सरस मेला का औपचारिक समापन, 22 तक घूम सकते हैं लोग

सरस मेला के समापन की औपचारिकता पूरी कर ली गई है लेकिन मेला के प्रति लोगों के बढ़ते हुए आकर्षण को देखते हुए सरस मेला का आयोजन एक दिन के लिए बढ़ा दिया गया है l अब यह मेला 22 फ़रवरी तक चलेगा .

  




7 से 21 फ़रवरी तक जीविका , ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा 7 से 21 फ़रवरी तक आयोजित सरस मेला के समापन समारोह में शिरकत करने आये मुख्य अतिथि शिशिर कुमार सिन्हा , विकास आयुक्त , बिहार ने इसकी घोषणा की . इस मौके पर विकास आयुक्त महोदय ने कहा कि सरस मेला का आयोजन बिहार के लिए एक बड़ा आयोजन है और ग्रामीण उत्पादों को बढ़ावा देने के साथ- साथ उन्हें बाज़ार उपलब्ध करने का एक बड़ा जरिया . इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के तौर मौजूद अमृत लाल मीणा , प्रधान सचिव , भवन निर्माण विभाग ने कहा कि जीविका आज बिहार का ब्रांड है और इसके द्वारा आयोजित सरस मेला को और व्यापक रूप देना होगा . इससे पूर्व आगत अतिथियों का स्वागत  जीविका के CEO बालामुरुगन डी ने किया.

समापन समारोह के दौरान मेले के प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र देकर आगत अतिथियों ने सम्मानित किया. जीविका के प्रशासी पदाधिकारी राजीव कुमार सिंह ने कहा कि सरस मेला के आयोजन को और ऊँचाइयों तक ले जायेंगे . बहरहाल सरस मेला के प्रति लोगों के आकर्षण को देखते हुए एक दिन की अवधि बढ़ गई है . 7 फ़रवरी से लेकर 21 फ़रवरी तक चले सरस मेला में 21 फ़रवरी तक लगभग 4 करोड़ रुपये की खरीद- बिक्री हुई है . जो पिछले साल की अपेक्षा 1 करोड़ रुपये ज्यादा है .