29 जुलाई तक जहां मेरिट लिस्ट अपलोड नहीं, वहां तीसरे चरण में होगी काउंसलिंग

बिहार में प्राथमिक और मध्य विद्यालय में शिक्षकों के नियोजन के लिए काउंसलिंग का दूसरा चरण 2 अगस्त से 13 अगस्त के बीच होगा दूसरे चरण के लिए प्राथमिक शिक्षा निदेशालय ने नियोजन इकाइयों में गड़बड़ी की आशंका के मद्देनजर महत्वपूर्ण आदेश जारी किया है इसके तहत जिन नियोजन इकाइयों ने 29 जुलाई की मध्यरात्रि तक मेरिट लिस्ट जारी नहीं कि वहां ना सिर्फ कार्रवाई की अनुशंसा की जाएगी बल्कि उन नियोजन इकाइयों में तीसरे चरण में ही काउंसलिंग होगी. कॉन्सिलिंग की प्रक्रिया का पूर्ण अनुश्रवण करने लिए जिस प्रकार राज्य स्तर पर शिक्षा विभाग द्वारा नियंत्रण कक्ष (0612-2215181) की व्यवस्था की गयी है, उसी प्रकार हर जिले के लिए नियंत्रण कक्ष की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए उक्त नियंत्रण कक्ष में प्रतिनियुक्त पदाधिकारी के नाम एवं दूरभाष संख्या / मोबाईल नम्बर प्रकाशित किया जाए. यह व्यवस्था शिक्षक नियुक्ति की प्रक्रिया पूर्ण होने तक प्रत्येक कार्यदिवस पर 10:00 बजे पूर्वाह्न से 6:00 बजे अपराह्न तक संचालित रहेगी. नियंत्रण कक्ष से संबंधित पदाधिकारियों का नाम एवं दूरभाष संख्या / मोबाईल नम्बर अधोहस्ताक्षरी कार्यालय को दिनांक 30.07.2021 तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें. दिनांक 29.07.2021 की मध्यरात्रि तक प्रत्येक नियोजन इकाइयों के लिए मेरिट लिस्ट NIC के वेबसाईट पर अपलोड करने की कार्रवाई पूर्ण कर ली जाए. अन्यथा निर्धारित समय तक मेरिट लिस्ट अपलोड नहीं करने की स्थिति में संबंधित नियोजन इकाई के विरुद्ध यथोचित विधिसम्मत कार्रवाई की अनुशंसा की जाएगी. निर्धारित समय तक मेधा सूची अपलोड नहीं होने की स्थिति में उन नियोजन इकाइयों में कॉन्सिलिंग की कार्रवाई तृतीय चक्र में किया जाएगा.

Read more

पर्यावरण संरक्षण में सक्रिय भागीदारी के लिये प्रतिबद्ध है जीकेसी

लखनऊ, ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) के सौजन्य से पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी संतुलन के लिए लखनऊ (Lucknow) में पौधारोपण कर गो ग्रीन अभियान की शुरूआत की गयी. जीकेसी के गो-ग्रीन अभियान की शुरूआत जीकेसी की प्रबंध न्यासी और गो-ग्रीन की राष्ट्रीय प्रभारी रागिनी रंजन के मार्गदर्शन में समाज में जागरूकता लाने के उद्देश्य से किया जा रहा है. इसी के तहत गो-ग्रीन अभियान को आगे बढाते हुए लखनऊ में इसकी शुरुआत की गई. जीकेसी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष सुनील श्रीवास्तव की अध्यक्षता में “गो ग्रीन” कार्यक्रम का शुभारंभ जीकेसी उत्तर प्रदेश “कला एवं सांस्कृतिक” प्रकोष्ठ की प्रदेश कार्यकरणी सदस्य विभा श्रीवास्तव निवास स्थान पर बने चित्रगुप्त मंदिर प्रांगण में पौधारोपण कर किया गया. कार्यक्रम की शुरुआत श्री चित्रगुप्त जी के मंदिर में श्री चित्रगुप्त जी के पूजन एवं आरती से की गई. पौधारोपण कार्यक्रम का आयोजन जीकेसी के “गो ग्रीन” प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कमलेश श्रीवास्तव एवं “कला एवं सांस्कृतिक” प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्षा श्रीमती मंजू श्रीवास्तव के द्वारा “कला एवं सांस्कृतिक” प्रकोष्ठ की प्रदेश कार्यकारणी सदस्या श्रीमती विभा श्रीवास्तव के सहयोग से किया गया. इस कार्यक्रम में जीकेसी महिला प्रकोष्ठ की राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती ऋतु खरे के साथ जीकेसी के कई पदाधिकारियों ने शिरकत की. सुनील श्रीवास्तव ने बताया कि जीकेसी “गो ग्रीन” अभियान के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण में अपनी सक्रिय भागीदारी निभाने के लिए जीकेसी प्रतिबद्ध है और हर संभव निरंतर प्रयासरत है. pncb

