चढ़ते सियासी तापमान के साथ बिगड़ी लालू की सेहत

बिहार में एक तरफ जहां सियासी तापमान चढ़ा हुआ है वहीं राजद सुप्रीमो लालू यादव की तबीयत आज सुबह अचानक बिगड़ गई. सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद उन्हें तुरंत पटना के आईजीआईएमएस ले जाया गया. राजद नेताओं की मानें को लालू को किडनी के साथ हार्ट डिजीज भी है. शनिवार सुबह उन्हें अचानक चक्कर आने लगे और सांस लेने में तकलीफ होने लगी तो उन्हें IGIMS ले जाया गया. डॉक्टरों की टीम ने वहां उनकी जांच की. इसके बाद वे परेशानी दूर होने पर वे वापस घर लौट आए. जानकारी के मुताबिक रविवार को लालू यादव इलाज के लिए मुंबई जाएंगे. आपको बता दें कि चारा घोटाला मामले में लालू यादव फिलहाल जमानत पर हैं. रांची हाईकोर्ट से उन्हें इलाज के नाम पर सशर्त जमानत मिली है. 42 दिनों की जमानत पर बाहर आए लालू इस दौरान अपना इलाज करा सकेंगे.   पटना से राजेश तिवारी

Read more

बेटे की शादी में कब पहुंचेंगे लालू!

12 मई को लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप शादी के बंधन में बंधने वाले हैं. इसकी पूरी तैयारी हो चुकी है. लेकिन सबको इंतजार है लालू यादव का. तेजप्रताप की शादी बिहार के पूर्व मंत्री चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या राय से शादी होगी. चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू फिलहाल रिम्स के सुपर स्पेशियलिटी वार्ड में भर्ती हैं. जानकारी के मुताबिक लालू यादव ने बेटे की शादी के लिए पेरोल की अर्जी दी है. उन्होंने 10 से 14 मई तक के लिए पेरोल मांगा है. इसपर आज ही फैसला होगा कि लालू यादव को पेरोल मिलेगी या नहीं.  सूत्रों के मुताबिक आज इसे लेकर  बैठक होने वाली है जिसमें जेल आईजी व जेल सुपरिटेंडेंट सहित कई अधिकारी शामिल होंगे. राजद विधायक और लालू के करीबी भोला यादव के अनुसार लालू प्रसाद की ओर से 10 से 14 मई यानि 5 दिनों की पेरोल की मांग की गई है. उन्होंने कहा कि मंगलवार रात मेडिकल बोर्ड ने लालू प्रसाद को यात्रा करने की अनुमति दे दी है लेकिन अभी तक आधिकारिक तौर पर पेरोल के संबंध में फैसला नहीं हुआ है. हमलोगों को पूरी उम्मीद है  कि लालू प्रसाद को पेरोल मिलेगी और वो बेटे की शादी में शामिल होंगे. बता दें कि 11 मई को झारखंड हाईकोर्ट में भी लालू प्रसाद की जमानत याचिका पर सुनवाई होने वाली है.

Read more

“हम हैं बड़े दिलवाले, हमारे दिल में है सबके लिए जगह”

बिहार की सियासत से जुड़ी सबसे बड़ी शादी आजकल खूब चर्चा में है. पूर्व रेल मंत्री लालू के बड़े बेटे की शादी जो हो रही है. बिहार की सियासत शुरू ही लालू से होती है. तो बेटे की शादी की चर्चा तो होगी ही. ये बहुचर्चित शादी 12 मई को हो रही है. और फिलहाल शादी के लिए निमंत्रण का दौर चल रहा है. मंगलवार को अपनी शादी का न्योता लेकर पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के घर पहुंचे. तेजप्रताप ने सुशील मोदी को शादी में आने का न्योता दिया.  सुशील मोदी ने भी शादी में आने का निमंत्रण स्वीकार किया है. शादी का कार्ड देकर निकले तेजप्रताप ने कहा कि राजनीति की बातें अलग होती हैं और सामाजिक जिम्मेवारियां अलग होती हैं. राजनीति में सबकुछ चलता रहता है. उन्होंने कहा कि ये शादी का माहौल है. ऐसे में मैं उनको कार्ड देने आया था. तेजप्रताप ने मोदी से मुलाकात की तस्वीर भी ट्वीट की. बिहार के मा. उप-मुख्यमंत्री श्री @SushilModi जी को अपने विवाह का निमंत्रण दिया। लाख राजनीतिक और मनूवादी विद्वेष हम पर थोपी जाए, हम बहुजन समाज के लोग कृष्ण के वंशज हैं। हमारा दिल बहुत बड़ा है इसमें सब के लिए जगह है। pic.twitter.com/AUzhI2DLGv — Tej Pratap Yadav (@TejYadav14) May 1, 2018 बता दें कि राजनीति के धुर विरोधी लालू और सुशील मोदी एक-दूसरे पर हमले का कोई मौका नहीं चूकते. लेकिन शादी-विवाह के मौके पर एक-दूसरे के घर जरूर जाते हैं. हाल ही में सुशील मोदी के बेटे की शादी

