नहीं, मास मर्डर है इस मामले में भाजपा ने एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला है. भाजपा प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि बिहार में शराबबंदी कानून की आड़ में पैरेलल इकोनॉमी खड़ा है. वैशाली में शराबी ट्रक ड्राइवर ने 30 लोगों को कुचल दिया जिसमें 12 की मौत हो गई. भाजपा नेता ने कहा कि यह दुर्घटना या हादसा नहीं, मास मर्डर है. बिहार शराब- खनन- भूमि माफियाओं की गिरफ्त में है, अपराध चरम पर है जिसके जिम्मेदार सिर्फ नीतीश कुमार हैं. पूरी खबर पढ़ें https://bit.ly/3VgNP1X pncb

Read more

ब्लैक संडे: सड़क किनारे पूजा कर रहे लोगों पर चढ़ गया ट्रक आठ की मौत

वैशाली में रविवार का दिन ब्लैक संडे साबित हुआ है. एक तरफ जहां सोनपुर में झूला टूटने से 5 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए. वहीं देर शाम देसरी थाना के नयागंज 28 टोला में सड़क किनारे पूजा कर रहे लोगों पर ट्रक चढ़ गया. इस हादसे में अबतक 12 लोगों की मौत हो चुकी है जिनमें से अधिकतर बच्चे हैं. जानकारी के मुताबिक महनार मोहद्दीनगर स्टेट हाइवे पर बड़ी संख्या में लोग भुइयां बाबा की पूजा के लिए जुटे थे. कई घायलों की हालत गंभीर है. वैशाली में हुई भीषण सड़क दुर्घटना से मुख्यमंत्री मर्माहतमुख्यमंत्री नीतीश कुमार वैशाली जिले के देसरी थाना क्षेत्र में तेज रफ्तार ट्रक द्वारा कई बच्चों को कुचलने की घटना से काफी मर्माहत हैं. उन्होंने इस घटना को दुखद बताते हुए मृतकों के प्रति गहरी शोक संवेदना व्यक्त की. मुख्यमंत्री ने निर्धारित मानक प्रक्रिया के अनुरूप मृतकों के परिजनों को अविलंब अनुग्रह अनुदान उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है मुख्यमंत्री ने सभी घायलों के समुचित इलाज के भी निर्देश दिए हैं और उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना भी की है. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी इस भीषण दुर्घटना पर गहरा शोक जताया है. पूरी खबर यहाँ पढ़े बिहार में नशे में 30 को कुचला,8 की मौके पर मौत,6 बच्चे शामिल सभी पेड़ के नीचे पूजा कर रहे थे पेड़ नहीं होता तो 50 से ज्यादा लोगों की मौत होती पीएम मोदी ने भी घटना पर दुख जताया मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपए मदद देने का ऐलान नीतीश

Read more

मेले में टूट गया झूला, 6 लोग हताहत

विश्व प्रसिद्ध सोनपुर मेले में झूला टूटा, 6 घायल एक को गंभीर हालत में पटना लाया गया सारण।। विश्वप्रसिद्ध सोनपुर मेला में रविवार को बड़ा हादसा हो गया. झूला टूटने से उस पर सवार 6 लोग जमीन पर गिर गए. इस हादसे में पांचों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. इनमें से एक की स्थिति गंभीर बनी हुई है. उसे पटना रेफर किया गया है पांच लोगों का सोनपुर में इलाज चल रहा है. रविवार की वजह से मेले में काफी भीड़ जुटी थी. लोगों के मुताबिक झूला सेक्टर में काफी संख्या में लोग मौजूद थे. मेले में लगे सबसे बड़े झूले का व्हील सेट टूट गया. उसके टूटने से 6 लोग नीचे आ गिरे.आनन-फानन में झूला रोका गया. घायलों को अस्पताल ले जाया गया. इसमें से चार घायलों को वहीं भर्ती कराया गया जबकि गंभीर रूप से घायल अमन खान को पटना रेफर किया गया है. झूला टूटने की आवाज सुनकर झूला सेक्टर में हड़कंप मच गई. लोग दौड़कर मौके पर पहुंचे. किसी तरह से झूले को रोका गया. पुलिस मौके पर पहुंची. फायर ब्रिगेड को बुलाया गया और घायलों को अस्पताल ले जाया गया. घायलों में रुखसार खानम (31 वर्ष) पति मो. शहजाद, गिरीश कुमार (55 वर्ष) पिता सुरेश प्रसाद, अमन खान (19 वर्ष) पिता अली ईमाम, अमन खान (18 वर्ष) पिता वाहिद खान, रत्नेश कुमार (18 वर्ष) पिता हरे राम सिंह और राम विनोद प्रसाद राय ( 60वर्ष) पिता राजदेव राय हैं. अजीत

Read more

नेपाल में हिली धरती, उत्तर भारत में भी लगे झटके

भूकंप के लगातार आए झटकों ने नेपाल के अलावा बिहार, दिल्ली, राजस्थान समेत पूरे उत्तर भारत में लोगों को हिला कर रख. दिया. दिल्ली एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में भूकंप के झटके महसूस किए गए. दिल्ली-एनसीआर के अलावा उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, राजस्थान में भी लोगों ने भूकंप के झटके महसूस किए हैं. भूकंप का समय रात करीब 01 बजकर 57 मिनट बताया जा रहा है. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 4.9 मापी गई है. पूरे उत्तर भारत में अब तक किसी जान माल के खबर नहीं है. इधर बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक 4.9 तीव्रता के झटके महसूस किए गए हैं. भूकंप का केंद्र नेपाल में 10 किलोमीटर की गहराई में था. EQ Parameters: M: 4.9Date: 08/11/2022Time: 20:52:42 ISTLat: 29.20 NLong: 80.88 EDepth: 10 KmRegion: Nepal नेपाल में भूंकप से कई लोग हताहत नेपाल के डोती जिले में बुधवार तड़के 6.6 तीव्रता भूकंप के बाद कम से कम 6 लोगों के मरने की खबर है. नेपाल के राष्ट्रीय भूकंप केंद्र (एनएससी) ने कहा कि नेपाल के सुदूर-पश्चिम क्षेत्र ने पिछले 24 घंटों में तीन झटके दर्ज किए दो भूकंप और एक आफ्टरशॉक. एनएससी के आंकड़ों के अनुसार 5.7 तीव्रता का पहला भूकंप मंगलवार को रात 9:07 बजे (स्थानीय समय) और उसके बाद रात 9:56 बजे (स्थानीय समय) पर 4.1 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया. डोटी जिले के पूरबीचौकी गांव के परिषद-03 अध्यक्ष राम प्रसाद उपाध्याय ने कहा कि बीती देर रात भी 6.6 तीव्रता का तीसरा जोरदार झटका लगा, जिससे

Read more

जहाजी कोठी में लगी आग

फुलवारी शरीफ ।। पटना के फुलवारी शरीफ के इसापुर में मंगलवार की दोपहर बिजली के शॉट सर्किट से जहाजी कोठी में आग लग गई. आग ने कुछ ही देर में घर को अपने कब्जे में कर लिया और देखते देखते आग की लपेट तेज हो गई. आग से अफरा तफरी मच गई. मौके पर पुलिस ने अग्निशाम वाहन को भेजा. अग्निशाम दस्ते ने आग पर काबू पाया मगर आग जहाजी कोठी को भारी नुकसान दे गया. जहाजी कोठी के मालिक मो. कयूम सेना(एयरफोर्स) के सेवानिवृत्त जवान हैं . आसपास के लोगों ने बताया कि अचानक लगी आग देखते ही देखते विकराल रूप ले लिया और पूरे घर को अपनी चपेट में ले लिया. आसपास के लोगों ने किसी तरह पानी फेंककर आग को बुझाने का प्रयास किया लेकिन जब वह इस काम में सफल नहीं हो सके तो अग्निशमन दस्ते को बुलाई गई. बताया जा रहा है कि सूचना मिलते ही अग्निशमन दस्ते की 2 गाड़ी ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया. इस बीच घर में रखे गए लगभग 5 लाख से अधिक के सामान जलकर नष्ट हो गए. फुलवारी शरीफ थाना प्रभारी ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है. पीड़ित परिवार ने अभी तक यह लिखित नहीं दिया है कि कितने का नुकसान हुआ है. Ajit