Read more

शिक्षा विभाग में बड़ा उलटफेर

बिहार सरकार ने शिक्षा विभाग में बड़ा उलटफेर किया है. बिहार में करीब 1,30,000 प्राथमिक, मध्य और माध्यमिक, उच्च माध्यमिक शिक्षकों के नियोजन की प्रक्रिया चल रही है. और इसी बीच सरकार ने अपने दो बड़े अधिकारियों को बदल दिया है. इसके अलावा बिहार शिक्षा परियोजना के निदेशक का भी तबादला कर दिया गया है. बिहार शिक्षा परियोजना के डायरेक्टर संजय कुमार सिंह को स्वास्थ्य विभाग का विशेष सचिव बनाया गया है. जबकि डॉ रणजीत कुमार सिंह को प्राथमिक शिक्षा निदेशक के पद से पंचायती राज विभाग भेजा गया है. उनकी जगह अमरेंद्र प्रसाद सिंह को प्राथमिक शिक्षा निदेशक बनाया गया है. माध्यमिक शिक्षा निदेशक गिरवर दयाल सिंह का भी तबादला कर दिया गया है. राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार को माध्यमिक शिक्षा निदेशक बनाया गया है. श्रीकांत शास्त्री को बिहार शिक्षा परियोजना का राज्य परियोजना निदेशक बनाया गया है. राजेश तिवारी

Read more

तीसरी लहर: जानिए कोरोना की वास्तविक स्थिति

स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने दी कोविड-19 पर ताज़ा जानकारीलेटेस्ट अपडेट : 23 JUL 2021 9:14AM देशव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक वैक्सीन की 42.34 करोड़ खुराक लगाई गई है. अब तक पूरे देश में कुल 3,04,68,079 मरीज स्वस्थ हुये. रिकवरी दर बढ़कर 97.36 प्रतिशत हुआ. पिछले 24 घंटों के दौरान 38,740 मरीज ठीक हुए. भारत में पिछले 24 घंटों में 35,342 मामले सामने आए हैं. भारत में सक्रिय मामले वर्तमान में 4,05,513 हैं. सक्रिय मामले कुल मामलों का 1.30 प्रतिशत हैं. साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 5 प्रतिशत से नीचे बनी हुई है, वर्तमान में 2.14 प्रतिशत है. दैनिक पॉजिटिविटी दर 2.12 प्रतिशत, लगातार 32 वें दिन भी 3 प्रतिशत से कम. जांच क्षमता में उल्लेखनीय वृद्धि हुई – कुल 45.29 करोड़ नमूनों की जांच की गई है. pncb

Read more

जहाँगीर खान हुए रंग नगरी आरा के मुरीद, नाट्य प्रशिक्षण देने पहुँचे थे जिला मुख्यालय

आरा में 20 दिवसीय थियेटर वर्कशॉप आरंभ, प्रशिक्षक जहाँगीर खान ने गदगद हो कहा – यहाँ असीम सम्भवनाएँ आयोजक ने अतिथियों को उपहार में दिए पौधे आरा,18. किसी भी कार्यक्रम के लिए वह पल तब खास हो जाता है जब वहाँ पहुँचा अतिथि उस कार्यक्रम से प्रभावित हो उसकी तारीफ दूसरों से करने लगे. जी हाँ रविवार को आरा से पटना पहुँचने के बादरंगमंच के जाने-माने रंगकर्मी-निर्देशक जहाँगीर खान ने कुछ ऐसा ही किया. दरअसल मौका था अभिनव एवं ऐक्ट के 20 दिवसीय निःशुल्क नाट्य कार्यशाला के उद्घाटन का जहाँ वे पहले दिन ही बतौर प्रशिक्षक मंगलम द वेन्यू में पहुंचे थे. युवाओं और बच्चों को ट्रेंनिग देने के बाद पटना लौटते ही सोशल मीडिया पर कार्यशाला के बारे में अपने अनुभव को शेयर करते हुए लिखा कि “आरा की धरती के बारे में सुना था, रविवार को काम करने के बाद युवाओं और बच्चों की ऊर्जा को देखकर अच्छा लगा.”ये तारीफें उन्होंने आरा और आरा के युवा नवोदित कलाकारों की उर्जा से प्रभावित हो कहीं. उन्होंने थियेटर वर्कशॉप के पहले दिन बच्चों को टीम कोऑर्डिनेशन और टीम कम्युनिकेशन के बारे में कई गतिविधियों और थियेटर गेम के जरिये बताया. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए भी कहा कि बच्चों में काफी संभावनाएं हैं. रंगसंस्था अभिनव एंड एक्टिव क्रिएटिव थिएटर(ऐक्ट) द्वारा आयोजित 20 दिवसीय थियेटर वर्कशॉप का आज से शुभारंभ हो गया. आगामी 6 अगस्त तक चलने वाले इस कार्यक्रम का उद्घाटन बतौर मुख्य अतिथि शहर के डॉ विजय कुमार गुप्ता व डॉ संगीता कुमारी गुप्ता ने मंगलम द वेन्यू

