क्या आपने कभी देखा है ATM का श्राद्धकर्म

कांग्रेस की जिला इकाई की क्रिएटिव और दमदार पहल

आरा, 19 अप्रैल. नोटबन्दी के बाद देश लगातार कैश की किल्लत से परेशान है. लेकिन पिछले 1 हफ्ते से बिहार समेत चार राज्यो में कैश की विशेष मार झेल रही जनता ने इसके खिलाफ याब आवाज उठाने का मन बना लिया है. विपक्षी पार्टियां रुपये की कमी पर सरकार को घेरने में कोई कोई कसर फिलहाल छोड़ना नहीं चाह रही है. भोजपुर में भी लगभग 60 ATM के बावजूद ग्राहकों को पैसे नही मिल पा रहे हैं जबकि बैंकों के अधिकारी ATM में थोड़े ही सही पर पैसे होने का दावा ठोकते हैं लेकिन मीडिया के सामने कोई बोलना नही चाहता है बल्कि सारा ठीकरा RBI के सर मढ़ रहे हैं. साथ ही यह भी कहते हैं कि आपलोग तो मीडिया वाले हैं खुद ही RBI से पूछ लीजिये. मीडिया से बात करने में बैंकों की यह दशा है तो आम आदमी की क्या फजीहत होती होगी इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है.





भोजपुर में कैश की किल्लत का दंश झेलते हुए जनता के लिए कांग्रेस की जिला इकाई ने केंद्र सरकार को कैश की किल्लत का जिम्मेवार ठहराते हुए ATM का श्राद्ध कर्म आज सम्पन्न किया. कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता हरिजी के हाता स्थिति ATM प्वाइंट पर पहुंचे और फूल माला चढ़ाकर ATM का श्राद्ध कर्म किया. इस दौरान नेताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारे लगाए. ATM श्राद्धकर्म के इस आंदोलन को सोशल मीडिया पर बहुत सराहा जा रहा है. व्यंगात्मक लहजे में तो कई लोग ATM के श्राद्ध कर्म के बाद ब्रह्मभोज भी मांग रहे है.

कांग्रेसी नेताओं ने प्रधानमंत्री, वित्त मंत्री अरुण जेटला और बीजेपी सरकार के खिलाफ आक्रोशपूर्ण नारे भी लगाए. पैसे की घोर कमी पर कांग्रस के नेताओं ने कहा कि जनता सरकार के नोटबंदी के समय से ही परेशान हैं.

ये सरकार की नाकामयाबी है. जब भी शादी विवाह और पर्व का समय आता है उसी वक्त कैश की किल्लत पूरे देश में हो जाती है. सरकार की मनसा जनता को परेशान करने की ही होती है.अब देखना यह होगा कि कांग्रेस की यह आंदोलन क्या ATM में कैश की कमी को दूर करने में कामयाब होता है या फिर यूँ ही बैंकों का निकम्मापन कायम रहता है जो अब पैसे बस लेना जानते हैं देना नही…

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट