फुलवारी के मुकेश को मिला वर्ष 2020 का इंस्पायरिंग साइंस अवार्ड

फुलवारीशरीफ (अजीत की रिपोर्ट) | पटना के फुलवारी शरीफ के इसोपुर गांव के ग्रामीण परिवेश के मध्यम वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखने वाले मुकेश कुमार को वर्ष 2020 का इंस्पायरिंग साइंस अवार्ड जीव विज्ञान में भारत से सर्वश्रेष्ठ शोधपत्र प्रकाशित करने के लिए प्रदान किया गया . यह पुरस्कार टाटा मूलभूत अनुसन्धान संस्थान मुंबई में सम्पादित उनके पीएचडी शोध के लिए मिला है. 24 जनवरी को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) नई दिल्ली के जवाहरलाल ऑडिटोरियम में नोबेल पुरस्कार विजेता और द रॉयल सोसाइटी, लंदन के अध्यक्ष डॉ. वेंकटरमन रामाकृष्णन ने एक कार्यक्रम में फुलवारी के मुकेश कुमार को पदक और प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया. साधारण किसान परिवार से ताल्लुक रखने वाले मुकेश के पिता पिता सत्येंद्र प्रसाद का छड़ी बालू ईंट सीमेंट का व्यवसाय है और माता मुंदरी देवी गृहिणी हैं । फुलवारी के ईसापुर में जैसे ही इस पुरस्कार को डॉ मुकेश को मिलने की खबर मिली परिजनों और मुहल्ले वासियों को ख़ुशी का ठिकाना नही रहा. पुरस्कार पाने के बाद फुलवारी शरीफ अपने घर पहुंचे डॉ मुकेश को परिजनों ने गले लगा लिया वही मुहल्ले वासियों की भीड़ डॉ मुकेश के घर जमा हो गयी. पिता सत्त्येंद्र प्रसाद अपने बेटे की उपलब्धि पर गौरवान्वित हो रहे थे तो माँ अपने लाल को सिने से लगाये दुलार देने में लगी थी . डॉ मुकेश की पत्नी पत्नी अंजलि इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी कानपूर में कैंसर पर शोध कर रही हैं, जिनके भी कई शोधपत्र अन्तराष्ट्रीय विज्ञान पत्रिकाओं में प्रकाशित हो चुके हैं. गाँव के प्राथमिक विद्यालय से

Read more