Read more

25000 से ज्यादा पदों के लिए करें आवेदन

केंद्रीय कर्मचारी चयन आयोग ने प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को बढ़िया मौका दिया है. इस बार कर्मचारी चयन आयोग ने 25271 पदों पर बहाली के लिए वैकेंसी निकाली है. यह पूरे पद जीडी कांस्टेबल के लिए हैं. इनमें पुरुष कांस्टेबल के 22424 और महिला कांस्टेबल के 2847 पद हैं आवेदन की अंतिम तिथि 31 अगस्त 2021 से आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं . ssc.nic.in जानिए क्या कुछ है इस बहाली से संबंधित खास ऑनलाइन आवेदन फीस जमा करने की अंतिम तारीख 2 सितंबर है और चालान से फीस जमा करने की अंतिम तारीख 7 सितंबर है. इस प्रतियोगिता परीक्षा में जनरल इंटेलिजेंस ,रिजनिंग जनरल नॉलेज, जनरल अवेयरनेस, एलिमेंट्री मैथ और इंग्लिश हिंदी से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे जिसमें 4 पार्ट में 25 प्रश्न पूछे जाएंगे. परीक्षा की अवधि 90 मिनट होगी. प्रत्येक गलत उत्तर के लिए एक चौथाई अंक काटे जाएंगे. इस परीक्षा में क्वालीफाई करने वाले पुरुष उम्मीदवारों को 24:00 मिनट में 5 किलोमीटर की दौड़ लगानी होगी इसके अलावा 6:30 मिनट में 1 पॉइंट 60 मीटर की दौड़ भी लगानी होगी महिला उम्मीदवारों को 4 मिनट में 800 मीटर की दौड़ लगानी होगी और 8:30 मिनट में 1 पॉइंट 6 किलोमीटर की दौड़ भी महिलाओं को लगानी होगी.

Read more

भ्रष्ट नियोजन इकाइयों पर कार्रवाई की तैयारी

बिहार में जिन जिन नगर निकाय, प्रखंड और पंचायत इकाइयों में शिक्षक नियोजन के लिए काउंसलिंग हुई है उन सभी के कार्यपालक पदाधिकारी, ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर और पंचायत सचिव शिक्षा विभाग के राडार पर हैं . शिक्षा विभाग इंटरनल इंक्वायरी करा रहा है क्योंकि नियोजन के वक्त ही शिक्षा विभाग को कई नियोजन इकाईयों के फर्जीवाड़े की रिपोर्ट मिल चुकी है. अभ्यर्थियों ने बकायदा फोटो और अन्य सबूतों के साथ शिकायत दर्ज कराई है. अपर मुख्य सचिव की मानें, जहां-जहां गड़बड़ी हुई है वहां काउंसलिंग कैंसिल होना तय है. ना सिर्फ काउंसलिंग में शामिल पंचायत सचिव और और अधिकारी बल्कि फर्जीवाड़े में शामिल अभ्यर्थियों पर भी एफ आई आर होगी. इस बार शिक्षा विभाग ने काफी पारदर्शी तरीका अपनाया है जिसमें कुछ भी छिपाना संभव नहीं है और यही वजह है कि सभी नियोजन इकाइयों को 20 जुलाई तक काउंसलिंग में चयनित उम्मीदवारों की सूची सार्वजनिक करने की का निर्देश दिया गया है. यह सूची एनआईसी की वेबसाइट पर अवश्य तौर पर प्रकाशित करनी होगी. इस बारे में शिक्षा विभाग के मंत्री विजय कुमार चौधरी भी साफ तौर पर यह कह चुके हैं कि जिन लोगों ने भ्रष्टाचार किया है उनके खिलाफ कार्रवाई तय है. जिन प्रखंड या पंचायतों से ज्यादा शिकायतें मिली है उनमें दरभंगा, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, सारण, भोजपुर और पटना भी शामिल है. शिक्षक नियोजन का मामला वर्ष 2019 में शुरू हुआ जब सरकार ने 90762 पदों पर प्राथमिक और मध्य विद्यालय शिक्षकों के नियोजन की घोषणा की थी. लंबी लड़ाई के बाद आखिरकार जुलाई महीने में काउंसलिंग

