‘सेवा शर्त जल्द लागू करे सरकार’

बुधवार को पटना में सेवा शर्त कमिटी के समक्ष नियोजित शिक्षक महासंघ की ओर से प्रदेश अध्यक्ष शिव नारायण पाल एवं प्रदेश संयोजक प्रवीण कुमार ने लिखित प्रतिवेदन के साथ विभिन्न बिन्दुओं को रखा. जिसमें पुराने वेतनमान एवं पुराने सेवा शर्त की मांग की. संपूर्ण सेवाकाल में एक बार अंतरजिला स्थानांतरण. शारीरिक प्रशिक्षित शिक्षकों को भी प्रधानाध्यपक के पद पर प्रोन्नति, सेवाकाल में मृत शिक्षकों के आश्रितों को बगैर शर्त योग्यताधारित पदों पर बहाल किया जाय.


इन्होंने इस बात को प्रमुखता से रखते हुए कहा कि बिहार सरकार शिक्षकों की नियुक्ति, योग्यता निर्धारण इत्यादि”शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009″एवं एनसीटीई के मानकों पर करती है लेकिन शिक्षकों के सेवा शर्त एवं वेतन निर्धारण में पूर्वाग्रह से ग्रसित,पक्षपातपूर्ण रवैया अपना रही है.
अतः इन तथ्यों एवं माननीय सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा दिए गए समान काम समान वेतन के न्याय निर्णय को सरकार अबिलम्ब लागू करें. इस बात की जानकारी नियोजित शिक्षक महासंघ के प्रदेश मिडिया प्रभारी गौरी शंकर ने दी.