आरम्भ हुई आज से बिहार में ऑनलाइन दाखिल ख़ारिज

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | सोमवार को बिहार राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग द्वारा आयोजित “ऑनलाइन दाखिल खारिज, ‘ऑनलाइन लगान भुगतान एवं निबंधन कार्यालयों को अंचल कार्यालयों से संबद्ध कर Suo Motto दाखिल खारिज” सुविधा का श्री गणेश हो गया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद में रिमोट के माध्यम से इसका शुभारंभ किया. मुख्यमंत्री ने संतोष व्यक्त किया कि भूमि सुधार एवं राजस्व विभाग ने ऑनलाइन कार्यक्रम की शुरुआत कर दी है. उन्होंने कहा कि इसके लिए हमलोग पहले से ही काफी प्रयासरत थे. हालांकि उन्होंने कहा कि इस काम के लिये कर्मियों की संख्या की कमी है, जिसका आकलन किया गया है. इसके लिए 1203 विशेष सर्वेक्षण सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी, 2297 सर्वेक्षक अंचल निरीक्षक सह कानूनगो, 22966 विशेष सर्वेक्षण अमीन, 2406 लिपिक/विशेष लिपिक, 1203 कार्यपालक सहायक, 12 डाटा इंट्री ऑपरेटर एवं 1203 आई0टी0 ब्वॉय की नियुक्ति के लिए लोक वित्त समिति द्वारा प्रस्ताव किया गया है, इसके लिए विभाग को तेजी से काम करना होगा उसके बाद मुख्य सचिव के स्तर से इसकी समीक्षा की जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के कार्यों में कानून व्यवस्था को बहाल करना उनकी प्राथमिकता है. इस कार्य में बिहार जैसे राज्य में सबसे बड़ी समस्या भूमि विवाद के कारण होती है. राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग काफी महत्वपूर्ण विभाग है, जिसके ऊपर बड़ी जिम्मेदारी है. अब नए तकनीक के प्रयोग से कार्यों में सुविधा होगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि जमाबंदी रजिस्टर तथा अन्य भूमि संबंधी दस्तावेजों को स्कैन कर ई-रिकॉर्ड के रुप में सुरक्षित रखा जाएगा ताकि पुराने दस्तावेज

Read more