Read more

हिन्दी रंगमंच में अभिनेता स्थायी नहीं -परवेज अख्तर

दुर्भाग्यवश हिन्दी रंगमंच में अभिनेता स्थायी नहीं है, जबकि यह उसी का माध्यम है चन्द रंगकर्मी ही औपचारिक प्रशिक्षण प्राप्त कर पाते हैं कितने प्रतिशत कलाकार संस्थानों से प्रशिक्षित होते हैं, 5% या उससे भी कम किसी व्यक्ति द्वारा कला-सृजन, उस व्यक्ति के रचनात्मक रुझान और उसकी नैसर्गिक* कला-प्रतिभा पर निर्भर करता है। कलात्मकता का प्रशिक्षण कदाचित सम्भव नहीं है। रंगमंच में प्रशिक्षण दरअसल शिल्प का ही होता है। फिर भी रंगमंच के क्षेत्र में सक्रिय कितने प्रतिशत कलाकार संस्थानों से प्रशिक्षित होते हैं, 5% या उससे भी कम। लेकिन प्रशिक्षण केन्द्र कुछ इस तरह का माहौल या हाइप बनाते हैं, गोया औपचारिक प्रशिक्षण प्राप्त नाट्यकर्मी ही रंगमंच के वास्तविक नायक हैं। जबकि वस्तुस्थिति यह है कि बहुत बड़ी संख्या में अप्रशिक्षित या अनौपचारिक रूप से प्रशिक्षित कलाकर्मी रचनात्मक क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान करते और अति-महत्वपूर्ण रचते हुए दिखते हैं और कला-जगत उनका उच्च-मूल्यांकन भी करता है। हालाँकि सभी कलाओं में शिल्प-के-प्रशिक्षण का अत्यधिक महत्व है; इसका विकल्प नहीं है लेकिन कितने हैं, जिन्हें औपचारिक प्रशिक्षण का अवसर मिल पाता है ? वैसे देखें, तो आप पाएँगे कि अप्रशिक्षित कोई होता नहीं। चन्द रंगकर्मी ही औपचारिक प्रशिक्षण प्राप्त कर पाते हैं; जबकि अधिकांश हिन्दी-नाट्यकर्मी, नाट्य-दल में अपनी सक्रियता के क्रम में अनौपचारिक रूप से प्रशिक्षित होते रहते हैं।कला प्रशिक्षण केन्द्र, वास्तव में ‘शिल्प’ या ‘क्राफ़्ट’ तथा ‘तकनीक’ का प्रशिक्षण देते हैं, कला अथवा कलात्मकता का नहीं। रंगमंच कला में, अंतर्शिल्पीय दक्षता की आवश्यकता होती है। नाट्य-शिल्प के अन्तर्गत स्टेज-क्राफ़्ट, लाइटिंग, म्यूजिक, मेक-अप, कास्ट्यूम, सीनिक-डिजाईन आदि-इत्यादि रंगमंच-कला के मुख्य-सर्जक अभिनेता और

