दानापुर,मोकामा और फतुहा में फिर मैदान में बाहुबली

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में एक बार फिर बाहुबलियों का जलवा देखने को मिलेगा. विशेष रुप से राजधानी पटना की 3 विधानसभा सीटों पर लोगों की खास नजर है. पटना की फतुहा, दानापुर और मोकामा विधानसभा सीटों पर तीन बाहुबली फिर से ताल ठोक रहे हैं. इधर मोकामा विधानसभा सीट पर पिछले तीन टर्म से जीत रहे दबंग अनंत सिंह फिर मैैैदान में हैं जिन पर करीब 40 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं. इस बार राष्ट्रीय जनता दल ने अनंत सिंह को मोकामा से अपना उम्मीदवार बनाया है. इधर दानापुर विधानसभा सीट पर भी दिलचस्प मुकाबला होने वाला है. सोमवार देर रात रीतलाल राय को राजद ने टिकट देकर यहाँ के चुनाव को दिलचस्प बना दिया है. राजद से सिम्बल मिलने के बाद रीतलाल मंगलवार को अपना नामांकन भी करेंगे. मालूम हो कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद दानापुर से दो बार विधायक रह चुके हैं. वहीं राजद के डॉक्टर रामानन्द यादव फतुहा से नामांकन दाखिल करने निकल पड़े हैं . कभी पटना पश्चिम और दानापुर से विधायक रहे डॉ रामानन्द यादव अपने गृह क्षेत्र फतुहा से लगातार विजयीश्री का ताज पहनते आ रहे हैं. अब पटना से सटे दानापुर विधान सभा सीट काफी महत्वपूर्ण और हॉट सीट के रूप में सामने आयेगा. लगातार चार बार यहाँ से भाजपा की आशा सिन्हा विधायक हैंं, जो भाजपा का गढ़ बन चुका है. अब इस किले को तोड़ने में राजद उम्मीदवार रीतलाल कितना सफल होते हैं ,यह तो आने वाला समय ही बताएगा. लेकिन रीतलाल जेल से निकलने के बाद लगातार जन सम्पर्क चला

Read more

जदयू ने 11 विधायकों का काट दिया टिकट, दो मंत्रियों की सीट बदली

फर्स्ट फेज के नॉमिनेशन का आखिरी दिन 8 अक्टूबर है. इसके 1 दिन पहले जनता दल यूनाइटेड ने अपने प्रत्याशियों की पूरी सूची जारी की है. प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के हस्ताक्षर से जारी इस लिस्ट में बिहार विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के 115 प्रत्याशियों के नाम शामिल हैं. जेडीयू ने आज 115 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दिया ।जिसमें11 विधायकों को बेटिकट कर दिया है. उनके नाम इस प्रकार हैं. बाबूबरही से कपिलदेव कामत फुलपरास से गुलजार देवी बेनीपुर से सुनील कुमार चौधरी जीरादेई से रमेश सिंह कुशवाहा वैशाली से राजकिशोर सिंह सुलतानगंज से सुबोध राय परबत्ता से रामानंद प्रसाद सिंह अमरपुर से जनार्दन मांझी राजगीर से रवि ज्योति कुमार डुमरांव से ददन पहलवान एकमा से मनोरंजन सिंह उर्फ धूमल सिंह हालांकि पार्टी ने इनमें से कई के परिजनों को टिकट दे दिया है. परबत्ता से मौजूदा विधायक रामानंद प्रसाद सिंह के पुत्र संजीव कुमार को टिकट दिया गया है. वहीं, बाबूबरही से विधायक कपिलदेव कामत की बहू मीना कामत जेडीयू उम्मीदवार होंगी. एकमा से बाहुबली विधायक धूमल सिंह की पत्नी सीता देवी को टिकट दे दिया गया है. वहीं जेडीयू ने अपने तीन विधायकों की सीट बदल दी है.जिसमें घोषी से विधायक व पूर्व शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा को अब जहानाबाद सीट से उम्मीदवार बनाया गया है. वहीं, गौड़ाबराम से विधायक मदन सहनी को बहादुरपुर से टिकट दिया गया है. उधर टिकारी से विधायक अभय कुशवाहा को बेलागंज से उम्मीदवार बनाया गया है. टिकारी सीट जीतन राम मांझी के कोटे में गयी है. वहीं दल

Read more

बिहार में किस दिन कहां होंगे चुनाव

निर्वाचन आयोग ने बिहार में विधानसभा चुनाव की घोषणा कर दी है. कोरोना संक्रमण के मद्देनजर तमाम एहतियात बरतते हुए निर्वाचन आयोग ने चुनाव कराने की घोषणा की है. बिहार में 3 चरणों में चुनाव हो रहे हैं. पहला चरण 28 अक्टूबर को है. दूसरा 3 नवंबर को और तीसरा चरण 7 नवंबर को होगा. मतगणना 10 नवंबर को होगी. किस दिन किस विधानसभा क्षेत्र में चुनाव – पहले चरण में भागलपुर, कटिहार, बांका, मुंगेर, लखीसराय शेखपुरा, जमुई, खगड़िया, बेगूसराय पूर्णिया, अररिया, किशनगंज जिलों में 28 अक्टूबर को चुनाव होंगे दूसरे चरण में तीन नवंबर को दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर सहरसा, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी शिवहर पश्चिम चंपारण पूर्वी चंपारण वैशाली, सुपौल मधेपुरा में चुनाव होंगे. तीसरे चरण में पटना, जहानाबाद,अरवल,नवादा,औरंगाबाद, कैमूर, रोहतास, बक्सर, गया,नवादा, भोजपुर, नालंदा गोपालगंज और सिवान में सात नवंबर को चुनाव होंगे. pncb

