पटना @99 तो बिहार 999

कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से हो रहा इजाफा जैसे-जैसे बिहार में दिल्ली और बेंगलुरु समेत देशभर के लोग आ रहे हैं, वैसे वैसे कोरोना मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है. स्वास्थ्य विभाग की ओर से ताजा अपडेट के मुताबिक राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 999 हो गई है. वहीं पटना में ये आंकड़ा 99 पर है. गुरुवार को सबसे ज्यादा 8 मरीज पूर्णिया में मिले. लखीसराय और खगड़िया में 6-6, जहानाबाद में 5,बांका में 4, मुजफ्फरपुर और नालंदा में 3-3, वैशाली, सुपौल,शेखपुरा और रोहतास में 2-2 मरीज मिले हैं. इधर भोजपुर, भागलपुर और किशनगंज में 1-1 मरीज. मिले हैं.बिहार के खगड़िया जिले से दो नए मरीज मिले हैं. जिले के मछुआ टोला से 42 साल के एक व्यक्ति की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिली है. इसके साथ ही गोगरी इलाके से भी 30 साल के एक युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिली है. राज्य में 400 मरीज स्वस्थ हो चुुके हैं.

Read more

पटना के नए इलाके में पहुंचा कोरोना

बिहार कोरोना अपडेट: पॉजीटिव केस 539पटना के अगमकुआं में भी कोरोना पॉजिटिव, अगमकुआं के एक 21 साल केे युवक में कोरोनावायरस का संक्रमण पाया गया है. मधुबनी और शिवहर में भी मिले 1-1 मरीजपूर्णिया में 27 साल के युवक को हुआ संक्रमणअब तक 160 लोग स्वस्थ होकर पहुंचे अपने घर PNC

Read more

अब तक कुछ ऐसी है बिहार में कोरोना की तस्वीर

बिहार के लिए 90 मरीजों के साथ मुंगेर चिंता का सबब बना हुआ है. वहीं राजधानी पटना में अचानक सामने आए 5 मरीजों के साथ यह बिहार में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है. इसके बाद 34 मरीजों के साथ नालंदा और 32 मरीजों के साथ सासाराम भी जैसे एक दूसरे को पछाड़ने में लगे हैं. बिहार के 25 जिले अब कोरोना की जद में आ चुके हैं. बिहार में लगातार बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दुकानें खोलने का फैसला फिलहाल स्थगित कर दिया है. इस बात की उम्मीद ज्यादा है कि बिहार के ज्यादातर शहरों में लॉक डाउन 3 मई के बाद भी जारी रह सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सोमवार को मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में इस बात के संकेत दिए हैं कि सभी राज्यों को अपने यहां रेड जोन चिन्हित कर लेने चाहिए, जहां लॉक डाउन अगले कुछ दिनों तक जारी रहेगा, जब तक की वह इलाका ग्रीन जोन में परिवर्तित ना हो जाए और वहां जाहिर तौर पर लोगों को कोई छूट नहीं मिलने वाली. पीएनसी

Read more

तीन दिन में ही 200 से 300 के पार

बिहार में पिछले 1 हफ्ते में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या जबरदस्त तेजी से बढ़ी है. ऐसे में यह जरूरी है कि हम सभी सतर्क और सावधान रहें. विशेष रूप से अगर पिछले 3 दिनों की रिपोर्ट पर नजर डालें तो 200 से 300 के पार पहुंचने में महज 3 दिन का समय लगा है. इस बीच बिहार सरकार ने भी यह साफ कर दिया है कि केंद्र सरकार की गाइडलाइन के बावजूद फिलहाल राज्य में कोई और दुकान नहीं खुलेगी. लॉक डाउन का सख्ती से पालन होगा. सोमवार को समीक्षा बैठक के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि 3 मई के बाद ही किसी अन्य दुकान को खोलने पर सरकार फैसला लेगी. इधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पीएम से अपील की है कि लॉक डाउन के नियमों में संशोधन किया जाए ताकि बिहार से बाहर रहने वाले बच्चे और अन्य लोगों को बिहार वापस लाया जा सके. सीएम नीतीश कुमार ने साफ कर दिया है कि जब तक लॉग डाउन के नियमों में संशोधन नहीं होगा, तब तक बिहार के बाहर से, विशेष रूप से कोटा से बच्चों को बिहार वापस लाना संभव नहीं है. बिहार में आज एक ही दिन में 69 मामले सामने आए हैं, जिसके कारण बिहार में कोरोना का आंकड़ा रविवार के 277 से बढ़कर सीधे 346 पर पहुंच गया. सोमवार को ना सिर्फ रोहतास में बड़ी वृद्धि देखने को मिली बल्कि जहानाबाद, लखीसराय, दरभंगा, पूर्णिया और मधुबनी जिले भी कोरोना की चपेट में आ गए.

