मौसम का लुढ़का पारा, कोहरे में सिमटा शाहाबाद

मौसम का लुढ़का पारा, कोहरे में सिमटा शाहाबाद




25 मीटर तक ही हुई विसिबलिटी

आरा, 29 दिसम्बर. दिसम्बर का महीना 2 दिनो में खत्म होने वाला है लेकिन ठंड ने जैसे मानो लोगों से आंख मिचौली का मन बनाया था. सभी यही कयास लगाए जा रहे थे कि इस बार लगता है ठंड आएगी ही नही. बीती रात मौसम ने लोगों के इस बात को जैसे सुन लिया और साल बीतने से पूर्व ही मौसम में ऐसा बदलाव आया कि सुबह होते ही सभी की आंखे आश्चर्य से चकित हो गयी. वैसे देखें तो मौसम में बदलाव का अनुमान दिन में हवाओं के तेज रफ्तार ने दे दिया था. जो रात होते-होते अपने परवान चढ़ गयीं और कुहासों ने पूरे प्रदेश को अपने धुंधले चादर ढक लिया. पटना नाउ ने बीती रात से लेकर सुबह तक पूरे शाहाबाद का भ्रमण किया. आरा से लेकर भभुआ तक धुंध और रूखी हवाओं के साथ कोहरे के घने रूप ने कहीं कहीं बारिश जैसी फुहारें भी वातावरण में बना रखी थी. मौसम विशेषज्ञों के अनुसार आगे आने वाले महीने भर ऐसी ही ठंड रहेगी. साथ ही बारिश की भी उम्मीदें हैं.


अचानक बदले इस मौसम के रूप से बच्चे और नवयुवको को सुबह मस्ती करते देखा गया वही बुजुर्गों ने इसके रूप से हाय तौबा किया. वैसे हक्कीकत देखी जाय तो बीती रात से ऐसे मौसम में सबसे ज्यादा दिक्कत गाड़ी चालको को हो रही है. सड़कों पर गाड़ियां रेंग रही हैं. अगर मौसम आगे भी ऐसा रहा तो सबसे ज्यादा दिक्कत रेल से सफर करने वालों को हो सकती है. आरा, उदवन्तनगर, गड़हनी, पीरो, हसन बाजार, बिक्रमगंज, सासाराम, डेहरी-ओन-सोन, कुदरा,तिलौथूऔर भभुआ सभी जगह मौसम ने अपने कोहरे के चादर को फैला रखा है. यह कोहरा 10 बजे के बाद कम होना शुरू हुआ है. कोहरे के घनी परतों की वजह से विजिबिलिटी 25 मीटर तक ही है. गाड़ियों पर यह विजिबिलिटी और का हो गयी है.

पटना नाउ के लिए ओ पी पांडेय और सत्य प्रकाश सिंह की रिपोर्ट