Read more

मोदी पर जमकर बरसे लालू

देश की जनता अब सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ मन बना चुकी है. गुजरात की जनता ने नरेंद्र मोदी के सब्जबाग और नफरत व घृणा की राजनीति को नकार दिया है. ये बातें राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ने पटना पुस्तक मेले में शनिवार को पूर्व सांसद अली अनवर पर केंद्रित ‘अली अनवर’ शीर्षक पुस्तक पर विचार-गोष्ठी तथा परिचर्चा में अपने संबोधन के दौरान कही. ‘अली अनवर’ शीर्षक इस किताब का संपादन पत्रकार व सामाजिक कार्यकर्ता राजीव सुमन ने किया है. यह किताब  ‘भारत के राजनेता’ नामक पुस्तक श्रृंखला का हिस्सा है, जिसके श्रृंखला-संपादक फारवर्ड प्रेस पत्रिका के प्रबंध संपादक प्रमोद रंजन हैं. अपने संबोधन में राजद प्रमुख ने पूर्व सांसद अली अनवर को जनता के लिए लड़ने वाला सिपाही बताया. उन्होंने कहा कि अली अनवर पत्रकार के रूप में भी खासे लोकप्रिय रहे. वहीं गुजरात चुनाव के मद्देनजर लालू प्रसाद ने कहा कि देश और गुजरात की जनता नरेंद्र मोदी का सच जान चुकी है. उन्होंने कहा कि देश की जनता अब धर्म के अाधार पर देश को बांटने वाली ताकतों को बर्दाश्त करने को तैयार नहीं है. उन्होंने कहा कि देश का संविधान खतरे में है. कार्यक्रम में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के अलावा जन संस्कृति से जुड़े लेखक मदन कश्यप, पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने भी अपने विचार रखे. परिचर्चा का संचालन युवा साहित्यकार अरूण नारायण ने किया.  

Read more

लालू के ट्वीट पर सीएम नीतीश का वार

ट्विटर पर एक बार फिर लालू और नीतीश के बीच जंग तेज हो गई है. एनडीए सरकार पर भ्रष्टाचार को लेकर लालू ने ट्वीट किया था, जिसके बाद सीएम नीतीश कुमार ने उनपर कटाक्ष किया है. जान की चिंता, माल-मॉल की चिंता,सबसे बड़ी देशभक्ति है ! — Nitish Kumar (@NitishKumar) November 29, 2017 देखिए क्या ट्वीट किया था लालू ने- लालू तथाकथित भ्रष्टाचारी है इसलिए महागठबंधन की 18 महीनों की सरकार में एक भी घोटाला नहीं हुआ। नीतीश और BJP ईमानदार है इसलिए मात्र चार महीनों में हज़ारों करोड़ के दसियों घोटाले हुए है। बताओ, हुए है कि नहीं? pic.twitter.com/9J8tL4QbYL — Lalu Prasad Yadav (@laluprasadrjd) November 28, 2017

Read more

लालू के लाल के बिगड़े बोल

क्या यही है राजद के युवा नेता. खुलेआम लालू के बड़े बेटे ने आज जो कहा, वो सचमुच सोंचने को मजबूर करता है. क्या यही है स्तर लालू के लाल का. कहां जा रही है राजद की नई पौध. जरा आप भी सुनिए और खुद डिसाइड करिए. क्या कहेंगे इसे. दरअसल बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी अपने बेटे की शादी कर रहे हैं. शादी के लिए उन्होंने लालू एंड फैमिली को भी इनवाइट किया है. लेकिन इनविटेशन की बात सुनते ही तेजप्रताप जैसे आपा खो बैठे. औरंगाबाद में बुधवार को एक सभी में उन्होंने जो कहा, उसके बाद बिहार के सियासी हलकों में नई चर्चा शुरू हो गई है.

Read more

‘जेल में बनेगी लालू की समाधि’

बिहार की सियासय में फोटो और समाधि को लेकर जैसे होड़ मच गई है. पहले वायरल फोटो को लेकर राजद और जदयू आपस में भिड़ गए और अब रविवार को लालू के एक बयान को लेकर एक बार फिर दोनों दलों के नेताओं में जुबानी जंग तेज हो गई. इसके साथ ही  बीच में बीजेपी भी कूद पड़ी और डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने लालू यादव को मानसिक रुप से बीमार बता दिया. सुमो ने कहा कि लालू यादव का दिमाग खराब हो गया है. आजकल वो CBI, ED, IT के चक्कर लगा रहे हैं, इसलिए उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. बता दें कि सीएम नीतीश एक  दिन के दौरे पर रविवार को नालंदा गए हैं. इसको लेकर लालू ने विवादास्पद बयान दे दिया. लालू यादव ने सीएम नीतीश कुमार के राजगीर दौरे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि नीतीश की समाधि राजगीर में ही बनेगी. इसपर भड़के जदयू नेता संजय सिंह ने कहा कि लालू की समाधि जेल में बनेगी. संजय सिंह ने ये भी कहा कि नीतीश कुमार की समाधि बनेगी तो लोग उन्हें याद करेंगे. लेकिन लालू की समाधि तो जेल में ही बनेगी और उन्हें कौन याद करेगा.

