रेलवे क्वार्टर से बरामद हुआ लापता युवक का शव

खगौल ,अजीत।। राजधानी पटना के दानापुर अनुमंडल के खगौल स्थित रेलवे क्वार्टर के एक मकान की जमीन में दफन किया गया शव पुलिस ने जमीन खोद कर निकाला. बताया जाता है कि यह शव जिस युवक का है वह पिछले 18 दिनों से लापता था और परिजन उसके अपहरण की आशंका जाहिर कर रहे थे. जमीन के अंदर से शव निकाले जाने की सूचना पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई. पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा. पुलिस का कहना है कि परिवार वालों के बयान पर जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया था उनके बयान और स्वीकार करने पर की युवक की हत्या कर शव को दफनाया गया है उसके बाद पुलिस ने जमीन खोद कर शव निकाला है. मृतक की पहचान हथियाकन्द सराय निवासी कुंती देवी के बेटे मनीष यादव के रूप में होते ही परिजनों में कोहराम मच गया. बताया जाता है कि काफी दिनों से पुलिस इस घटना को लेकर मोबाइल के लोकेशन पर छापामारी करती रही. बीती रात आरोपी संतोष सोनी को जक्कनपुर से गिरफ्तार किया. इस से पूछताछ के बाद शाहपुर पुलिस ने आज खाली पड़े नेउरा कॉलोनी रेलवे आवास में गड्ढा खोद कर लाश को बरमद किया है.

जानकारी के मुताबिक मनीष पिछले 3 सितंबर 2022 को घर से मां के लिए दवा लाने बाजार निकला था. इसके बाद युवक लापता हो गया जिसे घर वालों ने काफी खोजबीन की पर कही पता न चला. इस संबंध में लापता युवक मनीष कुमार की मां कुन्ती देवी ने स्थानीय थाना में लिखित आवेदन देकर खोजबीन करने की गुहार लगाई.




शाहपुर थाना क्षेत्र के बंधुटोला हथियाकांध सराय निवासी पीड़ित कुन्ती देवी ने बताया कि विगत 3 सितम्बर को उसका पुत्र दवा लाने के लिए पास के बाजार गया था. मगर देर रात तक उसके नहीं लौटने पर उसे चिंता होने लगी. उसका मोबाइल भी बंद आने लगा. एक दिन बाद उसका मोबाइल चालू हुआ जिसपर बात करने पर एक अन्य व्यक्ती द्वारा कहा गया कि वह सुल्तानगंज थाना से बोल रहे है. इतना कह कर मोबाइल बंद कर दिया. पीड़िता ने पुत्र के साथ किसी अनहोनी की आशंका लिए शाहपुर थाने में लिखित आवेदन देकर खोजबीन करने की गुहार लगाई ….थी . स्थानीय लोगों ने बताया की जिस रेलवे आवास में हत्या किया गया,उस में सब से पहले आर पी एफ महिला पुलिस का होस्टल्स बना गया था. बाद में उनलोगों के चले जाने के बाद इस में कई तरह के लोग अवैध ढंग कर आते जाते रहे ,इस में लड़कियों को लाकर जिस्म का धंधा भी होता था. इस में फिलहाल आरोपी संतोष सोनी ,अपने मजदूरों के साथ रह कर टाईल्स मिस्त्री और मनीष के साथ जमीन खरीद-बिक्री का भी काम करता था. संतोष सोनी सरारी में भी एक रूम ले कर रह रहा था. हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद वहाँ से भी रूम खाली कर भागा हुआ था . पुलिस संतोष सोनी के तीन दोस्तों की गिरफ्तारी के लिए सुपौल,भागलपुर,बेगूसराय आदि जगहों में छापामारी कर रही है . लाश को बरामद करने पहुंची शाहपुर पुलिस ने बताया कि घटना की पूरी जानकारी पोस्टमार्टम कराने के बाद दी जाएगी.