लालकिले से बोले मोदी , ‘हिंसा-अत्याचार के लिए हमारे देश में कोई जगह नहीं’

देश आज अपना 70वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है. इस मौके पर लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तिरंगा लहराया. देश की 70वीं वर्षगांट के मौके पर देशवासियों के संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार ने लोगों को अस्पतालों में इलाज के लिए ऑनलाइन बुकिंग की सुविधा प्रदान करने का फैसला लिया था. एम्स का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि इसी तरह का बदलाव देश के 40 प्रमुख अस्पतालों में लाया गया है. उन्होंने कहा कि इसी प्रकार, बस केवल एक मिनट में रेलवे की 15 हजार टिकटें ऑनलाइन कट रही हैं. प्रधानमंत्री ने कहा, “जब मैं सुराज (सुशासन) के बारे में बात करता हूं, तो इसका मतलब देश के हर नागरिक के जीवन में बदलाव लाना है.”

LIVE UPDATES:




एक समाज, एक सपना, एक संकल्प, एक मंजिल, इस दिशा में हम आगे बढ़ें: पीएम मोदी
पाक के पेशावर में स्कूल पर आतंकी हमले का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा- जब पेशावर में आतंकवादियों ने निर्दोष बालकों को मौत के घाट उतार दिया गया, तो भारत की आंखों में आंसू थे.
हिंसा और अत्याचार का हमारे देश में कोई स्थान नहीं है: पीएम मोदी
आओ मिलकर गरीबी से लड़ें, अपने से लड़कर हम तबाह तो हो चुके हैं. हम सभी पड़ोसियों को गरीबी से लड़ने के लिए आमंत्रित करता हूं- पीएम मोदी
ये देश हिंसा, आतंकवाद को कभी बर्दाश्त नहीं करेगा. ये देश आतंकवाद के सामने कभी नहीं झुकेगा- पीएम मोदी
काम का दायरा जितना बढ़ेगा, रोजगार की संभावना उतनी बढ़ेंगी. हम इसी दिशा में आगे बढ़ रहे हैं: पीएम मोदी
युवाओं को अवसर मिले, युवाओं को रोजगार मिले, ये हमारे लिए समय की मांग है : पीएम मोदी
सशक्त हिंदुस्तान, सशक्त समाज के बिना नहीं बन सकता और सशक्त समाज का निर्माण होता है, सामाजिक न्याय के आधार पर: पीएम मोदी
आज जो सामाजिक तनाव देखते हैं, उसमें रामानुजाचार्य का संदेश महत्वपूर्ण है. हमारे सभी महापुरुषों से सामाजिक एकता की बात की: पीएम मोदी
हम अपने देश में कितनी ही प्रगति करें, लेकिन हमें इसके साथ-साथ हमें अपने देश को वैश्विक मानकों पर खरा उतारना पड़ेगा: पीएम मोदी
हमने आधार को सरकारी योजनाओं से जोड़ा, बिचौलियों को बाहर किया और बचे हुए पैसे जरूरतमंद के खातों तक पहुंचाने का काम किया: पीएम मोदी
जब नीति साफ हो, नीयत स्पष्ट हो, तब निर्णय करने का जज्बा भी कुछ और होता है. हमारी सरकार लास्टमैन डिलीवरी पर बल दे रही है: पीएम मोदी
साढ़े सात लाख करोड़ रुपये के पिछली सरकारों के प्रोजेक्ट जो रुके हुए थे, मैंने कहा कि इनको पूरा करो: पीएम मोदी
मैंने लोकलुभावन फैसलों से दूर रहने का प्रयास किया है. हमने सरकार की पहचान से ज्यादा हिंदुस्तान की पहचान पर बल दिया: पीएम मोदी
पहले की सरकार में मुद्रास्फीति 10% को पार कर जाती थी, लेकिन हमने मुद्रास्फीति को 6% से आगे नहीं बढ़ने दिया: पीएम मोदी
हमने जमीन की सेहत पर ध्यान दिया. हमने स्वाइल हेल्थ कार्ड और जल प्रबंधन पर बल दिया है : पीएम मोदी
जितना प्रयास मुझसे होगा करता रहूँगा, गरीब की थाली को महँगी नहीं होने दूंगा: पीएम मोदी
साढ़े तीन सौ रुपये में बिकने वाले एलईडी बल्व, सरकार के हस्तक्षेप से आज 50 रुपये में बांटे जा रहे हैं: पीएम मोदी
सामान्य व्यक्ति देश की अर्थव्यवस्था की मुख्य धारा का हिस्सा नहीं था. हमने 21 करोड़ लोगों को जनधन से जोड़कर असंभव को संभव किया: पीएम मोदी
21 करोड़ नागरिकों को जनधन योजना में जोड़कर हमने असंभव को संभव कर दिया. ये सवा सौ देशवासियों ने किया है- पीएम मोदी
पहले 30-35 हजार किलोमीटर ट्रांसमिशन लाइन डाली जाती थी. आज इस काम को हमने करीब 50 हजार किलोमीटर तक पहुंचाया है: पीएम मोदी
हमने 60 सप्ताह में चार करोड़ नए लोगों को रसोई गैस के कनेक्शन दिए- लालकिले से पीएम मोदी
सुराज्य के लिए सुशासन भी जरूरी है. अब ग्रुप सी और ग्रुप डी के 9000 पदों पर इंटरव्यू की प्रक्रिया नहीं होगी. सिफारिश की जरूरत नहीं होगी- पीएम मोदी
पहले पासपोर्ट पाने के लिए अगर सिफारिश नहीं है तो चार-छह महीने यूं ही चले जाते थे. आज हफ्ते-दो हफ्ते में पासपोर्ट पहुंचा दिया जाता है: पीएम मोदी
सरकार में जवाबदेही होनी चाहिए: पीएम मोदी
आज सरकार के सभी बड़े अस्पतालों में ऑनलाईन रजिस्ट्रेशन होते हैं और पूरा मेडिकल रिकॉर्ड ऑनलाईन उपलब्ध होता है: पीएम मोदी
AASSS