2022 तक पूरा हो जाएगा आपके एक घर का सपना

‘हाउसिंग फॉर ऑल’ के तहत बनेंगे 6 करोड़ घर                             20_02_2016-houding

2 करोड़ घर शहरों में ओर 4 करोड़ घर गांवों में




लोन की दर 7 से 7.5 फीसदी ब्याज के बीच

ऑनलाइन होगा आवेदन, नहीं लगाने पड़ेंगे चक्कर

आवेदन के लिए शुल्क 25 रुपये  

download

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी योजना हाउसिंग फॉर ऑल की शुरुआत 20 नवंबर से शुरू हो जाएगी.इस योजना के तहत अगले तीन साल में एक करोड़ मकान का निर्माण कराया जाएगा.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस योजना का आगाज  आगरा में करेंगे. ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री मोदी ने घरों की कमी दूर करने के लिए और गरीब लोगों को सस्ते घर उपलब्ध कराने के लिए इस योजना का एलान किया था. केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान बताया कि प्रधानमंत्री मोदी 20 नवंबर को उत्तर प्रदेश के आगरा में योजना का शुभारंभ करेंगे, जिसके तहत अगले तीन वर्ष में एक करोड़ आवास बनेंगे.सभी को 2022 तक घर देने की योजना के लिए सरकार ने इंदिरा आवास योजना को नाम बदलकर प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण कर दिया है. इस योजना के तहत वित्त वर्ष 2016-17 से लेकर 2018-19 तक में एक करोड़ मकान बनाने की योजना है.

सबके लिए भी है योजना

वर्ष 2022 यानी कि पांच साल में ‘हाउसिंग फॉर ऑल’ के तहत केंद्र सरकार 6 करोड़ घर बनाने पर काम कर रही है जिसमें 2 करोड़ घर शहरों में ओर 4 करोड़ घर गांवों में बनाने की योजना है. सरकार ने इसे सफल बनाने के लिए रोड मैप बनाए जारहे हैं कि सरकार कैसे 6 करोड़ घर बनाएगी और कैसे लोगों के बीच उसे वितरित करेगी.सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार कम कीमत के घर खरीदने वालों को सस्ती दर पर होम लोन भी देगी. लोन की दर 7 से 7.5 फीसदी ब्याज के बीच हो सकती है, ताकि गरीब से गरीब आदमी भी आसानी से घर खरीद सके.

union-cabinet1

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बन रहे सस्ते घरों का आवेदन करने के लिए अथॉरिटी के चक्कर नहीं काटना होगा.आप इस स्कीम में बन रहे घरों के लिए आवेदन ऑनलाइन कर सकते हैं. ऑनलाइन आवेदन देश भर में फैले 60 हजार कॉमन सर्विस सेंटर से किया जा सकता है. आवेदन के लिए शुल्क 25 रुपए रखा गया है.