बिहार में अब पारिवारिक बंटवारे में जमीन की रजिस्ट्री फ्री

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोंक संवाद कार्यक्रम में ये ऐलान किया कि बिहार में अब पारिवारिक बटवारे की रजिस्ट्री मुफ्त होंगी. आशा है कि मुख्यमंत्री की इस घोषणा से पारिवारिक विवाद में कमी आयेगी और छोटे-छोटे झगड़ों से निबटारा मिलेगा.
दरअसल लोक संवाद कार्यक्रम में नीतीश कुमार के समक्ष आम जनता ने विभिन्न विषयों पर अपनी पीड़ा को सामने रखा. सुनवाई के दौरान परिवार में जमीन बंटवारे को लेकर आये दिने होने वाली विवाद की बातें भी सामने आयीं. मुख्यमंत्री को लोगों ने बताया कि पारिवारिक बंटवारे में जमीन की रजिस्ट्री नहीं कराये जाने के कारण भाइयों के बीच विवाद बढ़ जाता है. रजिस्ट्री नहीं कराए जाने के पीछे रजिस्ट्री फीस में मोटी रकम देय होने की बात कही गयी. फीस इलाके के अनुसार जमीन के वैल्यूएशन पर आधारित होता है.

लोगों ने लोक संवाद कार्यक्रम में पारिवारिक बटवारे में होने सम्पति के बटवारे को लेकर होनेवाले विवाद का समाधान सुझाया, जिसे मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया. उन्होंने सिर्फ एक रुपये या पांच रुपये की रजिस्ट्री टोकन मनी के रूप में लेने की सलाह दी. इस तरह भाई-भाई के बीच बंटवारा आसान हो जायेगा और विवाद कम होंगे.




मुख्यमंत्री के इस फैसले का लोगों ने स्वागत किया. उल्लेखनीय है कि राज्य में 80 प्रतिशत समस्या जमीन विवाद से जुड़ा हुआ है. बटवारे की जमीन की रजिस्ट्री मु्फ्त में करने का मुख्यमंत्री का लिया गया है फैसला वास्तव में एक सामाजिक क्रांति है, जिसे सरकार ने ​लागू करने का निर्णय लिया है.