कुवंर सिह महासेतु पर भारी वाहनों की हुई “नो-एंट्री”

भारी वाहन वाले हो जाएं सावधान
कुवंर सिह महासेतु पर भारी वाहनों की हुई “नो-एंट्री”

बडहरा, 20 फरवरी. भारी वाहन वाले अगर आरा-छपरा पुल से गुजरने की सोच रहे हैं तो सावधन हो जाइए क्योंकि आपकी गाड़ी नो-एंट्री में फंस सकती है. यह खबर भारी वाहनों के लिए तो अच्छी नही है पर उन छात्रों के लिए जरूर अच्छी है जो कल से मैट्रिक की परीक्षा में शामिल होने वाले हैं और इस पुल या इस रास्ते से गुजरने वाले हों, क्योकि उनको अब जाम में फंसने से निजात मिलेगा जिससे वो समय पर अपने पारियों में परीक्षा दूर से आकर भी देंगे.




कोईलवर-छपरा मुख्यपथ पर स्थित वीर कुवंर सिह महासेतु से गुजरने वाले सभी भारी वाहनो के आवागमन पर जिला प्रशासन ने रोक लगा दिया है. पुल से आने-जाने के लिए बुधवार, 21 फरवरी से नो एंट्री प्रभावी हो जाएगा. नो एंट्री सुबह 6 बजे से रात्रि 9 बजे तक प्रभावी रहेगा. नो एंट्री का यह निर्णय जिला प्रशासन ने बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के 21 फरवरी को प्रारम्भ हो रहे परीक्षा को देखते हुए लिया है. बबुरा बजार के समीप अंचलाधिकारी बड़हरा और ए.एस.आई. उमेश सिह ने दल-बल के साथ मंगलवार के देर शाम तक बेरियर भी लगवा दिया है. अंचलाधिकरी सुमित कुमार सिंह ने बताया कि भोजपुर और छपरा जिला प्रशासन के निर्देश पर भारी वाहनो के आवागमन पर नो एंट्री लगाई गयी है. यह रोक मैट्रीक के परीक्षा और कोईलवर पुल मे भीषण जाम को देखते हुए लगाया गया है. भारी वाहनों के यह नो एंट्री 21 फरवरी से अगले आदेश तक जारी रहेगा. बताते चलें कि अभी 2-3 दिन पहले महासेतु पर भारी जाम लगा था, जिसके कारण कई घण्टो तक लोग परेशान हुए थे. बुधवार से प्रारम्भ होने वाले मैट्रिक परीक्षा के लिए विभिन्न जगहों से अपने परीक्षा सेंटर पर जाने वाले मैट्रिक परीक्षार्थी अगर जाम में फंसते हैं तो उनके कैरियर को धक्का लग सकता है. विद्यार्थी हित और जाम पर रोक के लिए यह निर्णय लिया गया है

बड़हरा से राकेश कुमार तिवारी की रिपोर्ट