Read more

जॉइन कीजिये थियेटर की 20 दिवसीय मुफ्त कार्यशाला

“अभिनव एवं ऐक्ट” आयोजित करेगा 20 दिवसीय मुफ्त नाट्य कार्यशाला रविवार 18 जुलाई से प्रारंभ होगी 20 दिवसीय नाट्य कार्यशाला आरा, 16 जुलाई. भोजपुर जिले की थियेटर में अग्रणी रँग संस्था अभिनव और ऐक्ट आरा आगामी 18 जुलाई से 6 अगस्त तक एक नाट्य कार्यशाला का आयोजन करने जा रही है. संस्था 20 दिनों तक चलने वाले इस कार्यशाला में 6 साल से 14 साल और 15साल और उससे अधिक दो श्रेणियों के लोगों के लिए नाट्य कार्यशाला का आयोजन करने जा रही है. इस कार्यशाला में देश के नामी कई थियेटर दिग्गजो के शरीक होने की खबर है. थियेटर के दिग्गजों के साथ पेंटिंग, क्राफ्ट,मेकअप,संगीत,नृत्य और कैमरा फेसिंग के भी कई दिग्गज कार्यशाला में आने वाले थियेटर प्रेमियों को अपने हुनर को उनमें भरेंगे. बाहर के वैसे लोग जो फ़िल्म इंडस्ट्री से जुड़े हैं वे भी इन बच्चों को ऑनलाइन के जरिये अपना हुनर इनमें भरेंगे. पहले दिन प्रशिक्षण में बतौर प्रशिक्षक जहांगीर खान आएंगे और थियेटर की बारीकियों को बताएंगे. कार्यशाला पूरी तरह से निः शुल्क है जो रेडक्रॉस के बगल में स्थित मंगलम द वेन्यू में आयोजित होगा. आयोजक ने बताया कि कोविड गाइडलाइंस का सभी कार्यशाला में मौजूद लोगों को सख्ती से पालन करना अनिवार्य है. कार्यशाला के निर्देशक वरिष्ठ रंगकर्मी, निर्देशक व पत्रकार रविन्द्र भारती हैं वही कार्यशाला के संयोजक ओ पी पांडेय को बनाया गया है. रविंद्र भारती ने अभिभवकों और स्कूल के शिक्षकों के साथ प्रबन्धकों से आग्रह किया कि कोरोना काल की वजह से मानसिक स्थिति से गुजर रहे सभी लोगों को

Read more

अब दरभंगा एवं मुजफ्फरपुर से भी चलेंगी 04 जोड़ी मेमू पैसेंजर स्पेशल ट्रेनें

हाजीपुर,14 जुलाई. पूर्व मध्य रेल द्वारा यात्रियों की सुविधा हेतु कोविड-19 के कारण पूर्व में स्थगित 04 जोड़ी मेमू पैसेंजर स्पेशल ट्रेन का परिचालन पुनर्बहाल किया जा रहा है. दिनांक 16 जुलाई, 2021 से प्रारंभ होने वाले इन मेमू पैसेंजर स्पेशल ट्रेनों का परिचालन अगली सूचना तक जारी रहेगा. ये मेमू पैसेंजर स्पेशल ट्रेनें मुजफ्फरपुर से पाटलिपुत्र, नरकटियागंज, समस्तीपुर तथा दरभंगा से पाटलिपुत्र के मध्य प्रतिदिन चलेंगी. इन पैसेंजर ट्रेनों से यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए कोविड-19 से बचाव एवं रोकथाम हेतु जारी दिशा-निर्देशों का पालन करना आवश्यक होगा. विदित हो कि इसके पूर्व पटना से गया, पंडित दीन दयाल उपाध्याय जं. तथा आरा के मध्य 03 जोड़ी मेमू पैसेंजर स्पेशल ट्रेन का परिचालन 14.07.2021 से प्रारंभ किया जा चुका है. 05255 समस्तीपुर-मुजफ्फरपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल : 05255 समस्तीपुर- मुजफ्फरपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल 16.07.2021 से समस्तीपुर से प्रतिदिन 06.33 बजे खुलकर सभी छोटे-बड़े स्टेशन पर रुकते हुए 07.50 बजे मुजफ्फरपुर जं. पहुंचेगी. 2.05256 मुजफ्फरपुर-समस्तीपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल: 05256 मुजफ्फरपुर-समस्तीपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल 17.07.2021 से मुजफ्फरपुर जंक्शन से प्रतिदिन 21.40 बजे खुलकर सभी छोटे-बड़े स्टेशनों पर रुकते हुए 23.26 बजे समस्तीपुर पहुंचेगी. 3.05257 मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज मेमू पैसेंजर स्पेशल: 05257 मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज मेमू पैसेंजर स्पेशल 16.07.2021 से मुजफ्फरपुर से प्रतिदिन 12.20 बजे खुलकर सभी छोटे-बड़े स्टेशन पर रुकते हुए 17.00 बजे नरकटियागंज पहुंचेगी. 4.05258 नरकटियागंज-मुजफ्फरपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल: 05258 नरकटियागंज-मुजफ्फरपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल 17.07.2021 से नरकटियागंज से प्रतिदिन 09.45 बजे खुलकर सभी छोटे-बड़े स्टेशन पर रुकते हुए 14.35 बजे मुजफ्फरपुर पहुंचेगी. 5.05253 मुजफ्फरपुर-पाटलिपुत्र मेमू पैसेंजर स्पेशल: 05253 मुजफ्फरपुर-पाटलिपुत्र मेमू पैसेंजर स्पेशल 16.07.2021 से

Read more