STET रिजल्ट के प्रकाशन पर लग गई रोक

बिहार बोर्ड के रवैये से फंसा रिजल्ट बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के रवैया के कारण शिक्षक पात्रता परीक्षा के अभ्यर्थियों की परेशानी बढ़ती नजर आ रही है. पटना हाई कोर्ट में आज इस मामले की सुनवाई के दौरान यह बात सामने आई कि हाईकोर्ट के नोटिस का जवाब अब तक बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने नहीं दिया है और परीक्षा का आंसर की भी जारी कर दिया. मामले की सुनवाई करते हुए जस्टिस ए अमानुल्लाह ने 22 मई तक रिजल्ट के प्रकाशन पर रोक लगा दी है. दरअसल यह पूरा मामला प्रश्न पत्र लीक से जुड़ा हुआ है. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने दूसरी एस टी ई टी परीक्षा 28 जनवरी 2020 को ली थी. परीक्षा में प्रश्नपत्र लीक को लेकर परीक्षार्थियों ने सवाल खड़े किए थे. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने प्रश्न पत्र लीक का मामला होने से इनकार किया जिसके बाद अभ्यर्थियों ने पटना हाईकोर्ट में मामला दायर किया. नीरज कुमार की याचिका पर जस्टिस ए अमानुल्लाह ने सुनवाई करते हुए अब STET के रिजल्ट के प्रकाशन पर 22 मई तक रोक लगा दी है. साथ ही यह भी कहा है कि जब तक इस मामले का निपटारा नहीं होता तब तक कोर्ट की अनुमति के बिना रिजल्ट का प्रकाशन बिहार विद्यालय परीक्षा समिति नहीं कर सकती. राजेश तिवारी

Read more

कोरोना से पूर्व जज की मौत

छतीसगढ़ हाई कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश और लोकपाल सदस्य न्यायमूर्ति अजय कुमार त्रिपाठी के निधन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरा दुख व्यक्त किया है. जानकारी के अनुसार उन्हें कोरोना संक्रमित होने के कारण 2 अप्रैल से दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 62 वर्षीय पटना हाईकोर्ट के पूर्व जज को संक्रमण के दरमियान जब दिल्ली एम्स लाया गया तब उनकी हालत काफी नाजुक थी और उन्हें डॉक्टरों ने एम्स में वेंटिलेटर पर रखा था. डॉक्टरों की कोशिश के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका. रिटायर जस्टिस की बेटी और रसोइया को भी कोरोना संक्रमण था हालांकि फिलहाल वे दोनों स्वस्थ हैं.

Read more

पटना हाइकोर्ट के चीफ जस्टिस CJ एपी शाही का तबादला, उनकी जगह लेंगे संजय करोल

पटना/नई दिल्ली (ब्यूरो रिपोर्ट) | बृहस्पतिवार को सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम ने देश के विभिन्न हाईकोर्ट्स के जजों के तबादलों की अनुशंसा की. फिलहाल स्थानांतरण संबंधी सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम द्वारा की गई अनुशंसा पर केंद्र सरकार की मुहर लगनी अभी बाकी है.लंबे समय तक चर्चा में रहे पटना हाइकोर्ट के चीफ जस्टिस एपी शाही (AP Shahi) का तबादला मद्रास हाइकोर्ट (Madras High Court) कर दिया गया है जहां वे चीफ जस्टिस होंगे. वहीं त्रिपुरा हाइकोर्ट (Tripura High Court) के चीफ जस्टिस संजय करोल (Sanjay Karol) का तबादला पटना हाइकोर्ट करते हुए उन्हें यहां का नया चीफ जस्टिस बनाया गया है. सेवानिवृत आइएएस केपी रमैया के मामले को लेकर विवादों में आए पटना हाई कोर्ट के जस्टिस राकेश कुमार का तबादला आंध्र प्रदेश हाइकोर्ट कर गया है. दूसरी ओर पटना हाईकोर्ट से स्थानांतरित होकर पंजाब एवं हरियाणा हाइकोर्ट गए न्यायाधीश डा. रवि रंजन को सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम ने पदोन्नति देते हुए झारखण्ड हाइकोर्ट का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया है. वे 19 दिसंबर 2022 को सेवानिवृत होंगे. विदित है, 2008 में रवि रंजन पटना हाइकोर्ट में वकील से जज बने थे और पिछले साल 23 नवंबर को उनका स्थानांतरण पंजाब और हरियाणा हाइकोर्ट कर दिया गया था. पटना हाइकोर्ट से स्थानांतरित होकर पंजाब एवं हरियाणा हाइकोर्ट गए न्यायाधीश डा. रवि रंजन को झारखण्ड हाईकोर्ट का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है.

Read more