Read more

पटना के इस बड़े इलाके में भी कोरोना की एंट्री

बिहार में एक बार फिर कोरोना के मामलों में बड़ा अपडेट सामने आया है. कोरोना संक्रमण के 9 और मामले पॉजिटिव आए हैं जिसके बाद अब बिहार में इस महामारी से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़कर 251 हो गई है. पटना के खाजपुरा में एक बार फिर एक पुरुष और एक महिला रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. वही पटना के एक और बड़े रेजिडेंशियल इलाके में महामारी की एंट्री हो गई है. पटना के बेउर में 35, 38 और 42 साल के 3 पुरुष कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. मुंगेर के जमालपुर में 8, 21 और 22 साल की तीन महिलाएं कोरोना पॉजिटिव मिली हैंं. इनके अलावा गया में भी कई दिन के बाद टिकारी से एक 38 साल की महिला संक्रमित पाई गई है. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि इन सभी मामलों की पूरी जानकारी जुटाई जा रही है. राजेश तिवारी

Read more

पटना के इन 10 इलाकों की अब ड्रोन से होगी निगरानी

लॉकडाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग की निगरानी हेतु 10 ड्रोन कैमरा स्थापित 10 महत्वपूर्ण लोकेशन हुए चिन्हित 10 लोकेशन पर 10 पायलट की हुई तैनाती उच्च तकनीक पर आधारित कैमरा द्वारा 2.5 किलोमीटर के रेडियस में की जाएगी फोटोग्राफी ड्रोन द्वारा विभिन्न लोकेशन पर की गई फोटोग्राफी से संबद्ध होंगे प्रशासनिक एवं पुलिस पदाधिकारी आपसी समन्वय एवं तालमेल से लॉक डाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग पर सूक्ष्मता से की जाएगी निगरानी पटना डीएम कुमार रवि ने लॉक डाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग के सतत एवं प्रभावी मॉनिटरिंग करने हेतु पटना शहरी क्षेत्र के 10 महत्वपूर्ण क्षेत्रों को चिन्हित कर उन क्षेत्रों में ड्रोन से निगरानी करने का निर्देश दिया है. इसके तहत पटना जिला के दानापुर/ सचिवालय क्षेत्र/ डाक बंगला चौराहा गांधी मैदान क्षेत्र/ पटना सिटी/ बाइपास एरिया/ बाढ़/ मसौढ़ी/ पालीगंज /राजेंद्र नगर टर्मिनल /फुलवारी शरीफ क्षेत्रों को चयनित किया गया है. प्रत्येक क्षेत्र मेंं एक-एक पायलट की तैनाती ड्रोन के साथ की गई है ताकि प्रत्येक क्षेत्र के भीड़-भाड़ एवं सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में अद्यतन स्थिति की जानकारी उपलब्ध कराया जा सके. उच्च तकनीक पर आधारित इस पद्धति के माध्यम से संबंधित क्षेत्र के 2.5 किलोमीटर के रेडियस की फोटोग्राफी की जाएगी. ड्रोन से कैप्चर किया गया फोटो में क्षेत्र ,तिथि ,समय, अक्षांश ,देशांतर आदि से युक्त होगा. यह फोटो त्वरित रूप से सॉफ्टवेयर के माध्यम से प्रशासनिक एवं पुलिस पदाधिकारियों तक पहुंचेगा. तदनुसार संबंधित एरिया के पदाधिकारी द्वारा अपेक्षित कार्रवाई तत्क्षण रूप से की जाएगी. इस कार्य के सफल एवं सुचारु संपादन सुनिश्चित कराने हेतु प्रोटोकॉल पदाधिकारी इस्तियाक अजमल को

Read more