नियोजन प्रक्रिया में ढिलाई की शिकायत पर होगी कार्रवाई

बिहार में प्राथमिक शिक्षक नियोजन की प्रक्रिया को लेकर शिक्षा विभाग की नाराजगी सामने आई है. एक तरफ जहां कक्षा 1 से 5 के नियोजन पर पटना हाईकोर्ट ने स्टे लगा रखा है. दूसरी तरफ कक्षा 6 से 8 के नियोजन की प्रक्रिया को लेकर शिक्षा विभाग पहले ही आदेश जारी कर चुका है कि नियोजन पत्र बांटने को छोड़कर बाकी सारा काम 31 अगस्त तक पूरा करना है. लेकिन कई नियोजन इकाईयों से यह शिकायत मिल रही है कि वहां यह काम नहीं हो रहा. मेधा सूची बनाने में ढिलाई बरत रहे नियोजन इकाईयों पर अब शिक्षा विभाग सख्त हो गया है.

प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ रणजीत कुमार सिंह ने सभी नियोजन इकाईयों से रिपोर्ट मांगी है कि कहां कितना काम पूरा हुआ है. जिन इकाइयों में किसी कारण कारणवश ढिलाई बरती गई है वहां संबंधित व्यक्ति पर क्या कार्रवाई हुई है इसकी रिपोर्ट भी प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने मांगी है. कक्षा 1 से 5 तक अभ्यर्थियों की लिस्ट एक्सल शीट पर तैयार करने का आदेश प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने दिया था. बुधवार को इस बारे में एक महत्वपूर्ण बैठक भी बुलाई गई है. प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने किसी भी हाल में 31 अगस्त तक नियोजन से संबंधित काम पूरा करने का आदेश दिया है.




आपको बता दें कि प्राथमिक शिक्षक अभ्यर्थी लगातार सरकार से यह मांग कर रहे हैं कि कक्षा 1 से 5 के नियोजन का काम भी जल्द शुरू हो. उनका कहना है कि इसके लिए कोर्ट में सरकार खुद जल्द कार्रवाई की याचिका दायर करे, ताकि चुनाव से पहले नियोजन का काम पूरा हो. रविवार को पटना में प्राथमिक शिक्षक आप लड़कियों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए विरोध दर्ज कराया था.

राजेश तिवारी