नई तकनीकों और विचारों से होगा चुनौतियों का सामना

बीएसडीएवी स्कूल में हुआ ‘ऑनलाइन सांस्कृतिक कार्यक्रम

आरा ।
स्थानीय बी.एस.डीएवी.प.स्कूल में प्राचार्य श्री दीपक कुमार ने क्रीड़ा शिक्षक परसुराम साहु , कमलेश दूबे तथा किरण कुमारी के साथ मिलकर एक निश्चित दूरी बरतते हुए झंडोत्तोलन किया। इस अवसर पर प्राचार्य ने कहा कि इस विकट काल में हमें अपने अवसरों को चुनौतियों की तरह स्वीकार करना है। जो हमारी सुरक्षा के लिए हर क्षण तत्पर हैं वैसे प्रथम पंक्ति के वीरों के सम्मान में हमें सदैव तत्पर रहना होगा। उन्होंने कहा कि आजादी की यह वर्षगाँठ हमें हमारे उत्तरदायित्वों व कर्तव्यों के निर्वहन की याद दिलाती है।नये विचारों व नई तकनीक के सहारे हमें हर चुनौतियों का सामना करना है। उन्होंने विद्यार्थियों और अभिभावकों का आभार व्यक्त किया कि वे इस विषम परिस्थितियों में भी विद्यालय से ऑनलाइन जुड़कर शैक्षिक गतिविधियों के सकुशल संचालन में सहयोग कर रहे हैं। इस अवसर पर शारीरिक दूरी और मास्क लगाने जैसी हिदायतों का सख्ती से पालन किया गया। विद्यालय परिसर में किसी भी तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं हुए।





प्रत्येक वर्ष की तरह स्वतंत्रता दिवस पर होनेवाले सांस्कृतिक कार्यक्रम इसबार ‘ऑनलाइन’ किया गया। यह कार्यक्रम बच्चों , अभिभावकों व शिक्षकों के लिए बिलकुल नया अनुभव था। बच्चों ने इसमें बढ़चढ़कर हिस्सा लिया। बच्चों ने अपने एक से बढ़कर एक गीत, संगीत और नृत्य प्रस्तुतियों से समाँ बाँध दी। इस अवसर पर प्राचार्य ने बच्चों को उनके उन्नत भविष्य की बधाई दी।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आगाज छठी कक्षा के छात्र आर्य श्रीवास्तव ने कर्मा फिल्म के गीत से की। इसके बाद ‘देश रंगीला..रंगीला’, ‘कहते हैं हमको प्यार से इंडियावाले’, ‘तेरी मिट्टी में मिल जावाँ’, ‘हम हैं हिंदुस्तानी’ जैसे गीतों की धुन पर रीत श्रीवास्तव, साक्षी कुमारी, आराध्या,साल्वी, शिवानी आदि ने मनमोहक नृत्य प्रस्तुत किया। इस आभाषी माध्यम के सहारे प्रस्तुत सांस्कृतिक कार्यक्रम की विशेष उपलब्धि सौरवी मिश्रा तथा आर्यन अनिल व अंश अनिल बंधु रहे। जहाँ सौरवी ने अपने नृत्य से सबको आकर्षित किया वहीं तबला व कैसियो जैसे वाद्य यंत्रों के सहारे अनिल बंधु ने मधुर गीत ‘होठों से छु लो तुम’ सुनाकर चौका दिया। आर्यन अनिल ने ‘हम होंगे कामयाब’ जैसे उद्बोधन गीत को भी सधे सुर में प्रस्तुत किया।

इसके अतिरिक्त अभिज्ञान, शौर्य श्रीवास्तव, राजशेखर सिंह, सोनाली सिन्हा, तेजप्रताप अकेला, राजवी त्रिपाठी, विवान अग्रवाल, सोनाक्षी, अदिति वत्स, अर्णव, जूही कुमारी, वैष्णवी, आशुतोष राज, अनन्या तथा अर्णव रंजन आदि छात्र-छात्राओं ने कविता पाठ तथा हिंदी व अंग्रेजी में अपने वक्तव्य दिये।

वरीय शिक्षिका विभा त्रिवेदी ने बच्चों को देश भक्ति गीतों को सुनाकर बधाई दी। संस्कृत शिक्षक राजेश मिश्र ने बच्चों के कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए उन्हें बधाई दी। अंत में वरिष्ठ शिक्षक राजेश कुमार पाण्डेय ने विद्यालय परिवार की ओर से सभी प्रतिभागी बच्चों तथा उपस्थित अभिभावकों का धन्यवाद व्यक्त किया।

कार्यक्रम का संचालन सुमन कुमार सिंह ने किया। विद्यालय के अधिकांश शिक्षक-शिक्षकेत्तर कर्मी भी इस दौरान जुड़े रहे। बच्चों के उत्साह और अभिव्यक्ति की वेचैनी के फलस्वरूप लगभग चार घंटे तक चलनेवाला यह कार्यक्रम पूर्णत: सफल रहा। गूगल मिट के पटल पर लगभग 75-80 लोगों की उपस्थिति इस कार्यक्रम की सार्थकता का प्रमाण रही।

आरा से रवि प्रकाश सूरज