Read more

बिहार विधान सभा चुनाव की घोषणा

चुनाव आयोग ने बिहार में विधानसभा चुनाव की घोषणा कर दी है. नए सुरक्षा मानकों के तहत होंगे चुनावपोलिंग बूथ पर मतदाताओं की संख्या घटाई गई एक बूथ पर 1000 मतदाताओं मेंचुनाव आयोग के मुताबिक करोना काल में चुनाव के लिए 700000 सैनिटाइजर 600000 पीपीटी का होगा इस्तेमालचुनाव प्रचार में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जरूरीचुनाव आयोग के मुताबिक 80 वर्ष या उससे ऊपर की उम्र वाले लोग पोस्टल बैलट से वोट डाल सकेंगेइस बार होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव सुबह 7:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक पूरा जो क्वारंटाइन में है वह सबसे बाद में वोट डालेंगे 5 से ज्यादा लोग घर जाकर प्रचार नहीं करेंगेउम्मीदवारों के साथ दो और लोग रह सकते हैंनामांकन में 2 से ज्यादा वाहन नहीं होंगेकोरोना मरीज वोट डाल सकेंगेनामांकन ऑनलाइन भी भर सकेंगेअंतिम वक्त में कोना मरीज कर सकेंगे मतदानचुनाव प्रचार सिर्फ वर्चुअल होगासोशल डिस्टेंसिंग के साथ होगा प्रचार :CCE For Live click here- हर बूथ एक हजार ही मतदाता होंगे6 लाख ppe किट का होगा इस्तेमाल 7 फरवरी 2020 को मतदाता सूची का इलाज46 लाख मस्क होगा इस्तेमाल7 लाख हैंड सैनिटाइजर का होगा इस्तेमालबिहार में कुल मतदाताओं की संख्या 7 करोड़ 79लाखबिहार में महिला वोटर तीन करोड़ 39 लाखपुरुष वोटर 3 करोड़ 70 लाखएक करोड़ 89 लाख बैलट ईवीएम होंगे बिहार में 3 चरणों में होगा चुनाव . पहला चरण 28 oct- 71 सीट 16 जिले दूसरा चरण 3 Nov- 94 सीटों 17 जिले तीसरा चरण 7Nov- 78 सीट 15 जिलेपटना में पहले चरण में होगा चुनाव. 10 नवंबर को आएंगे नतीजे

Read more

हो गया फैसला, तय समय पर ही होंगे चुनाव

चुनाव को लेकर लंबे समय से कयास लगाए जा रहे थे. खासकर कोरोनावायरस संक्रमण की स्थिति को देखते हुए लोगों को आशंका थी कि चुनाव टल सकते हैं. लेकिन आखिरकार शुक्रवार को इस मामले में दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव पर रोक लगाने से इंकार कर दिया और याचिका खारिज कर दी. इससे पहले निर्वाचन आयोग भी यह संकेत दे चुका है कि बिहार में विधानसभा चुनाव के समय पर होंगे. ऐसे में बिहार की विपक्षी पार्टियों को बड़ा झटका लगा है. बिहार में विधानसभा चुनाव अक्टूबर-नवंबर में संभावित हैंं. इस बात की चर्चा जोरों पर है कि बिहार में इस बार चुनाव दो या तीन चरण में कराए जा सकते हैं. इस मामले ने राष्ट्रीय जनता दल ने कहा है कि हमें चुनाव के लिए तैयार हैं लेकिन चुनाव आयोग को चाहिए जो ऐसी व्यवस्था करें कि ज्यादा से ज्यादा लोग चुनाव में वोटिंग कर सकें. वहीं एनडीए नेताओं ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि चुनाव आयोग हर संभव तैयारी कर रहा है और हम चुनाव आयोग के हर फैसले के साथ हैं. राजेश तिवारी

Read more

BJP ने बिहार में खेल दिया तुरुप का पत्ता

बिहार विधानसभा चुनाव के इस महत्वपूर्ण वर्ष में बीजेपी ने अपना ट्रंप कार्ड चल दिया है. बिहार और महाराष्ट्र के बीच सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले की जांच को लेकर जबरदस्त सियासी और कानूनी उठापटक चल रही है. इस बीच चुनावी वर्ष में बीजेपी ने बिहार में तुरुप का पत्ता चल दिया है. बिहार बीजेपी की कमान महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को सौंपी गई है. फडणवीस और भूपेंद्र यादव मिलकर बिहार में बीजेपी की नैया पार लगाएंगे. महाराष्ट्र के बड़े नेता को बिहार चुनाव में जिम्मेदारी देने के पीछे सुशांत सिंह राजपूत का मामला माना जा रहा है. देवेंद्र फडणवीस के लिए यह बड़ी जिम्मेदारी है क्योंकि अब तक वे सिर्फ महाराष्ट्र की राजनीति तक सिमटे रहे हैं. यह पहली बार है जब उन्हें महाराष्ट्र के बाहर किसी राज्य का प्रभार दिया गया है . PNCB

Read more