कैबिनेट मीटिंग इन जंगल

बाल्मीकि नगर में छठ के आस पास होगी कैबिनेट बैठक

पश्चिम चम्पारण के बाल्मीकि नगर में प्राकृतिक और शांत वातावरण में कैबिनेट की बैठक




पटना : मुख्यमंत्री अपने कैबिनेट बैठक को लेकर हमेशा कुछ नया सोंचते रहते है ,इस बार की कैबिनेट बैठक भी कुछ अलग प्रकार से होगी इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है .कभी गाँव में कभी पहाड़ पर ,कभी गंगा नदी के फ्लोटिंग रेस्तरा में कैबिनेट की बैठक होती आ रही है मुख्यमंत्री अपने फेवरेट डेस्टिनेशन राजगीर में दो बार कैबिनेट की बैठक कर चुके हैं. पहली दफा वर्ष 2009 में और दूसरी बार वर्ष 2017 में हुई थी . इस बार पटना की आबोहवा से दूर पश्चिम चम्पारण के बाल्मीकि नगर में प्राकृतिक और शांत वातावरण में कैबिनेट की बैठक आयोजित करने का काम शुरू हो शुरू हो गया है .अधिकारी काम पर लग गये हैं.बाल्मीकि नगर भी अब बिहार की राजनीति में कैबिनेट बैठक

नीतीश कुमार ने 10 फरवरी, 2009 को बेगूसराय के बरबीघी गांव में कैबिनेट की बैठक की थी.

29 दिसंबर, 2009 को राजगीर में रत्नागिरी पर्वत के शीर्ष पर स्थापित विश्व शांति स्तूप के सभागृह में कैबिनेट की बैठक

गंगा नदी में कैबिनेट की बैठक 14 जनवरी, 2010 को फ्लोटिंग रेस्तरां पर हुई थी.

एक कैबिनेट बैठक फ्लोटिंग रेस्टुरेंट में
फ्लोटिंग रेस्टुरेंट में कैबिनेट बैठक के लिए जाते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
बाल्मीकि नगर का मनोरम दृश्य

PNCDESK #cabinetinjungle