Read more

दीघा एम्स एलिवेटेड रोड पर पलटी वैगनआर

ओवरब्रिज से नीचे गिरने से बाल-बाल बची कार गाड़ी में सवार 6 लोग घायल, दो की स्थिति गंभीरइलाज के लिए भेजे गए एम्स पटना फुलवारी शरीफ, अजीत ।। पटना के दीघा एम्स एलिवेटेड सड़क पर मंगलवार की शाम एक कार अनियंत्रित होकर अचानक पलट गई और डिवाइडर से जा टकराई. इस हादसे में कार में सवार 6 लोग घायल हो गए जिनमें दो की स्थिति गंभीर बताई जा रही है. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस और स्थानीय लोगों की मदद से सभी घायलों को इलाज के लिए पटना एम्स में भर्ती कराया गया है. घटना के बाद मौके पर काफी देर तक अफरा-तफरी का माहौल बना रहा.घटना के बारे में बताया जा रहा है कि हरियाणा की नंबर की एक वैगनआर गाड़ी जिसका नंबर HR 96/1267 है जो रफीगंज से चलकर पटना दीघा जा रही थी. बताया जा रहा है कि जैसे ही गाड़ी दीघा एम एलिवेटेड रोड पर पहुंची अचानक सामने से आ रही एक गाड़ी को बचाने में कार अनियंत्रित हो गई और डिवाइडर से जा टकराई. वहां उपस्थित प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि कार की रफ्तार इतनी तेज थी कि डिवाइडर से टकराने के बाद कार पलट गई. इस हादसे में गाड़ी में सवार सभी लोग घायल हो गए. सूचना मिलते ही ट्रैफिक थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और सभी घायलों को स्थानीय लोगों की मदद से गाड़ी से बाहर निकाला और इलाज के लिए पटना एम्स भेज दिया है. वहां उपस्थित एक व्यक्ति ने बताया कि गाड़ी ओवरब्रिज से नीचे गिरने से बाल-बाल

Read more

जेपी सेतु के पास नाव हादसा, 15 लोग थे सवार

गंगा में नाव डूबी 15 लोग सवार थे 13 लोगों ने बचाई जान दो लोग अभी लापता, तलाश जारी पटना, अजीत।। पटना में गंगा में नाव डूबने से अफरा तफरी का माहौल है मौके पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई है. स्थानीय लोगों के अनुसार कई लोगों ने तैरकर जान बचाई. पुलिस मौके पर पहुंची और एसडीआरएफ की टीम को बुलाया गया. दीघा के पाया नंबर 15 की घटना बताई जा रही है. नाव पर तकरीबन 15 लोग सवार थे 13 लोगों ने अपनी जान बचाई जबकि दो लोग अब भी लापता हैं. घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि पटना के गंगा नदी में एक नाव डूब गई. दीघा घाट के पास जेपी सेतु से नाव टकरा गई. इससे नाव डूब गई. कहा ये भी जा रहा है कि इस नाव पर 20 लोग सवार थे. इसमें 9 लोगों ने तैरकर और लोगों की मदद से जान बचा ली. वहीं, अब भी 11 लोग लापता बताए जा रहे हैं. सूचना मिलते ही एसडीआरएफ की टीम पहुंच गई और लापता लोगों की तलाश में जुट गई है. एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और जिला प्रशासन की टीम लापता लोगों की तलाश में जुटी हुई है. लापता लोगों की तलाश के लिए गोताखोर की मदद ली जा रही है. pncb

