आदि शक्ति नाट्य महोत्सव का दूसरा दिन : ‘मकान’ का मंचन

प्रेमचन्द खन्ना स्मृति महोत्सव के दूसरे दिन आदि शक्ति नाट्य महोत्सव में ममता मेहरोत्रा लिखित, अखिलेश्वर प्रसाद सिन्हा द्वारा परिकल्पित और सुमन कुमार निर्देशित नाटक ‘मकान’ का मंचन ‘कला जागरण’ ने प्रस्तुत किया. प्रस्तुत नाटक में एक माँ की कथा है जिसने एक मकान का सपना देखा है, पर कैसे उसके अपने ही दो बेटे बहुओं के कहने में आकर झगड़ा करते हैं और कोर्ट-कचहरी के बाद मकान नीलाम हो जाता है और माँ का सपना टूट जाता है. कलाकारों में मिथिलेश कुमार सिन्हा (शंकर साहू), आमिर हक़ (छोटा भाई), नेहा कुमारी (छोटी बहू), श्रृष्टि कुमारी (बड़ी बहू), करिश्मा कुमारी (माँ), अखिलेश्वर प्रसाद सिन्हा (दूधवाला), सीतेश कुमार सिंह (सेठ/पंडित/व्यक्ति), राकेश कुमार (हाकिम), मनु कुमार (चपरासी/मजदूर), आदर्श प्रियदर्शी (मजदूर/व्यक्ति), आराध्या सिन्हा (मुन्नी), अनुराग (मुनीम) ने अपने अभिनय से प्रभावित किया. पार्श्व से मंच-सज्जा प्रदीप गांगुली, रूप-सज्जा हीरा लाल राय, संगीत प्रभाव अजीत गुज्जर, ध्वनि नियंत्रण उपेन्द्र कुमार, प्रकाश सज्जा राज कुमार, वस्त्र विन्यास रीना कुमारी, मनु राज, प्रस्तुति सहयोग रणविजय सिंह, अमित कुमार, अभिषेक कुमार, कृष्णा कुमार, प्रस्तुति संयोजन रोहित कुमार, और मार्गदर्शन गणेश प्रसाद सिन्हा, डॉ किशोर सिन्हा, सुशील शर्मा, नीलेश्वर मिश्र, कन्हैया प्रसाद ने किया.




 

पटना नाउ ब्यूरो की रिपोर्ट