किसने उठाया छात्र हित में पढ़ाई और भ्रष्टाचार का मुद्दा?

 

पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हाॅल में 14 जून को छात्र संवाद सह बिहार की राजनिती में छात्र नेताओं की भूमिका विषय पर सेमिनार का आयोजन किया गया था जिसमे वीर कुँवर सिंह विश्वविद्यालय आरा से छात्र प्रतिनिधि और जदयू नेता अंशु सिंह सिक्रीवाल ने बिहार के राज्यपाल सह कुलाधिपति सत्यपाल मलिक को शाहाबाद की क्रांतिकारी भूमि के तरफ से वीर कुँवर सिंह का मोमेंटम देकर स्वागत किया.





साथ में मंचासीन बिहार के उपमुख्यमंत्री माननीय सुशील मोदी, पूर्व छात्र नेता सह कांग्रेस बिहार इकाई के पूर्व अध्यक्ष अनिल शर्मा, पटना विश्वविश्वविद्यालय के कुलपति रासबिहारी सिंह सहित दर्जनों शिक्षाविद मौजूद थे.
महामहिम कुलाधिपति सत्यपाल मलिक को जैसे ही वीर कुंवर सिंह विश्विद्यालय छात्र संघ के तरफ से अंशु ने मेमोंटो दिया वैसे ही पूरा सभगार तालियों से गूंज उठा साथ ही आरा से कार्यक्रम में भाग ले रहे छात्रों ने वीर कुंवर सिंह अमर रहे के नारे भी लगाए.


उक्त अवसर पर छात्र नेता अंशु सिंह सिक्रीवाल ने अपने सम्बोधन में महामहिम कुलाधिपति सत्यपाल मलिक और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी से विश्विद्यालयो में पढ़ाई की लचर व्यवस्था और भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि छात्र संघ चुनाव होने के बावजूद भी अब तक छात्र नेताओं को उनका अधिकार महाविद्यालयों और विश्विद्यालय द्वारा नही दिया गया है. इससे सभी नवनिर्वाचित छात्र नेता में आक्रोश है. इस मौके पर बिहार के सभी विश्विद्यालय से निर्वाचित छात्र नेता , शिक्षाविद और पूर्व छात्र नेताओ ने भाग लिया.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट