नशाबन्दी राष्ट्रहित में अहम कदम – पल्लवी रंजन

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) । “नशा नाश का कारण है. यह एक ऐसा कोढ़ है जो आदमी को परिवार, समाज, व देश – दुनिया से दूर करता है, नशे में चूर व्यक्ति सभ्य परिवार के लिए बदनुमा दाग होता है. आदमी अपने दिव्य रूप को छोड़ पशुत्व की ओर प्रयाण कर जाता है. नशाबंदी हमारे देश के हित में अहम कदम साबित हो सकता है, अगर इसे पूरे राष्ट्र में लागू किया जाये.”
ये बातें मद्यनिषेध दिवस पर सामाजिक संस्था मृदुराज फाउंडेशन द्वारा आयोजित जन-जागरूकता कार्यक्रम में संस्था की सचिव व जदयू समाज सुधार वाहिनी की प्रदेश महासचिव पल्लवी रंजन ने कही.
पल्लवी ने कहा कि बिहार की सरकार ने शराबबंदी कर जो इतिहास रचा है, वह अतुलनीय है, द्वेष और ईर्ष्या की राजनीति छोड़ सभी राज्यों को नशाबंदी की दिशा में पहल करनी चाहिए.
शराबबंदी का फायदा सड़क दुर्घटना एवं अपराध नियंत्रण में भी नज़र आता है इसलिए हर जान-मानस को यह प्रण लेने की जरूरत है कि अपने आसपास जो लोग नशा करते हैं उन्हें रोकने की हर संभव कोशिश करेंगे और तभी शराबबंदी के वास्तविक लाभ हम प्राप्त कर सकते हैं.
जन-जागरूकता कार्यक्रम के दौरान संस्था से जुड़ी महिलाओं एवं बच्चों ने घर -घर जाकर लोगों को शराबबंदी के फायदे बताये, कार्यक्रम में अपूर्व श्रीवास्तव, आरती सिन्हा, कृष्णा वर्मा, मनीष गुप्ता, आर्यन श्रीवास्तव, फूल कुमारी , सुधीर कुमार सिंह, कमलेश कुमार, संजय कुमार, पिंकू देवी, रंजीत प्रसाद, श्रवण राय, अनुराधा सिन्हा, नंदिनी कुमारी, नेहा कुमारी, निशा सिन्हा, आदित्य नंदन, आशीष कुमार, गौरव कुमार, आयुष सिन्हा, नन्दिता कुमारी सहित सैकड़ों स्थानीय लोगों एवं बच्चों ने हिस्सा लिया.