Read more

पटना सचिवालय भवन में लगी आग,दमकल की गाड़ियां लगी आग बुझाने में

BIG BREAKING सामान्य प्रशासन विभाग के चैम्बर में लगी सचिवालय भवन में आग लग गई है आग लगने की घटना सामान्य प्रशासन विभाग के चैम्बर में लगी है। सूचना पाकर दमकल की कई गाड़ी मौके पर पहुंची है। हालांकि समय रहते आग पर काबू पा लिया गया। आगजनी की इस घटना से इलाके में अफरातफरी मच गई। खबर अपडेट हो रही है PNCDESK

Read more

गंगा नदी में हादसा, रात से ही लापता लोगों की तलाश जारी

पटना।। रविवार को दानापुर के शाहपुर थाना क्षेत्र के देर रात में गंगहारा बीच नदी के धार में नाव डूब गई, जिससे घटनास्थल पर अफरा तफरी का माहौल रहा. घटना के संबंध में बताया जाता है कि नाव पर 55 लोग सवार थे जिसमें 50 लोग तैरकर बाहर निकल गए. बाकी 5 लोग लापता हैं. सभी लापता की खोजबीन की जा रही है. नाव पर सवार लोग दाउदपुर के रहने वाले है. नाव पर सवार मजदूर लोग घास लेकर गंगहारा नदी से लौट रहे थे इसी दौरान हुई घटना. नाव डूबने की सूचना मिलते ही लोगों की भीड़ जुटी रही. सूचना मिलते ही प्रशासन की टीम भी मौके पर पहुंचे. गोताखोरों की मदद से लापता मजदूरों की खोजबीन की जा रही है. दानापुर प्रभारी अनुमंडलाधिकारी इष्ट देव महादेव ने दी जानकारी. वहीं घटना की पुष्टि करते हुए शाहपुर थानाध्यक्ष शफीर आलम ने कहा कि नाव हादसे में 5 लोग लापता है. पटना जिला प्रशासन ने क्या कहा जिला प्रशासन ने बताया कि रविवार सायं मनेर अंचल के शेरपुर घाट पर एक नाव दुर्घटनाग्रस्त हो गई. नाव पर लगभग 50 लोग सवार थे. ये सभी लोग मवेशियों के लिए घास काट कर लौट रहे थे. सूचना मिलते ही प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच गई. 45 लोग सुरक्षित निकल गए. 5 लोगों के मिसिंग होने की बात कही जा रही है. प्रशासन की टीम तलाश में जुटी है. एनडीआरएफ द्वारा खोज अभियान चलाया जा रहा है. सीओ, थानाध्यक्ष एवं अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौके पर मौजूद हैं. अजीत

Read more

तीन जिलों में वज्रपात से 08 लोगों की मौत पर मुख्यमंत्री मर्माहत

व्यक्त की गहरी शोक संवेदना मृतकों के आश्रितों को तत्काल चार-चार लाख रुपये अनुग्रह अनुदान वज्रपात से गया में 05, जहानाबाद में 02 एवं औरंगाबाद में 01 व्यक्ति की मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मर्माहत हैं और उन्होंने प्रभावित परिवारों के प्रति अपनी गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है. मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में वे प्रभावित परिवारों के साथ हैं. मुख्यमंत्री ने सभी मृतक के परिजनों को तत्काल चार-चार लाख रूपये अनुग्रह अनुदान देने के निर्देश दिये हैं. मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि सभी लोग खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें. खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिये आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किये गये सुझावों का अनुपालन करें. खराब मौसम में घरों में रहें और सुरक्षित रहें. PNCDESK

Read more