Read more

CBI के सामने फिर पेश नहीं हुए लालू-तेजस्वी

रेलवे के 2 होटलों के टेंडर घोटाला मामले में लालू और तेजस्वी यादव एक बार फिर सीबीआई के सामने पेश नहीं हुए.  लालू ने फिर से सीबीआई से समय मांगा है. File Pic लालू यादव पर उनके रेल मंत्री रहते रेलवे के 2 होटलों के रख रखाव के टेंडर में हेराफेरी का आरोप है. रांची और पुरी स्थित इन होटलों के टेंडर में एक खास कंपनी को फायदा पहुंचाने का आरोप भी लालू पर है. जानकारी के मुताबिक अब लालू और उनके बेटे तेजस्वी यादव 5 और 6 अक्टूबर को CBI के सामने पेश होंगे. इधर लालू और तेजस्वी को लेकर संशय की स्थिति को देखते हुए राबड़ी देवी ने बुधवार को पार्टी के नेताओं, विधायकों और जिलाध्यक्षों की आपात बैठक बुलाई है.

Read more

‘नीतीश कुमार हैं राजनीति के पलटू राम’

सोमवार को नीतीश ने लालू पर कई खुलासे किए थे. आज लालू ने चुन-चुन कर नीतीश के सभी बयानों पर पलटवार किया और उन्हें राजनीति का पलटूमार घोषित कर दिया. लालू ने अपने 10 सर्कुलर रोड स्थित आवास पर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि वे नीतीश को लंबे समय से जानते हैं. उनका कोई जनाधार नहीं है, वे सत्ता के लिए कुछ भी कर सकते हैं. लालू ने कहा कि नीतीश कुमार देश की राजनीति के इतिहास का पलटूमार है. उसके चरित्र से आज हर कोई वाकिफ हो गया है. जिस शरद यादव ने नीतीश कुमार को आगे बढ़ाया, आज उनकी भी कद्र नहीं की जा रही है. मैं नहीं चाहता था कि महागठबंधन में इसको आगे किया जाये. लेकिन, मुलायम सिंह के कहने के बाद नीतीश को आगे किया गया. मैंने मुलायम सिंह से ही इस बात की घोषणा करने को कहा था. उस समय मैंने कहा कि था कि देश से दंगाई और फासिस्ट ताकतों को दूर रखने के लिए यदि जहर भी पीना पड़ेगा तो पी लेंगे. ‘नीतीश पर भरोसा करना मेरी सबसे बड़ी मूर्खता’ लालू ने कहा कि हम 1970-71 में छात्र संघ का सचिव बने. उस वक्त नीतीश कुमार का कहीं अता-पता नहीं था. हमें 1977 में जयप्रकाश नारायण ने छपरा से टिकट दिया था. उस समय तीन लाख वोट से सभी जाति के लोगों ने मुझे जिताया. उस समय नीतीश छात्र नेता थे और मैं छात्र नेता बना रहा था. नीतीश को आगे बढ़ाने में जितना मेरा हाथ है, वह हर कोई जानता है. लेकिन, सामंतों के

Read more

नीतीश ने खोले सारे राज

NDA के साथ सरकार बनाने के बाद आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहली बार मीडिया के सामने आए और इत्मीनान से सारे सवालों के जवाब दिए. सीएम ने महागठबंधन सरकार चलाने में हुई अपनी पीड़ा को भी बयां किया और वो सारे राज खोले कि कैसे उन्होंने लगातार राजद नेताओं के कड़वे बोल सहे और लालू के ट्वीट को भी बर्दाश्त किया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि मैंने महागठबंधन धर्म का पालन किया और सरकार चलाने की कोशिश की लेकिन जब पानी सिर से ऊपर चला गया तो मैंने अपने विधायकों से सलाह लेने के बाद इस्तीफा दे दिया. नीतीश कुमार ने कहा कि राजद की तरफ से मुझपर ही आरोप लगने शु्रू हो गए लोग मेरा ही मजाक उडा़ने लगे थे. नीतीश ने कहा कि एेसे में मेरे पास कोई चारा नहीं था. जब मेरे पास कोई विकल्प नहीं बचा तो मैंने यह फैसला लिया. सीएम ने इस दौरान वो सारी बातें भी बताईं कि कैसे इस्तीफा देने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने उन्हें फोन किया और NDA के साथ सरकार बनाने का न्योता दिया. सुनिए क्या कहा सीएम ने आज- सीएम ने कहा कि मैंने कभी किसी से इस्तीफा नहीं मांगा था. मैंने कई बार तेजस्वी से कहा कि स्थिति स्पष्ट करें, जनता के सामने स्पष्टीकरण जरूरी होता है. मेरी पार्टी भ्रष्टाचार के खिलाफ थी और यह पार्टी का फैसला था. आज मुख्यमंत्री पूरी तरह पीएम मोदी के रंग में रंगे दिखे. उन्होंने कहा कि फिलहाल देश में मोदी की टक्कर का कोई नेता नहीं है. नीतीश ने

Read more