और इस बार… कट गई नई नवेली दुल्हन की चोटी

चोटी कटने की घटना पर मचे कोहराम में जहाँ चोटी कटवा अभीतक किसी भी जगह हाथ नहीं आया है, वही तमाम कोशिशों के बाद इस अफवाह की आंधी पर विराम नहीं लग रहा है. भले ही किसी के लिए अंधविश्वास हो या अफवाह पर हकीकत ये है कि चोटी तो कट ही रही है भाई. इसी कड़ी में शनिवार को भोजपुर जिले के गड़हनी प्रखंड के बँगवा पंचायत के नहसी गाँव मे भी एक महिला की चोटी कट गई.




चोटी कटने की ख़बर आग की तरह फैल गयी. नहसी गांव में पीड़ित महिला को देखने के लिए लोग इक्कठे हो गए. सामाजिक कार्यकर्ता, स्थानीय थाना दल-बल के साथ पहुचे. मामले की जाँच करते हुए लोगों को धैर्य रखने की बात कही गयी.                

अमरजीत राम की पत्नी सविता देवी की मानें तो दोपहर तकरीबन 2 बजे वो घर में बैठकर टीवी देख रही थी तभी अचानक तेज हवा के साथ शोरगुल सुनाई दिया. जिसे सुनकर वो कमरे की खिड़की बंद करने गयी. जैसे ही खिड़की बंद की उनका सर भारी हो गया और सर में काफी तेज दर्द होने लगा जिससे वो अपने कमरे में पलंग पर लेट गयी. थोड़ी ही देर में आँख लग गयी या यों कहें कि बेहोश हो गयी. तकरीबन 10-15 मिनट बाद जब उनकी आँखें खुली तो उनका चोटी कटा हुआ था. घर के लोगों को इसकी भनक लगते ही अजीब सा डरावना माहौल बन गया. पीड़ित सविता को सिर में लगातार चक्कर आ रहा है जिससे उनको आनन-फानन में आरा के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

3 दिनों के अंदर 7वीं घटना

भोजपुर में 3 दिनों के भीतर यह 7वीं घटना है. इसके पहले बिहियाँ प्रखंड के अमराई नवादा, झौवा-डुमरिया, तरारी प्रखंड के सेन्दहा, मुफ्फसिल थांना के भुसौला में चोटी कटने की घटना घटी है. अब यह गड़हनी में घटी है. अफवाहों की यह आँधी ऐसी है कि शहर और आसपास के गाँवों में भी प्रतिदिन देर रात तक दस्तक दे रही है. कई जगह जाने के बाद पता चलता है कि उक्त बातें अफवाह है.

कोईलवर में भी बच्ची की चोटी कटी

कोईलवर थाना अंतर्गत राजापुर पंचायत के पचरुखिया गांव में एक चौदह वर्षीय बच्ची की चोटी काटे जाने का मामला सामने आया है. जानकारी के मुताबिक कोईलवर थाना क्षेत्र के राजापुर के पचरुखिया निवासी रमेश राय की तेरह वर्षीय पुत्री नन्दनी रात नौ बजे घर में परिजनों के साथ खाट पर बैठ बातें कर रही थी कि अचानक उसकी चोटी कट गयी और नन्दनी बेहोश हो गिर पड़ी. बच्ची की कटी चोटी देख घर में अफरातफरी मच गई. परिवार के लोग नन्दनी को कटी चोटी सहित सदर अस्पताल आरा लेकर  आए, जहाँ उसका इलाज चल रहा है.

पटना नाउ की अपील
patnanow की आपसे यह आग्रह है कि अफवाहों पर ध्यान न दें. यह कोई देवी प्रकोप या तंत्र-मंत्र का असर नहीं बल्कि कुछ शरारती तत्वों का कार्य हो सकता है. पुलिस इसकी जांच में लगी है और आप ऐसी घटनाओं की जानकारी पुलिस को तुरंत दें और कोई संदिग्ध लगे तो उसके बारे में भी बताएं.

 

आरा से ओपी पांडे